ट्रांसपोर्टर से मांगी रंगदारी

0
36

वसूली करते हुए दो को पकड़ा

नोएडा। जेल में बंद कुख्यात गैंगस्टर सुंदर भाटी के भतीजे अनिल भाटी ने ग्रेटर नोएडा में रहने वाले एक ट्रांसपोर्टर से 45 लाख रुपए की रंगदारी मांगी है। इस मामले में ट्रांसपोर्टर ने थाना सूरजपुर पुलिस में रिपोर्ट दर्ज कराई है। पुलिस ने पैसा वसूलने गये गैंगस्टर के 2 गुर्गों को गिरफ्तार कर लिया है।
पुलिस उपायुक्त (जोन द्वितीय) हरीश चंदर ने बताया कि थाना सूरजपुर क्षेत्र में स्थित एक सोसाइटी में रहने वाले ट्रांसपोर्ट विपिन यादव ने थाने में रिपोर्ट दर्ज कराई है कि कुख्यात गैंगस्टर सुंदर भाटी के भतीजे अनिल भाटी ने फोन करके उनसे 45 लाख रुपए की रंगदारी मांगी है। उन्होंने बताया कि अनिल भाटी के 2 गुर्गे लोकेश भाटी व नागेश चौधरी शनिवार देर रात को ट्रांसपोर्टर के यहां रंगदारी के पैसे लेने पहुंचे। उन्होंने बताया कि घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया है।
उन्होंने बताया कि अनिल भाटी मौके से भाग गया। उसकी तलाश की जा रही है। मालूम हो कि अनिल भाटी ग्रेटर नोएडा में भाजपा नेता शिव कुमार यादव व उनके 2 गनरो की हुई बहुचर्चित हत्याकांड में जेल गया था। यह बदमाश उक्त मामले में जमानत पर बाहर है। अनिल भाटी कुख्यात गैंगस्टर सुंदर भाटी का भतीजा है। इसके ऊपर हत्या, रंगदारी वसूलने सहित विभिन्न मामलों में दर्जनों मुकदमे दर्ज है। सुंदर भाटी जेल में बंद है। उसका भतीजा अनिल भाटी ही पूरे गैंग को संचालित कर रहा है। ये लोग रंगदारी वसूलने, सुपारी लेकर हत्या करने, अवैध रूप से टोल टैक्स वसूलने, जबरदस्ती स्क्रैप, ट्रांसपोर्ट का ठेका दिलवाने सहित विभिन्न अपराधों को कारित करते हैं।