Friday, 19 July 2024

लखनऊ में जेई अभ्यर्थियों का पिकप भवन पर प्रदर्शन, पुलिस ने बस में बैठाकर भेजा ईको गार्डन

Uttar Pradesh News: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में जूनियर इंजीनियर (जेई) अभ्यर्थियों ने बुधवार को पिकप भवन पर जमकर…

लखनऊ में जेई अभ्यर्थियों का पिकप भवन पर प्रदर्शन, पुलिस ने बस में बैठाकर भेजा ईको गार्डन

Uttar Pradesh News: उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में जूनियर इंजीनियर (जेई) अभ्यर्थियों ने बुधवार को पिकप भवन पर जमकर प्रदर्शन किया। जब पुलिस ने उन्हें अंदर जाने से रोका, तो अभ्यर्थी नाराज हो गए और हंगामा शुरू कर दिया। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को घसीटते हुए बस में बैठाया और ईको गार्डन भेज दिया।

इसलिए नाराज हैं अभ्यर्थी

बता दें कि अभ्यर्थी 2018 में निकली जेई भर्ती प्रक्रिया के पूरा होने के बाद भी परिणाम नहीं आने से नाराज हैं। उनका कहना है कि उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग और जनता दरबार के चक्कर लगाते हुए 6 साल बीत गए, लेकिन अभी तक रिजल्ट जारी नहीं किया गया है। हर बार केवल आश्वासन ही मिलता है।

प्रर्दशनकारियों को भेजा इको गार्डेन

अभ्यर्थियों का आरोप है कि जब भी वे आयोग के सचिव से मिलते हैं, तो उन्हें बताया जाता है कि अगला रिजल्ट उनका ही होगा। लेकिन आज तक परिणाम जारी नहीं हुआ। जब अभ्यर्थी मिलने पहुंचे, तो मुलाकात नहीं हुई और पुलिस बुला ली गई। पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को बस में भरकर ईको गार्डन भेज दिया।

6 साल बाद भी नहीं हुई भर्ती

प्रदर्शनकारी अभ्यर्थियों ने बताया कि 2018 में जूनियर इंजीनियर भर्ती निकाली गई थी, जो 6 साल बाद भी पूरी नहीं हो सकी है। अभ्यर्थी लगातार 207 दिनों से ईको गार्डन में धरना दे रहे हैं। दस्तावेजों का सत्यापन हुए 9 माह से अधिक का समय बीत चुका है, लेकिन आयोग ने अभी तक अंतिम रिजल्ट जारी नहीं किया है।

जून में रिजल्ट आने की कही थी बात

अभ्यर्थियों का कहना है कि पिछले महीने मुख्यमंत्री और आयोग के अध्यक्ष के बीच हुई मीटिंग में जून 2024 में जेई 2018 भर्ती का अंतिम रिजल्ट जारी करने का आश्वासन दिया गया था। इसके बावजूद, जून माह में परिणाम घोषित नहीं किया गया। अभ्यर्थियों ने कहा कि वे लगातार जनता दरबार और आयोग के चक्कर लगा रहे हैं।

2018 से किया जा रहा भेदभाव

अभ्यर्थियों का आरोप है कि आयोग द्वारा जेई 2018 भर्ती के साथ लगातार भेदभाव किया जा रहा है। जेई 2018 भर्ती का विज्ञापन ASO, Lower PCS, लेखपाल, ANM आदि भर्तियों से पहले 2018 में आया था, लेकिन अन्य सभी भर्तियों के अंतिम परिणाम जारी किए जा चुके हैं। यदि जेई 2018 का अंतिम परिणाम जल्द जारी नहीं किया जाता है, तो DEPSWA बड़ा आंदोलन करेगा।

अब आप भी ले सकते हैं सऊदी अरब के शाही महल को किराए पर

ग्रेटर नोएडा – नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

Related Post