Friday, 23 February 2024

चमचमाएंगी ग्रेटर नोएडा की सड़कें, प्राधिकरण का CRRI से हुआ करार

Greater Noida News :  यूपी के नोएडा में आधुनिक तकनीक के जरिए ग्रेटर नोएडा शहर में सड़कों के निर्माण में…

चमचमाएंगी ग्रेटर नोएडा की सड़कें, प्राधिकरण का CRRI से हुआ करार

Greater Noida News :  यूपी के नोएडा में आधुनिक तकनीक के जरिए ग्रेटर नोएडा शहर में सड़कों के निर्माण में और पारदर्शिता तथा गुणवत्ता बढ़ाने के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की टीम ने शुक्रवार को केंद्रीय सड़क अनुसंधान संस्थान (CRRI) दिल्ली का दौरा किया। प्राधिकरण की एसीईओ मेधा रूपम व एसीईओ अन्नपूर्णा गर्ग के नेतृत्व में परियोजना विभाग की टीम ने सीआरआरआई दिल्ली जाकर आधुनिक तकनीकों का अध्ययन किया। दोनों संस्थानों के बीच इस आशय का एमओयू जल्द साइन होने जा रहा है। इसके साथ ही सीआरआरआई ग्रेटर नोएडा में वेस्ट मैटेरियल से बनी टाइल्स का फुटपाथ बनाने में भी सहयोग करेगा।

Greater Noida News

आपको बता दें कि हाल ही में ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ एनजी रवि कुमार की अध्यक्षता में बैठक हुई थी, जिसमें सीआरआरआई ने सड़क निर्माण की आधुनिक तकनीकों के बारे में जानकारी दी। इन तकनीकों के इस्तेमाल से ग्रेटर नोएडा में सड़कों के निर्माण में और पारदर्शिता तथा गुणवत्ता और बढ़ जाएगी। साथ ही वेस्ट मैटेरियल से बनी पेवर ब्लॉक टाइल्स का इस्तेमाल कर फुटपाथ बनाने के बारे में भी जानकारी दी। प्राधिकरण के सीईओ एनजी रवि कुमार ने सभी वर्क सर्कल को रोड चिन्हित कर वेस्ट मैटेरियल से बनी पेवर ब्लॉक टाइल्स का इस्तेमाल कर मॉडल फुटपाथ बनाने के निर्देश दिए। इससे पहले सीआरआरआई परिसर में जाकर तकनीकों का अध्ययन करने और एमओयू साइन करने के निर्देष दिए।

इंजीनियरों की टीम ने किया तकनीकी अध्ययन

इसी क्रम में शुक्रवार को ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण की एसीईओ मेधा रूपम व एसीईओ अन्नपूर्णा गर्ग तथा परियोजना विभाग के इंजीनियरों की टीम ने सीआरआरआई परिसर जाकर इन तकनीकों का अध्ययन किया। इन तकनीकों का डेमो देखा। एमओयू होने के बाद सीआरआरआई से क्या-क्या सेवाएं मिल सकती हैं, इस पर वहां के अधिकारियों से चर्चा की। प्राधिकरण ने एमओयू का ड्राफ्ट षीघ्र उपलब्ध कराने को कहा है। गौरतलब है कि आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल कर इको फ्रेंडली तथा अधिक गुणवत्तापरक सड़कें बनाने के लिए ग्रेटर नोएडा प्राधिकरण सीआरआरआई को सलाहकार एजेंसी के रूप में अपने साथ जोड़ना चाह रहा है। करार हो जाने पर केंद्रीय सड़क अनुसंधान संस्थान ग्रेटर नोएडा में सड़कों को ईको फ्रेंडली बनाने, आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल कर सड़क निर्माण का एस्टीमेट तैयार करने, सड़कों की गुणवत्ता और पारदर्शिता बढ़ाने समेत कई बिंदुओं पर अपनी कंसल्टेंसी देगा।

वेस्ट मैटेरियल से बनेंगे आधुनिक फुटपाथ

प्राधिकरण ग्रेटर नोएडा में फुटपाथ बनाने के लिए पॉलिथीन व अन्य कंस्ट्रक्शन वेस्ट मैटेरियल से तैयार पेवर ब्लॉक टाइल्स का भी इस्तेमाल करेगा। प्राधिकरण सीआरआरआई को वेस्ट मैटेरियल देगा, जिसके एवज में केंद्रीय सड़क अनुसंधान संस्थान ग्रेटर नोएडा को सस्ती दरों पर पेवर ब्लॉक टाइल्स उपलब्ध कराएगा। इसका इस्तेमाल ग्रेटर नोएडा में सड़कों के किनारे फुटपाथ बनाने में किया जाएगा। पेवर ब्लॉक टाइल्स वेस्ट मैटेरियल से बनेंगी। ये पेवर ब्लॉक टाइल्स पर्यावरण के लिए भी अनुकूल होंगी। इसकी दरें कम होने से पैसोें की बचत भी होगी। ये टाइल्स लंबे समय तक चलेंगी। इनके रखरखाव पर भी बहुत कम खर्च होगा।

पेरिस में बज रहा नोएडा कमिश्नरेट पुलिस का डंका, हो रही जमकर तारीफ

ग्रेटर नोएडा नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देश-दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post