Friday, 23 February 2024

आईसीयू में भर्ती महिला से स्टाफ नर्स ने की छेड़छाड़

Greater Noida News : दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा से एक शर्मनाक कर देने वाली खबर सामने आई…

आईसीयू में भर्ती महिला से स्टाफ नर्स ने की छेड़छाड़

Greater Noida News : दिल्ली से सटे उत्तर प्रदेश के ग्रेटर नोएडा से एक शर्मनाक कर देने वाली खबर सामने आई है। जहां निजि अस्पताल में भर्ती एक महिला के साथ नर्सिंग स्टाफ ने छेड़छाड़ की। बताया जा रहा है कि आईसीयू में भर्ती महिला मरीज के साथ आरपी स्टाफ नर्स ढाई घटे तक छेड़छाड़ करता रहा।

Greater Noida News

दरसल ग्रेटर नोएडा के परीचौक के समीप स्थित स्पेस अस्पताल के आईसीयू में ढाई घंटे तक नर्सिंग स्टाफ नव विवाहिता मरीज से छेड़छाड़ करता रहा और प्रबंधन इससे अंजान रहा। आरोप है कि आरोपी स्टाफ नर्स भानू ने पीड़ित के कभी सीने पर हाथ मारा तो कभी कपड़े के अंदर हाथ डाल दिया। आरोपी ने पीड़िता से कहा कि यदि महिला की शादी नहीं हुई होती तो वह उससे शादी कर लेता।

फोन करके पति को दी जानकारी

आपको बता दें कि ग्रेटर नोएडा के एक गांव की रहने वाली पीड़िता की सात महीने पहले शादी हुई है। पेट दर्द की वजह से वह स्पेस अस्पताल में भर्ती हुई। दो दिन से महिला अस्पताल में भर्ती थी। सोमवार रात करीब डेढ़ बजे उसके पास पुरुष नर्सिंग स्टाफ आया। पीड़िता का कहना है कि रात करीब डेढ़ बजे से सुबह चार बजे तक आरोपी छेड़छाड़ करता रहा। तंग होकर पीड़िता ने पति को फोन कर पूरी आपबीती सुनाई। स्वजन अस्पताल पहुंचे और जमकर हंगामा किया। पुलिस भी मौके पर पहुंची और आरोपी को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी है।

शिकायत करने पर परिजनों को दी धमकी

रात अधिक होने की वजह से पीड़िता को समझ में नहीं आया कि वह छेड़छाड़ का किस तरह विरोध करें। उसके हाथ में ड्रिप लगी हुई थी। ढाई घंटे तक जब आरोपित शांत नहीं हुआ तो उसने परेशान होकर पूरी बात अपने पति को फोन करके बताई। आरोपी ने कई बार पीड़िता के प्राइवेट पार्ट पर हाथ लगाया। आरोप है कि अस्पताल प्रबंधन इस मामले में आंख मूंद कर बैठा रहा। पीड़ित पक्ष के शिकायत करने पर उल्टा उनको ही धमकाया गया।

आरोपी के नौकरी से निकाला

मामले को लेकर स्पेस मल्टीस्पेशियलिटी अस्पताल के एमडी योगेंद्र राठी ने बता कि सुबह जब मामले की जानकारी हुई तो स्वयं ही पुलिस को जानकारी देकर आरोपी स्टाफ को हिरासत में भिजवाया है। आरोपी स्टाफ को नौकरी से भी निकाल दिया है। पीड़ित परिवार की हरसंभव मदद की जा रही है। उन्हें जल्द ही अस्पताल से डिस्चार्ज भी कर दिया जाएगा।

सीसीटीवी खंगालने में जुटी पुलिस

आरोपों की पुष्टि करने के लिए पुलिस अस्पताल में लगे सीसीटीवी कैमरे की फुटेज खंगाल रही है। हालांकि सूत्रों ने दावा किया है कि आरोपित नर्सिंग स्टाफ पीड़िता के पास आते जाते दिखाई दिया है। वहीं मामले को लेकर एडिशनल डीसीपी ग्रेटर नोएडा अशोक कुमार ने कहा है कि तहरीर के आधार पर नर्सिंग स्टाफ भानू के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। मामले में सख्त कार्रवाई की जाएगी।

बीजेपी की यूपी राज्यसभा की लिस्ट तैयार, इन नामों पर किया गया विचार

ग्रेटर नोएडा – नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देशदुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post