Saturday, 15 June 2024

देवउठनी एकादशी के दिन इन सात विशेष उपाय को करने से आप हो जाएंगे मालामाल

सनातन धर्म के अनुसार देवउठनी एकादशी  से मंगल कार्य की शुरुआत हो जाती है। मान्यतानुसार इस दिन व्रत करने से हजारों अश्वमेघ यज्ञ के बराबर पुण्य फल की प्राप्ति होती है

देवउठनी एकादशी के दिन इन सात विशेष उपाय को करने से आप हो जाएंगे मालामाल

Devuthani Ekadashi : सनातन धर्म के अनुसार देवउठनी एकादशी  से मंगल कार्य की शुरुआत हो जाती है। मान्यतानुसार इस दिन व्रत करने से हजारों अश्वमेघ यज्ञ के बराबर पुण्य फल की प्राप्ति होती है। ज्योतिष की माने तो इस दिन किये जाने वाले विशेष उपायों से माता लक्ष्मी और भगवान विष्णु की विशेष कृपा प्राप्त होती है।

छोटे छोटे उपाय से हो सकता है बड़ा लाभ

यदि आप भी चाहते हैं कि आप के ऊपर भी साल भर भगवान विष्णु और माता लक्ष्मी की कृपा रहे और आपकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण हों तो आप भी देवउठनी एकादशी के दिन छोटे-छोटे उपाय को कर सकते हैं। इन उपायों को करने से आप भी हो सकते हैं मालामाल और आपके सारे कष्‍ट हो जाएंगे दूर।

Devuthani Ekadashi news in hindi

किये जाने वाले विशेष उपाय 

1 ) देवउठनी एकादशी के दिन सुबह स्नान करके भगवान विष्णु जी का केसर मिले दूध से शंख में भर कर अभिषेक करना चहिये। ऐसा करने से विष्णु जी प्रसन्न होते हैं और आपकी मनोकामना पूर्ण होती है। इसमें तुलसी दल जरूर शामिल करना चाहिए। इससे माता लक्ष्मी जी भी प्रसन्न होती है।

2 ) देवउठनी एकादशी के दिन भगवान विष्णु जी को गन्ने का भोग लगाना चाहिए और विष्णु सहस्रनाम स्तोत्र का पाठ करें। फिर इस गन्ने का प्रसाद वितरण करना चाहिए। इस प्रसाद को घर के सभी व्यक्तियों को खाना चाहिए। इससे सभी सदस्यों की उन्नति होगी और आपसी प्रेम बना रहेगा। इस दिन गरीबों को गन्ने का दान भी करना चाहिए।

3)  इस दिन तुलसी जी की पूजा करने का विशेष विधान है। आप इनकी पूजा में गन्ने के रस में दूध मिला कर अर्पित करें। पूजा में देशी घी के पांच दीपक से आरती करें। इस उपाय को करने से आपके घर में कभी पैसों की कमी नहीं रहेगी। माता लक्ष्मी जी की कृपा से जीवन मे चले आ रहे कष्टों से मुक्ति मिलेगी।

4) इस दिन श्री यंत्र की स्थापना करनी चाहिए। पौराणिक कथाओं के अनुसार माता लक्ष्मी जब नाराज होकर बैकुंठ चली गयी थी तब देव गुरु बृहस्पति ने लक्ष्मी जी को वापस बुलाने के लिये श्री यंत्र की स्थापना की थी। अगर आप आर्थिक परेशानी से जूझ रहे हैं तो आपको स्फटिक का पिरामिड गुलाबी कपड़े में पूजा स्थान में स्थापित करें। इसको जल से स्नान करायें और पुष्प अर्पित करें। इसके साथ श्री यंत्र के मंत्र का जाप करना चाहिए। ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं नम:” एवं “ॐ श्रीं ह्रीं श्रीं कमले कमलालये प्रसीद प्रसीद श्री ह्रीं श्री ॐ महालक्ष्म्यै नम:” मंत्र का जाप करना चाहिए।

5 ) यदि बार-बार अपके काम में रुकावट आती है तो इस दिन मंदिर में थोड़े-से बादाम के साथ एक जटा वाले नारियल को भगवान विष्णु जी को अर्पित करना चाहिए। ऐसा करने से आपके अटके हुए काम बनने लगेंगे।

6)  इस दिन माता लक्ष्मी को और भगवान विष्णु जी सफेद मिठाई या फिर खीर का भोग लगाना चाहिए। इससे माता लक्ष्मी जी प्रसन्न होती हैं और धन लाभ होता है। इस भोग में तुलसी दल अवश्य शामिल करना चाहिए।

7) यदि किसी के विवाह में परेशानी आ रही है, उस व्यक्ति को भगवान विष्णु को केसर का तिलक,हल्दी का तिलक,और पीले चंदन का तिलक लगा कर पीले पुष्प अर्पित करने चाहिए ।

बैंक्वेट हाल मालिक का गायब बेटा अपनी ही गाड़ी में मिला खून से सराबोर

ग्रेटर नोएडा– नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देश-दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post