Friday, 14 June 2024

देव दीपावली पर क्यों जरूरी है दीप दान,जानें शुभ मुहूर्त और महत्व  

अमावस्या में आने वाली दिवाली की तरह ही कार्तिक पूर्णिमा में आने वाली देव दिवाली का भी अपना एक विशेष महत्व रहा है

देव दीपावली पर क्यों जरूरी है दीप दान,जानें शुभ मुहूर्त और महत्व  

Dev Deepawali 2023  कार्तिक माह में आने वाली पूर्णिमा तिथि को देव दीपावली के रुप में मनाया जाता है. देश भर में यह एक बेहद ही महत्वपूर्ण पर्व होता है. अमावस्या में आने वाली दिवाली की तरह ही कार्तिक पूर्णिमा में आने वाली देव दिवाली का भी अपना एक विशेष महत्व रहा है. इस दिन कई तरह के धार्मिक अनुष्ठानों को किया जाता है. इस दिन की दिवाली को देवताओं की दीपावली के रुप में पूजा जाता है. मान्यताओं के अनुसार इस दिन देवता लोग दिवाली का पर्व मनाते हैं और पृथ्वी पर उनका विचरण होता है. इस दिन पर श्री विष्णु भगवान की पूजा के साथ ही भगवान शिव का भी विशेष पूजन किया जाता है.

कब मनाई जाएगी देव दीपावली 2023?  

इस वर्ष 26 और 27 नवंबर 2023 को दो दिन मनाई जाएगी देव दीपावली.पूर्णिमा तिथि का आरंभ 26 नवम्बर , 2023 को दोपहर 15:53 पर होगा और पूर्णिमा तिथि की समाप्ति 27 नवम्बर, 2023 को दोपहर 14:45 पर होगी. ऎसे में देव दीपावली का समय 26 नवंबर को प्रदोष काल पूजा के लिए उपयुक्त होगा. इसके अलावा उदया तिथि के अनुसार 27 नवंबर के दिन कार्तिक पूर्णिमा का व्रत किया जाएगा अत: इस कारण यह दिन दो दिन इस पर्व को मनाया जा सकेगा.
इस दिन भी संपूर्ण देश में दीपों को जलाया जाता है. सभी दिशाएं इस दिन जगमगाती रोशनी से भर उठती है. पंचांग अनुसार देव दीपावली का पर्व कार्तिक अमावस्या की दिवाली के लगभग 15 दिन बाद मनाया जाता है. देव दीपावली को पूर्णिमा का चंद्रमा प्राप्त होता है और इस दिन दीप दान करने का बहुत अधिक पुण्य प्रभाव भी माना जाता है.

Dev Deepawali in hindi 

देव दीपावली और पूजा अनुष्ठान 

इस शुभ दिन को कई तरह से मनाए जाने का विधान रहा है. इस दिन को कार्तिक पूर्णिमा के रुप में मनाते हैं. वहीं इस दिन को त्रिपुरोत्सव के नाम से भी जाना जाता है. इस दिन पर ही चातुर्मास की समाप्ति का समय भी होता है. इसके साथ ही यह दिन गुरु नानक जयंती के रुप में भी मनाते हैं. यह देव दिवाली कई रुपों में जीवन को प्रकाशित कर देने वाला समय होता है.

इस दिन किया जाने वाला प्रत्येक शुभ एवं धार्मिक कार्य अत्यंत गुणा शुभ फलों के रुप में प्राप्त होता है. माना जाता है की इस दिन किया जाने वाला व्रत अनुष्ठान भक्त के जीवन को प्रकाश से भर देने वाला होता है. आइये जानते हैं कि इस दिन किन कार्यों को करने से प्राप्त होता है सुख एवं समृद्धि का वरदान

देव दीपावली के दिन करें यह विशेष कार्य 

देव दीपावली  के दिन का समय स्नान कार्यों के लिए उत्तम होता है. इस दिन लोग देश भर के तीर्थ स्थलों एवं पवित्र नदियों में जाकर स्नान करते हैं तथा शुभ फल पाते हैं. इस दिन गंगा, यमुना एवं अन्य पवित्र नदियों में स्नान करने से अच्छे स्वास्थ्य का लाभ एवं सकारात्मक उर्जाओं की प्राप्ति होती है.

देव दीपावली के दिन भगवान शिव, विष्णु, दामोदर भगवान, कार्तिक माह की पूजा की जाती है. इस दिन पूजन द्वारा समस्त कार्तिक माह का फल भी भक्त को प्राप्त होता है.

देव दीपावली के दिन दीपदान के साथ तुलसी पूजा का महत्व होता है. इस दिन पर किया जाने वाला दीपदान जीवन को सकारात्मक शुभता दिलाता है. व्यक्ति के शुभ कर्मों में वृद्धि होती है. इस प्रकार देव दीपावली के दिन कुछ विशेष कार्यों को कर हम सभी इस दिन के शुभ फलों को प्राप्त कर पाने में सफल हो सकते हैं.
एस्ट्रोलॉजर राजरानी

राशिफल 18 नवंबर 2023- शनिवार का दिन आपके लिए रहेगा कैसा, जानें आज के राशिफल में

ग्रेटर नोएडा नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देश-दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post