कुछ ऐसे सितारे जिन्होंने महत्वपूर्ण किरदार निभाने से मना किया जो काफी प्रसिद्ध हुए तथा अमित छाप छोड़ दी

0
335

बॉलीवुड में कब किस का सितारा चमक जाए  कुछ भी कहना संभव नहीं है , केवल चमत्कार को नमस्कार किया जा सकता है। ऐसा ही एक चमत्कार है बॉलीवुड के विलेन्स का हीरोज़ से ज़्यादा पॉपुलर हो जाना। जी हां, हिंदी फिल्मों ने हमें हीरो तो बहुत सारे दिए हैं साथ ही साथ ऐसे विलेन्स भी दिए हैं जो अपनी फिल्मों के हीरो जितने ही नहीं, उनसे ज़्यादा पॉपुलर हुए।

विलेन के रोल में इन एक्टर्स ने ऐसा भयानक चक्रव्यूह रचा कि हीरो का जीना मुश्किल कर दिया।लेकिन बात फिल्म की है तो हीरो को जीतना ही था। मगर इन विलेन्स का इम्प्रेशन ऑडियंस पर ज़बरदस्त रहा। लेकिन क्या आप अपने पसंदीदा विलेन के रोल में किसी और एक्टर का चेहरा सोच सकते हैं? मुश्किल है न ! आपको शायद यकीन न हो मगर आपके पसंदीदा विलेन के किरदार में पहले कोई और एक्टर नज़र आने वाला था।

आइए आपको बताते हैं कि बॉलीवुड के सबसे आइकॉनिक किरदार को पहले कौन सा एक्टर निभाने वाला था-

1. गब्बर सिंह

‘गब्बर सिंह’ का किरदार आज बॉलीवुड के सबसे नामी किरदारों में से एक है। आर्मी की पुरानी वर्दी में, तम्बाकू चबाते अमजद खान ने इस रोल को इतने बेहतरीन तरीके से निभाया कि आज गब्बर के रोल में किसी और को सोच पाना भी नामुमकिन है। लेकिन ये जानकर आपका मुंह खुला का खुला रह जाएगा कि गब्बर का रोल असल में डैनी डेनजोंग्पा निभाने वाले थे। बल्कि असल बात ये है कि ये किरदार लिखा ही डैनी के लिए गया था। डैनी अपने वक़्त के सबसे ज़्यादा मशहूर विलेन थे और उनके पास कई सारी फिल्में थीं। ‘शोले’ की शूटिंग लगातार लेट होती जा रही थी जिससे डैनी की डेट्स की समस्या आ गई और न चाहते हुए भी डैनी को ये रोल छोड़ना पड़ा। क्या आप सोच सकते हैं डैनी इस रोल में कैसे दिखते !

2. मोगैम्बो

मिस्टर इंडिया’ फिल्म के विलेन ‘मोगैम्बो’ ने हम सब को बचपन में बहुत डराया है। अमरीश पुरी की बड़ी-बड़ी आंखें और बेहद दमदार आवाज़ ने इस रोल को और भी भयंकर बना दिया था। ये सोचकर भी अजीब लगता है कि मोगैम्बो के किरदार में कोई और भी उतना दमदार लग सकता है। लेकिन आपको बता दें कि ‘मोगैम्बो’ के रोल के लिए एक्टर अनुपम खेर का ऑडिशन लिया जा चुका था और उनका काम करना लगभग तय था। मगर अनिल कपूर के कहने पर फिल्म के डायरेक्टर शेखर कपूर और निर्माता बोनी कपूर ने इस रोल में अमरीश पुरी को लिया।

3. क्राइम मास्टर गोगो

आंखें निकालकर गोटियां खेलने के शौक़ीन ‘क्राइम मास्टर गोगो’ जितने भयंकर थे उतने ही मजाकिया भी। इस रोल को शक्ति कपूर ने इतना शानदार निभाया कि ये रोल हिंदी सिनेमा के सबसे बेहतरीन किरदारों में से एक बन गया। लेकिन इस रोल की पहली चॉइस शक्ति कपूर नहीं थे। ‘क्राइम मास्टर गोगो’ का किरदार पहले टीनू आनंद निभाने वाले थे।

4. राहुल मेहरा

इसी रोल से शाहरुख़ खान को फिल्मों में पहचान मिली थी। प्यार में सनक की हद तक पागल एक प्रेमी का किरदार शाहरुख़ के लिए बुलंदी पर पहुंचाने वाला किरदार रहा। ये रोल पहले शाहरुख़ खान की बजाय ‘मिस्टर परफेक्शनिस्ट’ आमिर खान को ऑफर किया गया था। उस समय आमिर कई फिल्मों में रोमांटिक हीरो बन चुके थे और लोग उन्हें इस रोल में खूब पसंद भी करते थे। नेगेटिव रोल होने की वजह से आमिर ने ये रोल नहीं किया और नतीजा ये हुआ कि इस फिल्म से शाहरुख़ का करियर चल निकला।

5. भल्लाल देव

‘बाहुबली’ अब तक भारत में बनने वाली सबसे बड़ी फिल्म है। इस फिल्म में ‘बाहुबली’ के भाई ‘भल्लाल देव’ को विलेन के रोल में दिखाया गया था। राणा दग्गुबती ने इस रोल के लिए ज़बरदस्त बॉडी बना डाली और शरीर के मामले में उनका किरदार यकीनन मुख्य किरदार ‘बाहुबली’ पर भारी नज़र आया। लेकिन ये सुनकर आपको शायद यकीन न हो कि ‘भल्लाल देव’ का किरदार पहले बॉलीवुड के हैण्डसम हंक जॉन अब्राहम को ऑफर किया गया था। जॉन के इनकार करने के बाद ये रोल राणा दग्गुबती को दिया गया और ‘बाहुबली’ ने पूरी दुनिया में झंडे गाड़ दिए। जॉन को अब ये रोल न करने का अफ़सोस तो होता होगा !