Thursday, 18 April 2024

नवरात्रि के नौ दिन नौ भोग जानें कौन से दिन कौन सा भोग अर्पित करने से खुल सकती है किस्मत 

Chaitra Navratri Bhog : नवरात्रि का पर्व देवी दुर्गा की पूजा अराधना का समय होता है. ऎसे में माता को…

नवरात्रि के नौ दिन नौ भोग जानें कौन से दिन कौन सा भोग अर्पित करने से खुल सकती है किस्मत 

Chaitra Navratri Bhog : नवरात्रि का पर्व देवी दुर्गा की पूजा अराधना का समय होता है. ऎसे में माता को अर्पित किए जाने वाले भोग भी बहुत विशेष होते हैं. माता को हर दिन अलग अलग तरह की भोग सामग्री अर्पित की जाती है. माता को लगाया जाने वाला भोग भक्तों को भाग्य में वृद्धि देने वाला और मनोकामनाओं को पूर्ण करने वाला होता है.

हिंदू धर्म में भगवान को अर्पित किए जाने वाला भोग बहुत महत्व रखता है. इसी तरह नवरात्रि के समय नौ दिन माता के लिए विशेष पकवान तैयार करना और उनका माता को भोग लगाना भक्त के लिए बहुत ही खास माना गया है.

Navratri Bhog for 9 Days आइये जान लेते हैं कि इस बार चैत्र नवरात्रि पर माता को लगाए जाने वाले भोग कौन कौन से होंगे.

माता को नौ दिन लगाए जाने वाले भोग प्रसाद की सूची

माँ के पहले दिन का भोग 
चैत्र माह में नवरात्रि के पहले दिन मां शैलपुत्री की पूजा करने का विधान रहा है. इस दिन माता को हलवे का भोग अर्पित किया जाता है.

माँ के दूसरे दिन का भोग   
चैत्र माह में नवरात्रि के दूसरे दिन मां ब्रह्मचारिणी की पूजा करने का विधान रहा है. इस दिन माता को दूध से बने पदार्थ अर्पित किए जाते हैं.

माँ के तीसरे दिन का भोग  
चैत्र माह में नवरात्रि के तीसरे दिन देवी मां चंद्रघंटा की पूजा करने का विधान रहा है. इस दिन माता को बर्फी का भोग अर्पित किया जाता है.

माँ के चौथे दिन का भोग  
चैत्र माह में नवरात्रि के चौथे दिन देवी मां कुष्मांडा की पूजा करने का विधान रहा है. इस दिन माता को कुम्हड़ा अर्पित किया जाता है.

मां के पांचवें दिन का भोग 
चैत्र माह में नवरात्रि के पांचवें दिन देवी मां स्कंदमाता की पूजा की जाती है. इस दिन माता को मालपुए का भोग अर्पित किया जाता है.

माँ का छठे दिन का भोग 
चैत्र माह में नवरात्रि के छठे दिन देवी मां कात्यानी की पूजा करने का विधान रहा है. इस दिन माता को श्रीफल का भोग अर्पित किया जाता है.

माँ के सातवें दिन का भोग  
चैत्र माह में नवरात्रि के सातवें दिन देवी मां कालरात्रि की पूजा करने का विधान रहा है. इस दिन माता को लौंग और गुड़ का भोग अर्पित करते हैं.

माँ के आठवें दिन का भोग 
चैत्र माह में नवरात्रि के आठवें दिन देवी मां महागौरी की पूजा करने का विधान रहा है. इस दिन माता को खीर का भोग अर्पित किया जाता है.

माँ के नवम दिन का भोग  
चैत्र माह में नवरात्रि के नौवें दिन देवी मां सिद्धिदात्री की पूजा करने का विधान रहा है. इस दिन देवी माता को शहद का भोग अर्पित किया जाता है.
एस्ट्रोलॉजर राजरानी

बसौड़ा की पूजा कब है?, जानें बसौड़ा शीतला अष्टमी पूजा शुभ मुहूर्त आरती मंत्र

ग्रेटर नोएडा – नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देशदुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post