Monday, 24 June 2024

बुद्धम शरणम गच्छामि का संदेश देती बुद्ध पूर्णिमा,जानें तिथि और महत्व  

Buddha Purnima 2024 Date : वैशाख माह की पूर्णिमा तिथि के दिन बुद्ध पूर्णिमा का त्यौहार मनाया जाता है. इस…

बुद्धम शरणम गच्छामि का संदेश देती बुद्ध पूर्णिमा,जानें तिथि और महत्व  

Buddha Purnima 2024 Date : वैशाख माह की पूर्णिमा तिथि के दिन बुद्ध पूर्णिमा का त्यौहार मनाया जाता है. इस समय को एक बेहद विशेष एवं शुभ दिन के रुप में पूजा जाता है. बुद्ध पूर्णिमा जिसे वैशाख पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है. शास्त्रों के अनुसार इसी शुभ समय पर भगवान बुद्ध का अवतरण हुआ.

धर्म ग्रंथों एवं शास्त्रों के अनुसार इस पूर्णिमा का व्रत करने से व्यक्ति के जीवन की मनोकामनाएं पूरी होती हैं. इस बार बुद्ध पूर्णिमा का पर्व 23 मई 2024 के दिन धूमधाम के साथ मनाया जएगा. आइये जान लेते हैं बुद्ध वैशाख पूर्णिमा से संबंधित विशेष बातें एवं पूजा समय.

बुद्ध पूर्णिमा 2024 पूजा Buddha Purnima 2024 Date

वैशाख माह की पूर्णिमा तिथि को बुद्ध पूर्णिमा एवं वैशाख पूर्णिमा का पर्व मनाते हैं. इस दिन को पीपल पूर्णिमा के नाम से भी जाना जाता है. कहा जाता है की इसी शुभ दिन पर गौतम बुद्ध का जन्म हुआ था. इसी कारण इस दिन को बुद्ध पूर्णिमा के रुप में मनाते हैं. इस शुभ अवसर पर देश भर में उत्साह एवं भक्ति का माहोल दिखाई देता है. इस शुभ दिन को बुद्ध और हिंदू दोनों धर्मों के मानने वाले उत्साह के साथ मनाते हैं. बुद्ध पूर्णिमा का दिन भारत में ही नहीं अपितु विश्व भर में मनाया जाता है.

Buddha Purnima 2024 Date

भगवान गौतम का जन्म पूर्णिमा के दिन हुआ था तथा उन्हें ज्ञान की प्राप्ति भी इसी पूर्णिमा तिथि पर होती है इसलिए इसे बुद्ध पूर्णिमा के नाम से जाना जाता है. धार्मिक ग्रंथों के अनुसार बुद्ध पूर्णिमा के दिन बुद्ध का जन्म लेना भगवान श्री हरि के अवतरण से संबंधित रहा है जिन्हें भगवान विष्णु का दसवां अवतार भी माना जाता है. इसी पूर्णिमा के दिन उन्हें ज्ञान की प्राप्ति भी हुई थी और इसी दिन उन्हें मोक्ष की प्राप्ति भी हुई थी ऎसे में यह शुभ समय बहुत ही विशेष होता है.

बुद्ध पूर्णिमा ज्ञान के जागरण का समय  

बुध पूर्णिमा को ज्ञान पूर्णिमा के रुप में भी पूजा जाता है. पौराणिक मान्यताओं के अनुसार भगवान बुद्ध का जन्म, ज्ञान, निर्वाण सभी इस तिथि से संबंधित रहा है. ऎसे में यह तिथि बेहद ही शुभ एवं पवित्र मानी जाती है. बुद्ध पूर्णिमा के दिन भगवान बुद्ध एवं श्री विष्णु की पूजा करने से व्यक्ति की सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं. जीवन में सुख, शांति और समृद्धि आती है.बुद्ध पूर्णिमा के दिन इस दिन सुबह जल्दी उठें और सुबह स्नान आदि के बाद प्रभु का पूजन करना चाहिए.इसके साथ ही प्रकृति की पूजा, पेड़ पौधों को लगाना एवं पशु पक्षियों को अन्न इत्यादि देना शुभ होता है. बुद्ध पूर्णिमा के दिन जल का दान अवश्य करना चाहिए तथा गरीबों को भोजन वितरित करना चाहिए.
ज्योतिषाचार्य राजरानी

जब तंत्र-मंत्र की योजना हुई फेल, तो बेटी के प्रेमी को दी ये खौफनाक सजा

Related Post