Monday, 24 June 2024

नाबालिग रईसजादे ने शराब के नशे में लग्जरी पोर्श कार से सॉफ्टवेयर इंजीनियरों को कुचला,परिवार का अंडरवर्ल्ड डॉन से भी कनेक्शन 

Pune Porsche Case Update : महाराष्ट्र के पुणे में लग्जरी पोर्श कार से दो सॉफ्टवेयर इंजीनियरों को उड़ाने वाले रईसजादे…

नाबालिग रईसजादे ने शराब के नशे में लग्जरी पोर्श कार से सॉफ्टवेयर इंजीनियरों को कुचला,परिवार का अंडरवर्ल्ड डॉन से भी कनेक्शन 

Pune Porsche Case Update : महाराष्ट्र के पुणे में लग्जरी पोर्श कार से दो सॉफ्टवेयर इंजीनियरों को उड़ाने वाले रईसजादे और उसके बिल्डर पिता के नए-नए कारनामें सामने आ रहे हैं। पुलिस तफ्तीश के दौरान पता चला है कि लग्जरी कार का परमानेंट रजिस्ट्रेशन मार्च महीने से पेंडिंग था। महाराष्ट्र परिवहन विभाग के अधिकारियों का कहना है कि ढाई करोड़ की कार खरीदने वाले रईसजादे और उसके बिल्डर पिता ने कार के रजिस्ट्रेशन के लिए 1758 रुपए की फीस तक नहीं चुकाई थी । महाराष्ट्र पुलिस का दावा है की लग्जरी पोर्श कार को जाने-माने बिल्डर का 17 साल का नाबालिग बेटा चला रहा था। यह दुर्घटना रविवार सुबह पुणे के कल्याणी नगर इलाके में हुई थी। दुर्घटना के समय नाबालिग किशोर नशे में था और उसने अपनी कर से दो सॉफ्टवेयर इंजीनियरों को कुचल दिया। जिसमें एक लड़की भी थी।

रईसजादे ने लग्जरी पोर्श कार से सॉफ्टवेयर इंजीनियरों को कुचला

आपको बता दे कि नाबालिग किशोर का ताल्लु्क पुणे के जाने-माने रियलिटी कारोबार घराने से हैं। इस परिवार का अपराधों से पुराना नाता है । जानकारी के मुताबिक सामने आया है कि अग्रवाल परिवार का अंडरवर्ल्ड डॉन से भी कनेक्शन रहा है। आरोपी के दादा ने संपत्ति विवाद में छोटा राजन की मदद ली थी। इससे पहले मंगलवार को पुलिस ने आरोपी नाबालिग के पिता विशाल अग्रवाल को गिरफ्तार किया था।

अग्रवाल परिवार का अंडरवर्ल्ड डॉन से भी कनेक्शन

Pune Porsche Case Update

बताया जा रहा है कि आरोपी नाबालिग के दादा सुरेंद्र कुमार अग्रवाल ने अपने भाई से संपत्ति विवाद में अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन की मदद ली थी। जिसमें राजन के गुरगे ने गोलीबारी भी की थी और इस मामले में हत्या की कोशिश की एफआईआर दर्ज हुई थी । यह मामला अभी कोर्ट में चल रहा है। पुणे पोर्श कार दुर्घटना मामले में आरोपी नाबालिग को जमानत मिलने से लोगों में भारी गुस्सा है।

नाबालिग आरोपी को जुवेनाइल कोर्ट से मिली जमानत Pune Porsche Case Update

अब मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे का बयान सामने आया है कि इस मामले में कड़ी कार्रवाई की जाएगी। आपको बता दें कि पुणे पोर्श कार दुर्घटना मामले में नाबालिग आरोपी को जुवेनाइल कोर्ट से जमानत दे दी गई। जब उसके दादा ने यह भरोसा दिलाया कि वह अपने पोते को बुरी संगत से दूर रखेंगे। आपको बता दें की नाबालिग नशे का आदी था और कार चलाते समय भी वह नशे में था। जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड ने 17 साल के नाबालिग किशोर को  22 मई से पहले कोर्ट के सामने पेश होने का नोटिस दिया था। इस मामले में पुणे पुलिस द्वारा जुवेनाइल बोर्ड से जमानत की पुनः समीक्षा करने की प्रार्थना की गई है।

पीड़ित परिवार लगा रहा न्याय की गुहार

आपको बता दे इस दुर्घटना में जबलपुर की 24 साल की अश्वनी कोष्टा की मौत हो गई थी। अश्वनी कोष्टा के पिता का कहना है कि उनकी बेटी बहुत होनहार थी, उसके कई सपने थे लेकिन उसकी मौत के साथ ही सब सपने टूट गए हैं। अश्वनी कोष्टा के पिता और भाई ने आरोपियों को कड़ी सजा देने की मांग की है। आपको बता दें पुणे में बिल्डर विशाल अग्रवाल के नाबालिग बेटे ने पुणे में लग्जरी पोर्श कार से मध्य प्रदेश के दो युवा आईटी इंजीनियरों को कुचल दिया था। दोनों जबलपुर और उमरिया के रहने वाले थे। मंगलवार को इन दोनों का अंतिम संस्कार कर दिया गया। अश्विनी कोष्टा के पिता का कहना था कि अगर कानून ठीक तरह से काम करता तो यह दुर्घटना कभी नहीं होती। अश्वनी के पिता ने कहा कि एक नाबालिग नशे की हालत में गाड़ी चला रहा था लेकिन उसे किसी ने नहीं रोका। उन्होंने कहा कि आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए ताकि सबको सबक मिले। उन्होंने बताया कि उनकी बेटी अश्विनी कोष्टा पुणे में पढ़ाई कर रही थी और काम भी कर रही थी। अश्विनी केवल 24 वर्ष की थी। आपको बता दें कि तेज रफ्तार पोर्श कार ने सॉफ्टवेयर इंजीनियरों की स्कूटी पर टक्कर मार दी थी जिसमें 24 वर्षीय अनीश अवड़िया और अश्विनी कोष्टा की मौके पर ही मौत हो गई थी। अश्वनी के परिवार की मांग है कि आरोपी चालक पर किशोर नहीं बल्कि वयस्क की तरह मुकदमा चलाया जाए।Pune Porsche Case Update

अमेरिकी फोन नम्बर से टीवी चैनल के सीईओ का डाटा हैक, युवक का किया बैंक अकाउंट खाली

Related Post