Friday, 19 July 2024

जून को प्राइड मंथ के रूप में मना रहा है LGBTQ समाज

LGBTQ Pride Month : जून के महीने को LGBTQ समाज प्राइड मंथ (Pride Month) के रूप में मनाता है। इन…

जून को प्राइड मंथ के रूप में मना रहा है LGBTQ समाज

LGBTQ Pride Month : जून के महीने को LGBTQ समाज प्राइड मंथ (Pride Month) के रूप में मनाता है। इन दिनों दुनिया भर में LGBTQ समाज के द्वारा (Pride Month) 2024 मनाया जा रहा है। यहां हम विस्तार के साथ समझने का प्रयास करेंगे कि LGBTQ समाज क्या है? LGBTQ समाज जून को प्राइड मंथ के रूप में क्यों मनाता है? साथ ही यह भी जानेंगे कि LGBTQ समाज की शादी को लैवेंडर मैरिज क्यों कहा जाता है?

क्या है LGBTQ समाज

दरअसल LGBTQ कोई संगठित समाज नहीं है। दुनिया भर में कुछ खास किस्म के लोगों ने मिलकर LGBTQ बना लिया है। यह जो LGBTQ शब्द है। यह अलग-अलग शब्दों का एक मिश्रण है। LGBTQ का इस्तेमाल किसी व्यक्ति के यौन रूझान या लिंग का वर्णन करने के लिए किया जाता है। यौन रूझान एक व्यक्ति के दूसरे व्यक्ति के लिए शारीरिक, भावनात्मक और रोमांटिक आकर्षण को परिभाषित करता है, जैसे कि स्ट्रेट, गे, लेस्बियन, Bis*xual आदि। वहीं, जेंडर आइडेंटिडी किसी व्यक्ति के महिला, पुरुष होने की उनकी आंतरिक भावना को वर्णन करती है।

1950 और 1960 के दशक के दौरान LGBT की उत्पत्ति से पहले इस समुदाय के लोगों को अक्सर “समलैंगिक समुदाय” कहा जाता था। हालांकि, वर्ष 1969 को अमेरिकी इतिहास में एक महत्वपूर्ण मोड़ के रूप में देखा जाता है। यह समय “समलैंगिक अधिकारों के आंदोलन” के लिए बेहद महत्वपूर्ण था। जैसे-जैसे यह आंदोलन आगे बढ़ता गया, लोगों को यह समझ आने लगा कि गे शब्द सभी यौन रूझानों और जेंडर आइडेंटिडी को परिभाषित नहीं करता है। ऐसे में 1980 के दशक में, LGBT ने लोकप्रियता हासिल की और 1990 के दशक तक कई कार्यकर्ता संगठनों द्वारा इसे अपनाया गया।

LGBTQ में “L” का मतलब लेस्बियन है

“लेस्बियन” शब्द एक ऐसी महिला का वर्णन करता है जो शारीरिक, भावनात्मक या रोमांटिक रूप से अन्य महिलाओं के प्रति आकर्षित होती है।

LGBTQ में “G” का मतलब गे है शब्द “गे” एक ऐसे पुरुष के लिए इस्तेमाल किया जाता है, जो शारीरिक, भावनात्मक या रोमांटिक रूप से लड़कों या पुरुषों के प्रति आकर्षित होता है।

LGBTQ में “B” का मतलब Bis*xual होता है।

“Bis*xual ” एक ऐसे व्यक्ति (स्त्री या पुरुष ) का वर्णन करता है जो शारीरिक, भावनात्मक या रोमांटिक रूप से पुरुष या महिला दोनों की तरफ ही आकर्षित होता है।

“T” का मतलब ट्रांसजेंडर शब्द “ट्रांसजेंडर” एक ऐसे व्यक्ति का वर्णन करता है, जिनका व्यवहार उनके जन्म के समय के लिंग के विपरित होता है। उदाहरण के लिए कोई पुरुष, जो महिला की तरह बर्ताव करता है या कोई महिला, जो पुरुष की तरह व्यवहार करती है।

LGBT समलैंगिक समुदाय को वर्णन करने के लिए इस्तेमाल होने वाले पुराने शब्दों से काफी सटीक था, लेकिन इसके बावजूद यह उन लोगों को परिभाषित नहीं करता, जो गे, लेस्बियन, Bis*xual , ट्रांसजेंडर में नहीं आते। ऐसे में LGBT में “Q” को जोड़ा गया। जिसका अर्थ क्वीयर है।

LGBTQ में “Q” का मतलब (क्विअर)

क्विअर शब्द का इस्तेमाल ऐसे लोगों के लिए किया जाता है, जो अपने यौन रूझान को लेकर असमंसजस में होते हैं। यह ऐसे लोग हैं, जो यह तय नहीं कर पाते कि उनका आकर्षण पुरुष की ओर है या फिर स्त्री की तरफ, उनके अंदर महिलाओं के गुण हैं या फिर पुरुषों के।

लैवेंडर मैरिज

LGBTQ वर्ग की ओर से सेलिब्रेट किए जा रहे प्राइड मंथ में लैवेंडर मैरिज की भी काफी चर्चा हो रही है. अक्सर गे मैरिज से जुड़ी चर्चा में इस शादी का भी जिक्र होता है, जिसके लिए कहा जाता है कि इस तरह की शादियां लंबे वक्त से भारतीय समाज में होती रही हैं. ऐसे में आज जानते हैं कि आखिर ये होती क्या है और किन दो लोगों के बीच होने वाली इस शादी को लैवेंडर मैरिज बोलते हैं। अगर लैवेंडर मैरिज की बात करें तो लैवेंडर शादी हेट्रोसेक्सुअल या होमोसेक्सुअल लोगों के बीच होने वाली शादी को बोलते हैं। दरअसल, ये शादी उन व्यक्तियों को कठिनाई से बचाने का काम करती हैं, जो सामाजिक उत्पीड़न, कानूनी अड़चनों की वजह से अपने सेक्सुअल इंट्रेस्ट के हिसाब से शादी नहीं कर पाते हैं। लैवेंडर पारंपरिक रुप से एलजीबीटीक्यू समुदाय से जुड़े रंग को दर्शाता है।

दरअसल, इस शादी में दूसरे लोगों के सामने सच छुपाया जाता है और दूसरे लोगों को ये पता नहीं होता है कि दोनों का सेक्सुअल इंट्रेस्ट क्या है। ये शादियां दिखने में तो बिल्कुल आम शादियों जैसी ही होती है, लेकिन इसके पीछे का सच सिर्फ कुछ लोगों की ही पता होता है. ये एक तरह से किसी होमोसेक्सुअल रिलेशनशिप को मैरिड लाइफ में तब्दील करने का तरीका होता है, इसमें शादी की रस्में, रिवाज सब सामान्य शादी की तरह होते हैं। शादी के बाद ये अपने हिसाब से लाइफ जीते हैं।

सिनेमाघरों में दिखेगा Toxic का धाक, दिखा यश का खूंखार अंदाज

Related Post