Thursday, 13 June 2024

Agriculture : खराब मौसम से फसल को नुकसान, फिर भी गेहूं की बंपर पैदावार की उम्मीद

नई दिल्ली। केंद्रीय खाद्य सचिव संजीव चोपड़ा ने कहा कि सरकार को 2022-23 में रिकॉर्ड 11.21 करोड़ टन गेहूं उत्पादन…

Agriculture : खराब मौसम से फसल को नुकसान, फिर भी गेहूं की बंपर पैदावार की उम्मीद

नई दिल्ली। केंद्रीय खाद्य सचिव संजीव चोपड़ा ने कहा कि सरकार को 2022-23 में रिकॉर्ड 11.21 करोड़ टन गेहूं उत्पादन की उम्मीद है। देश के कुछ हिस्सों में खराब मौसम से फसल को नुकसान हुआ है। इसके बावजूद सरकार को गेहूं की रिकॉर्ड पैदावार होने उम्मीद है। हालांकि, इससे फसल की गुणवत्ता कुछ हद तक प्रभावित हो सकती है।

Agriculture

Electricity : केंद्र सरकार का नया फरमान, राज्यों को नहीं मिलेगी बिजली

रिकार्ड 11.21 करोड़ टन गेहूं उत्पादन का अनुमान

सरकार ने 2022-23 फसल वर्ष (जुलाई-जून) में 11.21 करोड़ टन का रिकॉर्ड गेहूं उत्पादन का अनुमान लगाया है। कुछ राज्यों में गर्मी की लहर के कारण इससे पिछले वर्ष में गेहूं का उत्पादन मामूली रूप से घटकर 10.77 करोड़ टन रह गया था। चोपड़ा ने कहा कि पिछले दो सप्ताह में खराब मौसम के कारण गेहूं की फसल को कुछ नुकसान हुआ है।

Agriculture

Chess : कोरोना का खौफ : चीन में एशियाई खेलों से बाहर रह सकती हैं हंपी

गेहूं की खरीद के लिए गुणवत्ता मानकों में ढील

सचिव ने कहा कि मध्य प्रदेश में गेहूं की खरीद के लिए गुणवत्ता मानकों में ढील दी गई है। केंद्र जल्द ही पंजाब और हरियाणा में गेहूं की खरीद के लिए गुणवत्ता मानकों में ढील देने पर विचार करेगा। सरकारी एजेंसी एफसीआई और राज्य एजेंसियां कई राज्यों में खरीद शुरू कर चुकी हैं। केंद्र ने सोमवार को कहा था कि प्रमुख उत्पादक राज्यों में हाल की बेमौसम बारिश और ओलावृष्टि के कारण गेहूं की फसल को लगभग 8-10 प्रतिशत नुकसान होने का अनुमान है। सरकार ने आगे कहा कि देर से बुवाई वाले क्षेत्रों में बेहतर उपज की संभावना से इसकी भरपाई हो सकती है।

देश विदेश की खबरों से अपडेट रहने लिए चेतना मंच के साथ जुड़े रहें।

देशदुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें।

Related Post