एनसीआर में लॉकडाउन के हालात

0
94

नई दिल्ली/नोएडा। आज से शुरू हुए साप्ताहिक कफ्र्यू के साथ ही राष्टï्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) में सम्पूर्ण लॉकडाउन के हालात बन रहे है। इस बीच पिछले 24 घंटे में देश भर में कोरोना के 2,34,692 मरीज मिले है। इस दौरान 1341 मरीजों की मौत हो गयी है।
मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल ने उत्तर प्रदेश हरियाणा व राजस्थान के मुख्यमंत्रियों से सम्पर्क करके पूरे एनसीआर में संयुक्त सहयोग समिति गठित करने व एनसीआर में लॉकडाउन लगाने पर विचार करने की बात कही है।
 दिल्ली में पहले वीकेंड कफ्र्यू का पहला दिन है। वीकेंड कफ्र्यू आने वाले दिनों में भी इसी तरह ही जारी रहेगा जब तक कि कोई नया आदेश नहीं आ जाता है कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने एक रिव्यू मीटिंग बुलाई है। इस मीटिंग में कोविड-19 मैनेजमेंट के लिए नोडल मंत्री मनीष सिसोदिया, हेल्थ मिनिस्टर सत्येंद्र जैन और अन्य महत्वपूर्ण अधिकारी शामिल होने वाले।
ऐसी भी संभावनाएं जताई जा रही हैं कि अगर वीकेंड कफ्र्यू से भी कोरोना मामले नहीं घटते हैं तो दिल्ली में जल्द ही संपूर्ण लॉकडाउन लगाया जा सकता है। इससे पहले दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दो बातें प्रमुख तौर पर कहीं हैं एक ये कि लॉकडाउन समाधान नहीं है, दूसरी ये कि अगर मामले रुकते नहीं हैं तो लॉकडाउन पर विचार किया जा सकता
है। जिस तरह दिल्ली में अचानक से इतनी तेजी से मामले बढ़ रहे हैं उस हिसाब से लग रहा है कि दिल्ली सरकार को दूसरे ऑप्शन पर सोचने में अधिक समय नहीं लगेगा। राजधानी दिल्ली में पिछले 24 घंटे में कोरोना के 19,486 नए मामले सामने आए हैं। वहीं 141 लोगों की मौत कोरोना के कारण हो गई। बेकाबू हो चुके कोरोना वायरस ने सरकार की नींद उड़ा रखी है तो वहीं नागरिकों में भी इसका भयंकर डर बना हुआ है। वीकेंड लॉकडाउन से पहले ही दिल्ली पुलिस के जवान सडक़ों पर मुस्तैद नजर आए और दस बजते ही पुलिस एक्शन में आ गयी और सडक़ों पर सन्नाटा छा गया।
वीकेंड कफ्र्यू एकदम सभी चीजों पर प्रतिबंध नहीं लगाता, आवश्यक वस्तुओं, सेवाओं के आवागमन के लिए वीकेंड कफ्र्यू में भी छूट दी गई है, लेकिन इस दौरान दिल्ली में मॉल, जिम, स्पा, ऑडिटोरियम, असेंबली हॉल, एंटरटेनमेंट पार्क और अन्य ऐसी जगहें जो कोरोना महामारी जैसी स्थिति में बहुत जरूरी नहीं हैं वे पूरी तरह से बंद रहेंगी। वहीं थियेटरों को 30 फीसदी क्षमता के साथ चलने की अनुमति दी गई है। दूसरी तरफ रेस्टोरेंट में बैठकर खाने पर रोक लगाई है हालांकि होम डिलीवरी पर किसी भी तरह का प्रतिबंध नहीं है। खास बात ये है कि इस दौरान बस, ऑटो, टैक्सी, मेट्रो आदि सार्वजनिक वाहनों पर रोक नहीं लगाई गई है। लेकिन इनमें उन्हें ही जाने की अनुमति रहेगी जिन्हें नाईट कफ्र्यू के दौरान छूट मिली हुई है।
सीएम उद्धव ने लगाया पीएम मोदी को फोन
महाराष्ट्र (एजेंसी)। कोरोना से गहराते संकट के बीच सीएम उद्धव ठाकरे ने पीएम मोदी से फोन पर बातचीत की है। उन्होंने महाराष्ट्र में कोरोना से व्याप्त हालात के बीच ऑक्सीजन की किल्लत के बारे में पीएम मोदी को जानकारी दी।
 उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र में 1200 से 1500 मेट्रिक टन ऑक्सीजन की जरूरत है। स्थिति आपात है और ऐसे में एयरलिफ्ट करके ऑक्सीजन मुहैया कराया जाए।