Sunday, 16 June 2024

हाथी का आतंक, 2 साल में 200 मौतें

छत्तीसगढ़ के जशपुर में हाथी के आतंक ने लोगों का जीना मुश्किल कर दिया है। शहर में आए दिन युवक…

छत्तीसगढ़ के जशपुर में हाथी के आतंक ने लोगों का जीना मुश्किल कर दिया है। शहर में आए दिन युवक युवतियां हाथी द्वारा किए गए हमले का शिकार हो रहे हैं। ऐसी ही एक घटना सोमवार को सामने आई जब हाथी के हमले का शिकार हुई महिला ने दम तोड़ दिया । इसके अलावा मंगलवार को दो युवकों की हाथी की चपेट में आने से मौत हो गई। घटना तपकरा वन परिक्षेत्र के बाबूसाजबहार की है। घटना की सूचना मिलते ही वन विभाग की टीम ने घटनास्थल का दौरा किया और हाथियों को भगाने का प्रयास किया जा रहा है। बता दें कि हाथी ने बीते सोमवार को तपराकर रेंज में एक महिला को सूंड से खीचकर कुचल दिया था। घटना के दौरान बरटोली निवासी महिला अपने पति के साथ बाइक से बाजार जा रही थी। इससे पहले भी रायमुंडा निवासी 50 वर्षीय सुखो बाई पर भी हमला किया था। जानकारी के अनुसार तीन सालों में 200 लोगों की जान जा चुकी है। वहीं शहर में करीब तीन हाथी होने की खबर सामने आई है। बता दें कि, कई हाथियों को करंट भी लगाया गया जिसके कारण कुछ हाथियों की मौत हुई है। खासकर रायगढ़, धरमजयगढ़, कोरबा, महासमुंद, जशपुर के इलाके सबसे ज्यादा प्रभावित हैं। फिलहाल वन विभाग की टीम हाथियों को काबू करने के लिए प्रयास करने में जुटी है।

Related Post