Tuesday, 16 April 2024

अप्रैल फूल पर उल्लू बनाने का जुनून, बहुत पुराना है इतिहास

April Fools Day 2024 : एक अप्रैल यानि कि अप्रैल फूल का दिन। अप्रैल फूल के अवसर पर एक-दूसरे को…

अप्रैल फूल पर उल्लू बनाने का जुनून, बहुत पुराना है इतिहास

April Fools Day 2024 : एक अप्रैल यानि कि अप्रैल फूल का दिन। अप्रैल फूल के अवसर पर एक-दूसरे को उल्लू बनाने का जुनून लगातार बढ़ रहा है। हर कोई ऐसी-ऐसी तरकीब से अप्रैल फूल बना रहा है कि उल्लू बनने वाले को पता ही नहीं चलता कि अप्रैल फूल के कारण उसे उल्लू बनाया गया है। अप्रैल फूल के दिन एक-दूसरे को उल्लू बनाने का यह मामला बहुत पुराना है।

April Fools Day 2024

कब शुरू हुआ अप्रैल फूल?

सबको पता है कि अप्रैल महीने की पहली तारीख को अप्रैल फूल-डे मनाया जाता है। इस दिन एक-दूसरे को फूल यानि उल्लू बनाने का जुनून सबके सिर पर चढक़र बोलता है। अप्रैल फूल मनाने का यह सिलसिला सैकड़ों साल पहले वर्ष-1381 से शुरू हुआ था।

हुआ यह था कि एक दिन इंग्लैंड के राजा (King of England) रिचर्ड द्वितीय (Richard II) और बोहेमिया की रानी एनी (Anne, Queen of Bohemia) ने सगाई करने घोषणा कर दी थी। सगाई के फंक्शन की तारीख 32 मार्च रखी गई थी। सगाई की खुशी में चारों तरफ जश्न का माहौल था, बाजार सजाए जा रहे थे, सभी पहनने के लिए नए कपड़ों का बंदोबस्त कर रहे थे फिर अचानक लोगों को एहसास हुआ कि 32 मार्च तो कैलेंडर में कोई तारीख है ही नहीं। इसके बाद सभी के समझ आया कि उन्हें बेवकूफ बना दिया गया है।

सिफ यही नहीं, अप्रैल फूल डे को लेकर कई कहानियां हैं, जिसमें से एक कहानी फ्रांस के कैलेंडर से भी जुड़ी हुई है। दरअसल, 1582 में चार्ल्स पोप ने ग्रेगोरियन के पुराने कैलेंडर को बदलकर उसकी जगह एक नया जूलियन कैलेंडर लॉन्च किया था। उस दौरान जूलियन कैलेंडर में एक अप्रैल से नए साल की शुरुआत होती थी, तो वहीं ग्रेगोरियन कैलेंडर में नया साल एक जनवरी से मनाया जाता था। इस बदलवा को बहुत से लोगों ने सालों तक नहीं अपनाया क्योंकि उन्हें अप्रैल की आदत थी। इसके बाद जो लोग 1 अप्रैल से नया साल मनाते थे उन्हें बाकी लोग बेवकूफ कहते थे। इन लोगों का मजाक उड़ाया जाता था, इसी वजह से उन्हें अप्रैल फूल कहा जाने लगा और इस दिन की शुरुआत हो गई।

सभी देशों में मनाया जाता है अप्रैल फूल

फ्रांस, इटली, बेल्ज‍ियम में कागज की मछली बनाकर लोगों के पीछे चिपका दी जाती है और फिर सभी का मजाक बनाकर अप्रैल फूल डे मनाया जाता है।

स्पेनिश बोलने वाले देशों में 28 दिसंबर को अप्रैल फूल मनाया जाता है, जिसे डे ऑफ होली इनोसेंट्स कहा जाता है।

ईरानी फारसी नववर्ष के 13वें दिन एक-दूसरे पर तंज कसते हैं, यह 1 या 2 अप्रैल का दिन होता है।

डेनमार्क में 1 मई को यह मनाया जाता है और इसे मज-कट कहते हैं।

भारत में 19वीं सदी में अंग्रेजों ने अप्रैल फूल को मनाने की शुरुआत की थी। पिछले कुछ सालों से इसे मनाने का क्रेज बढ़ गया है. सोशल मीडिया पर भी इससे जुड़े मीम्स जोक्स जमकर वायरल होते हैं. हालांकि, मजाक करते वक्त इन बातों का ध्यान रखें कि आपकी किसी भी बात से लोगों को ठेस ना पहुंचे। यह अलग बात है कि कुछ लोग अप्रैल फूल मनाने के चक्कर में सारी मर्यादाएं भूल जाते हैं। आप भी मना सकते हैं अप्रैल फूल-डे पूरी जानकारी के साथ।

LPG से FasTag केवाईसी तक, लागू हुए ये 6 बड़े बदलाव, जनता पर पड़ेगा असर

ग्रेटर नोएडा – नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देशदुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post