हाथी की रफ्तार से भाजपा, सपा, रालोद के प्रत्याशियों के पसीने छूटे: अशोक छोकर

0
184

जेवर। जिला पंचायत के वार्ड नबंर-5 के चुनाव को लेकर त्रिकोणीय मुकाबला होने के आसार हैं। मगर जातिगत वोट बैंक किसी प्रत्याशी के पक्ष में नहीं होने से हाथी की रफ्तार ने भाजपा, सपा रालोद के सयुंक्त प्रत्याशियों की नींद उडा दी है। मुस्लिम, दलित गठजोड को तोडऩे के लिये भाजपा व सपा रालोद समेत कांगे्रस, आप समेत निर्दलीय उम्मीदवार हर पैंतरा को आजमां रहे हैं।
वार्ड नबंर-5 से बसपा ने गांव बीरमपुर निवासी एडवोकेट कपिल छोंकर को मैदान में उतारकर भाजपा प्रत्याशी अमित चौधरी व रालोद सपा के सयुंक्त प्रत्यासी रविन्द्र भाटी जो पूर्व में जिला पंचायत अध्यक्ष भी रहे चुके हैं। जातिगत आंकडे किसी प्रत्याशी के पक्ष में नहीं होने के कारण उम्मीदवारों की नींद उड़ी हुई है। मगर हाथी की रफ्तार ने दलित मुस्लिम वोट बैंक को अपनी ओर खींच लिया है, तो उधर बसपा प्रत्याशी कपिल छोंकर को राजपूत होने का समाज के गांवों से भारी समर्थन मिल रहा है जिससे भाजपा, रालोद सपा समेत अन्य प्रत्यासिशों के पसीने छुटे हुए हैं। प्रत्याशी दलित मुस्लिम के तिलस्सम को तोडऩे के लिये वोटरों को हर तरह से लुभा रहे हैं। उधर भाजपा हाईकमान द्धारा पैराशूट प्रत्याशी उतारे जाने से जिला पंचायत का चुनाव लडऩे का सपना संजोए बैठे जेवर क्षेत्र के कार्यकर्ता अंदरखाने बेहद नाराज नजर आ रहे हैं।
सपा रालोद के सयुंक्त प्रत्याशी व पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष रविन्द्र भाटी के समीकरण उनके पक्ष में जाते दिखाई नहीं दे रहे हैं। गांव के लोग उन पर विकास के नाम पर झूठे वादे करने का आरोप लगा रहे हैं। जिससे अबकी बार चुनाव जीतने का सपना साकार होता दिखाई नहीं दे रहा है। जबकि कांगे्रस से वरूण कुमार, आप से अशोक जाटव के अलावा निर्देलीय प्रत्याशी व भाकियू अन्नदाता के राष्टृीय अध्यक्ष कृष्णा पंडित दौड़ से बाहर होते दिखाई दे रहे हैं।