Saturday, 18 May 2024

Security Force Jobs : क्यों सेना की नौकरी छोड़ रहे हैं जवान ?

  Security Force Jobs :  अर्धसैनिक बलों के जवानो की नौकरी छोड़ने की दर ने सरकार की चिंता बढ़ा दी…

Security Force Jobs : क्यों सेना की नौकरी छोड़ रहे हैं जवान ?

 

Security Force Jobs :  अर्धसैनिक बलों के जवानो की नौकरी छोड़ने की दर ने सरकार की चिंता बढ़ा दी है ।गृह मंत्रालय से संबंधित एक संसदीय समिति की रिपोर्ट से पता चला है  की देश के छह अर्धसैनिक बलो के 50,155 कर्मियों ने पिछ्ले पांच वर्षों मे नौकरी छोड़ी है।नौकरी छोड़ने की ये रफ्तार सुरक्षाबलों के नियमित काम को प्रभावित कर सकता है समिति की रिपोर्ट का मानना है, काम करने की स्थिति मे महत्वपूर्ण सुधार के लिये तत्काल उपाय किये जाने चाहिये।

Tribute : प्रधानमंत्री मोदी ने दी भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु को श्रद्धांजलि

Security Force Jobs :

रिपोर्ट 2021-2022 के अनुसार असम राइफल्स और केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल नौकरी छोड़ने की दर मे वृद्घि हुई है ।बीएसएफ,आईटीबीपी,सीआरपीएफ मे स्थिति सामान्य रही है ।2018 और 2022 के बीच सबसे अधिक बीएसएफ कर्मियों ने नौकरी छोड़ी।

एक अधिकारी ने कहा,सुरक्षा बलो मे यह समस्या पुरानी है ।हालांकि जवानो के कल्याण के लिये कई कदम उठाए गए हैं ।मगर समय पर प्रोन्नति ना मिलने,लंबे समय तक कठोर तैनाती या पारिवारिक कारणों से जवान स्तीफा दे रहे है ।
जवानो को रोकने के लिए क्या कर रही है सरकार

Greater Noida : बकाया का भुगतान न करने पर जारी हुई दो बिल्डरों के खिलाफ आरसी

सुधार के लिये ये कदम उठाए गये है: 
1)जवानों को कम से कम सौ दिन छुट्टी,परिवार के लिये आवासीय सुविधा,पोस्टिंग पर बेहतर आधारभूत सुविधाए दी जाये।
2)प्रोन्नति का बैकलॉग खत्म करने के लिये कई कदम उठाए गये है ।
3)जवानो की समस्या हल करने के लिये आंतरिक स्तर पर तंत्र भी बनाये गये है ।इनका असर आने वाले दिनो मे दिख सकता है ।

संसदीय समिति की सिफारिश :

जवानो की तैनाती मे रोटेशन नीति लागू हो जिससे जवान ज्यादा समय तक कठोर पोस्टिंग पर ना रहे।नौकरी छोड़ने  वाले जवानो की वजह तलाशने के लिये सर्वे किये जाये।स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति या इस्तीफे का विकल्प चुनने वाले जवानो का एग्जिट इंटरव्यू हो।

Related Post