Saturday, 13 July 2024

बिचौलिये पर धोखे से अलग-अलग बिरादरी में शादी कराने का आरोप

जेवर (चेतना मंच)। कोतवाली क्षेत्र के गांव में एक युवक ने मध्य प्रदेश से मजदूरी की तलाश में नोएडा आये…

बिचौलिये पर धोखे से अलग-अलग बिरादरी में शादी कराने का आरोप

जेवर (चेतना मंच)। कोतवाली क्षेत्र के गांव में एक युवक ने मध्य प्रदेश से मजदूरी की तलाश में नोएडा आये परिवार को अपने जाल में फंसा लिया और एक महिला से खुद शादी कर ली जबकि दूसरी विवाहित महिला व उसकी नाबालिग पुत्री की अपने गांव में अलग अलग जाति में रिश्ता करा दिया।

मामले की भनक जैसे ही बुआ भतीजी को लगी तो बुआ मौका पाकर फरार हो गयी जबकि भतीजी ने अपने पति से रिस्ता तोड अपने मायके मोहबलीपुर में रह रही है पीडिता ने गांव के युवक पर गंदी नीयत रखने व धोखाधडी से आधार कार्ड में बिचौलिये पर पति के नाम को हटवाकर अपना नाम दर्ज कराने का आरोप लगा जेवर कोतवाली पुलिस को नामजद तहरीर दी है।

मध्य प्रदेश के जिला ठीकमगढ निवासी गुडडी देवी पत्नि जमील (40 वर्ष) करीब दस वर्ष पूर्व मध्य प्रदेश जिला ठीकमगढ से मजदूरी की तलाश में नोएडा आये को जहां इनकी मुलाकात गांव मौहबलीपुर निवासी भगवत (42 वर्ष) से हुई थी जो पहले से ही शादीशुदा था भगवत प्रजापति ने बिचौलिया की ऐसी भूमिका निभाई की गुडडी देवी की नाबालिग पुत्री (11 वर्ष) का विवाह 10 साल पूर्व अपने गांव के रमेश धीमर के साथ कर दिया उसके बाद गुडडी देवी को भी अपने जाल में फंसाकर उसका विवाह पुत्री के विवाह के चार दिन बाद गांव के ठाकुर रत्ना सिंह से करा दिया फिर गुडडी देवी की ननद पुजा उर्फ रूकसाना को खुद अपने जाल में फसा लिया और शादी रचा ली। बिचौलिया तब दो बच्चो का पिता था। दूसरी पत्नि लाने पर पहली पत्नि अपने दोनों बच्चों को छोडकर रफूचक्कर हो गयी। जबकि पूजा उर्फ रूकसाना मात्र दस वर्ष ही भगवत के पास रूक पायी वह भी चकमा देकर एक वर्ष पूर्व फरार हो गयी तो उधर बालिग होने पर गुडडी देवी की पुत्री रोशनी ने अपने पति रमेश से चार वर्ष पूर्व अपने सबंध खत्म करके अपने मायके मोहबलीपुर में रह रही है। पीडि़त ने बिचौलिया पर धोखे से आधार कार्ड में अपनी पत्नि दर्ज कराकर ब्लैकमेल करने व गंदी नीयत रखने का आरोप लगा जेवर कोतवाली पुलिस को जहरीर दी है ।

गांव मोहबलीपुर निवासी भगवत ने रोशनी की बुआ पूजा उर्फ रूकसाना के भाग जाने के बाद रोशनी को नोएडा में नौकरी दिलाने के बहाने अपने जाल में फंसा लिया और रोशनी का आधार कार्ड लेकर रोशनी के पति रमेश का नाम कटवाकर बिचौलिया भगवत ने पति के तौर पर अपना नाम दर्ज करा लिया। भगवत अब रोशनी पर पत्नि के रूप में घर पर रहने का नाजायज दबाब बना रहा है।

इस मामले में कोतवाली प्रभारी निरीक्षक उमेश बहादुर सिंह का कहना है की उक्त मामला अभी मेरे संज्ञान में नही है जांचकर दोषियों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जायेगी।

Related Post