Saturday, 18 May 2024

पिछले 1 महीने में 14% से ज्यादा लुढ़क गए Raymond के Share; निवेशकों में बेचैनी

गौतम सिंघानिया और नवाज मोदी के बीच चल रहे निजी विवाद ने रेमंड कंपनी के शेयरधारकों में डर का माहौल पैदा कर दिया है…

पिछले 1 महीने में 14% से ज्यादा लुढ़क गए Raymond के Share; निवेशकों में बेचैनी

Raymond Share Price: कपड़ा से लेकर रियल एस्टेट फील्ड की टॉप कंपनी रेमंड इस वक्त अपने सबसे खराब दौर से गुज़र रही है। असल में गौतम सिंघानिया और नवाज मोदी के बीच चल रहे निजी विवाद ने रेमंड कंपनी के शेयरधारकों में डर का माहौल पैदा कर दिया है। जिसका नतीजा यह हो रहा है कि Raymond Share Price में गिरावट का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा।

गौरतलब है कि 12 नवंबर, दीवाली के दिन 0.71% की बढ़त के साथ रेमंड कंपनी की शेयर वैल्यू 1902.65 रुपए थी। दीवाली के अगले दिन यानी 13 नवंबर को रेमंड ग्रुप के चेयरमैन और मैनेजिंग डायरेक्टर गौतम सिंघानिया ने एक ऐसी घोषणा कर दी, जिसने कंपनी को हिलाकर रख दिया। असल में 58 वर्षीय गौतम सिंघानिया ने अपनी पत्नी नवाज मोदी से अलग होने का ऐलान किया था। यह खबरें जैसे ही सोशल मीडिया पर छाने लगी, रेमंड ग्रुप के शेयरों में गिरावट का दौर शुरू हो गया।

13 नवंबर से Raymond Share Price में कितनी गिरावट:

दिनांक                   शेयर
13 नवंबर-             1846.75 रुपए
15 नवंबर-             1810.15  रुपए
16 नवंबर-             1802.60 रुपए
17 नवंबर-              1782.45 रुपए
20 नवंबर-             1761.85 रुपए
21 नवंबर-              1742.45 रुपए
22 नवंबर-             1677.20 रुपए
23 नवंबर-             1670.95 रुपए
24 नवंबर-             1648.45  रुपए
28 नवंबर-             1579.75  रुपए
29 नवंबर-             1541.65 रुपए
30 नवंबर-             1503. 45 रुपए

आज दोपहर, 1 दिसंबर को 12:58 पर, रेमंड के शेयर गिरकर 1551.35 रुपए पर पहुंच गए हैं। इसका फुल मार्केट कैप गिरकर 10,005 करोड़ रुपए पर आ चुका है। अगर इसके पिछले 5 कारोबारी सत्रों की बात करें, तो रेमंड ग्रुप के शेयरों में 10.6 प्रतिशत की गिरावट आई है। बता दें कि पिछले एक महीने में इसके शेयर 14% से ज्यादा गिर गए हैं। अगर पिछले 12 कारोबारी सत्रों के आधार पर मूल्यांकन किया जाए, तो रेमंड ग्रुप के शेयर 20% गिर गए हैं। असल में दंपत्ति के इस निजी विवाद ने कंपनी को बहुत प्रभावित किया है। यह कहना भी गलत नहीं होगा कि इस वक्त कंपनी अपने सबसे बुरे दौर का सामना कर रही है।

बता दें कि रेमंड कंपनी को 13 नवंबर से अब तक बाजार मूल्यांकन में करीब 1,500 करोड़ रुपए का नुकसान हो चुका है। गौरतलब है कि सिंघानिया परिवार के पास रेमंड कंपनी के आधे शेयर हैं। इसके अलावा गौतम सिंघानिया की पत्नी नवाज मोदी ने तलाक को लेकर सिंघानिया परिवार की संपत्ति में 75 फीसदी हिस्सेदारी मांगी है।

चुनाव खत्म होते ही ग्राहको को महंगाई का झटका,बढ़ गये सिलेंडर के दाम

Related Post