प्रदर्शन कर रहे सपा नेताओं को पुलिस ने पकड़ा

0
174

नोएडा। केन्द्र सरकार द्वारा पास किए गए तीन कृषि कानूनों का विरोध कर रहे किसानों के समर्थन में आज समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने सिटी मजिस्ट्रेट कार्यालय पर पहुंचकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्ताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। इस दौरान सपाईयों का पुलिस से टकराव भी हुआ।
गौरतलब है कि समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के निर्देश पर समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने आज किसानों के समर्थन में पूरे उप्र में प्रदर्शन किया। नोएडा में सपा नेताओं व कार्यकर्ताओं ने सेक्टर-19 स्थित सनातन धर्म मंदिर के पार्क में एकत्र होने के बाद सेक्टर-19 स्थित सिटी मजिस्ट्रेट कार्यालय की तरफ कूच किया। वहां पहुंचकर पार्टी कार्यकर्ताओं ने किसान बिल के विरोध में प्रदर्शन किया।
प्रदर्शन में मौजूद कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए नोएडा से विधान परिषद के पूर्व प्रत्याशी सुनील चौधरी ने कहा कि आज देश का किसान कड़ाके की ठंड में सडक़ों पर बैठा हुआ है, लेकिन सरकार काले कानून को बदलने का नाम नहीं ले रही
है। उन्होंने कहा कि हमारे शहरी अध्यक्ष को घर में नजरबंद कर दिया गया है। वहीं पार्टी नेताओं को प्रदर्शन करने से रोका जा रहा है। उन्होंने कहा कि भाजपा कार्यकर्ताओं के लिए कोई कानून नहीं है।
इस अवसर पर  सपा के महानगर अध्यक्ष (ग्रामीण) रेशपाल अवाना ने कहा कि किसानों के लिए जो तीन कानून लागू हुए हैं उन्हें जब तक वापस नहीं लिया जाता तब तक उनका विरोध जारी रहेगा। प्रदर्शन कर रहे कार्यकर्ताओं व नेताओं को पुलिस ने हिरासत में ले लिया। इस दौरान सपा नेताओं व पुलिस में टकराव भी हुआ। पूर्व प्रत्याशी सुनील चौधरी व कुछ दूसरे कार्यकर्ताओं को पुलिस ने चारों तरफ से हाथ-पैर पकडक़र उठाया  और बस में भरकर सूरजपुर स्थित पुलिस लाइन ले गए।
इस दौरान सपा नोएडा ग्रामीण अध्यक्ष रेशपाल अवाना, नोएडा से सपा के पूर्व प्रत्याशी रहे सुनील चौधरी, वरिष्ठ नेता विकास यादव, ओमपाल राणा, मुन्ना आलम, प्रवक्ता विनोद कुमार (बिल्लू), वीरपाल अवाना, विकास कुडिया, चरण सिंह, डा. महिमा यादव, सतपाल यादव, मोनू खारी, सुमित अम्बावत, राहुल सिंह, लखन यादव, कविता गुलाठी, जयवीर गुर्जर, रविन्द्र यादव, रणधीर चौधरी आदि सैकड़ों सपा नेता मौजूद थे।