Tuesday, 23 July 2024

Noida News : एक्सप्रेस-वे पर गति सीमा होगी 30 किमी/घंटे

Noida : नोएडा । नोएडा की लाइफ लाइन नोएडा ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे पर जाम से बचने के लिए जहां जहां…

Noida News : एक्सप्रेस-वे पर गति सीमा होगी 30 किमी/घंटे

Noida : नोएडा । नोएडा की लाइफ लाइन नोएडा ग्रेटर नोएडा एक्सप्रेस-वे पर जाम से बचने के लिए जहां जहां भी अंडरपास बन रहे वहां स्पीड लिमिट 30 किमी प्रतिघंटा की जाएगी। इसके साइन बोर्ड लगाए जाएंगे। सामन्यता एक्सप्रेस की स्पीड लिमिट 100 किमी प्रतिघंटा है। एक्सप्रेस वे का प्रयोग रोजाना 10 लाख से ज्यादा वाहन करते है। ये नोएडा को ग्रेटरनोएडा और दिल्ली को सीधे जोड़ता है।
अंडरपास स्थल से 300 मीटर पहले ही  चार लेन से दो अथवा तीन आवश्यकता अनुसार करने के लिए बैरकेटिंग की जाएगी। लोगों को इसकी जानकारी मिल सके इसके लिए साईन बोर्ड रिफ्लेक्टिव टेप और लाइट लगाई जाएगी। साथ ही प्रत्येक अंडरपास पर अतिरिक्त स्टॉफ लगाया जाएगा।

एक्सप्रेस के दोनों तरफ के गांव व सेक्टरों को जोडऩे के लिए यहां तीन अंडरपास बनाए जा रहे है। ये अंडरपास बाक्स पुशिंग तकनीक से बनाए जा रहे है। इसमे एक्सप्रेस वे के ट्रैफिक को बिना डायवर्ट किए ही नीचे से सड़क की खुदाई की जाती है। दो अंडरपास पहला 19.400 किमी और दूसरा 10.30 किमी  दोनों जून और जुलाई में खोला जाना है। इस तकनीक से सड़क धसने की घटना होती रहती है। ऐसे में हादसा न हो इसके लिए यहां स्पीड लिमिट को 100 की बजाए 30 किमी प्रतिघंटा किया गया है।

अंडरपास निर्माण के दौरान हाल ही में एक प्लान लागू किया गया। जिसमे नोएडा से ग्रेटर नोएडा और ग्रेटर नोएडा से नोएडा के ट्रैफिक को सर्विस लेन के निकाला गया। इसमे एक तरफ के ट्रैफिक को रोका गया। इससे जाम की समस्या ज्यादा आई। ऐसे में इस प्लान को असफल माना गया और रोक दिया गया। अब स्पीड लिमिट कम कर ट्रैफिक को एक्सप्रेस वे से ही निकाला जाएगा।

नोएडा को ग्रेटर नोएडा से जोडऩे वाला एक्सप्रेस-वे 23.4 किलोमीटर लंबा है। इसका 20 किमी का हिस्सा नोएडा में है,बाकी ग्रेटर नोएडा में। यहां तीन अंडरपास और इसकी रिसर्फेसिंग की जा रही है। रोजना एक्सप्रेस-वे पर सेक्टर-96 से सफीपुर जगह-जगह जाम लगता है। 100 किमी की स्पीड वाले एक्सप्रेस-वे पर 20 किमी प्रतिघंटा या इससें भी कम रफ्तार में वाहन रेंग-रेंग कर चलते हैं। रिसर्फेसिंग वाली कंपनी पर प्राधिकरण 1 करोड़ 75 लाख का जुर्माना लगा चुकी है। काम अब भी पूरा नहीं हो सका है।

इन अंडरपास का निर्माण दो महीने में होगा शुरू

एक्सप्रेस वे पर 19.400 किमी पर कोंडली अंडरपास का निर्माण किया जा रहा है।  अंडरपास को हर हालत में 30 जून से पहले पूरा करना है। इसका 90 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है। इसका निर्माण 44.90 करोड़ की लागत से तैयार किया जा रहा है। 785 मीटर अंडरपास चार लेन का बनाया जा रहा है। अंडरपास के निर्माण से सेक्टर-150, 149, 148, 153,151, 152 के साथ कोंडली, गढ़ी, समस्तीपुर, मोनाथल शफीपुर के लोगों को प्रस्तावित 75 मीटर चौड़ी सड़क पर आवागमन में काफी फायदा होगा। साथ ही इन सभी सेक्टर और गांवों को एक्सप्रेस वे से बेहतर कनेक्टिविटी मिलेगी।इसके अलावा एक्सप्रेस के 10.30 किमी पर एक और अंडरपास का निर्माण किया जा रहा है। इस अंडरपास को 31 जुलाई तक खोल दिया जाएगा। इससे सेक्टर-135, 136,137,142,167,168 के अलावा गढ़ी, शहदरा, वाजीदपुर, मंगरौली और छपरौली के  निवासियों को एक्सप्रेस -वे से बेहतर कनेक्टिविटी मिलेगी। इसका 82 प्रतिशत काम पूरा किया जा चुका है। इसक निर्माण में 45 करोड़ रुपए खर्च किए जा रहे है।

Related Post