Saturday, 25 May 2024

संकल्प पूरा होने के बाद राजस्थानी जोड़े ने की शादी, राम मंदिर बनने की ली थी प्रतिज्ञा

Ayodhya News : अयोध्या में रामलला के विराजमान होते ही देशके कई लोगों के संकल्प पूरे हुए है। ऐसा ही…

संकल्प पूरा होने के बाद राजस्थानी जोड़े ने की शादी, राम मंदिर बनने की ली थी प्रतिज्ञा

Ayodhya News : अयोध्या में रामलला के विराजमान होते ही देशके कई लोगों के संकल्प पूरे हुए है। ऐसा ही एक संकल्प राजस्थान के रहने वाले एक जोड़े का भी पूरा हुआ है। इस जोड़े ने 33 साल पहले संकल्प लिया था कि अयोध्या जब राम मंदिर बनेगा और रामलला विराजमान होंगे, वे तभी शादी करेंगे।

Ayodhya News

अब इस जोड़े का संकल्प पूरा हो गया है। रामलला के भव्य मंदिर में विराजमान होते ही इस राजस्थानी जोड़े ने अयोध्या के कारसेवकपुरम परिसर में स्थित यज्ञ वेदी के सात फेरे लिए और पवित्र अग्नि को साक्षी मानकर शादी कर ली। बता दे कि इस जोड़े ने वरमाला के लिए भी उसी माला को चुना है, जिसका प्रभु श्रीराम के श्रृंगार के लिए मंदिर में उपयोग किया गया था।

प्रतिज्ञा पूर्ण होने के बाद की शादी

दरअसल राजस्थान की राजधानी जयपुर के रहने वाले डॉ. महेंद्र भारती साल 1990 में विवाह के योग्य हो गए थे। लेकिन उसी समय कारसेवकों पर गोली चलने की घटना से वे इतने व्यथित हुए कि उन्होंने संकल्प लिया कि जब तक अयोध्या में भगवान राम का भव्य मंदिर नहीं बन जाता है, तब तक वे शादी नहीं करेंगे और न ही कोई माला पहनेंगे। अब अयोध्या में रामलला के भव्य मंदिर बनने के बाद डॉ. महेंद्र भारती ने अजमेर की रहने वाली डॉ. शालिनी गौतम से अयोध्या में शादी कर ली। 33 वर्ष की प्रतिज्ञा पूर्ण होने के बाद इस जोड़े ने शादी की है। इस जोड़े की शादी पुरोहित बंधु तिवारी ने कराई।

Ayodhya News

1990 में लिया था संकल्प

इस मौके पर डॉ. महेंद्र भारती ने कहा कि बहुत आनंदित हूं, बहुत अभिभूत हूं। यह क्षण और यह पल मेरे जीवन में सौभाग्य बनकर आया है। उन्होने बताया कि साल 1990 में संकल्प लिया था कि भगवान श्रीराम का मंदिर जब बनेगा और भव्य मंदिर में मैं उनके दर्शन करूंगा, तभी विवाह करूंगा। अब मनोकामना पूरी हुई है, एक इतिहास बना है। वहीं पत्नी डॉक्टर शालिनी गौतम ने कहा कि मुझे रामलला के मंदिर निर्माण पर विश्वास था। मुझे यह उम्मीद थी कि भगवान का भव्य मंदिर बनेगा और रामलला के भव्य मंदिर में विराजमान होने के साथ मुझे मेरे राम मिल गए।

RSS के प्रचारक रहे है डॉ. महेंद्र

आपको बता दें कि डॉ. महेंद्र 20 वर्षों से अधिक समय से राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के प्रचारक रहे हैं। वहीं उनकी पत्नी शालिनी गौतम महाविद्यालय में बच्चों को पढ़ाती हैं। उनका कहना है कि शादी के लिए इससे बेहतर अवसर और कोई दूसरा नहीं हो सकता। वहीं महेंद्र ने कहा कि यह सनातन संस्कृति की पुनर्स्थापना का दौर है। इसलिए यह उनके व्यक्तिगत जीवन के लिए भी बेहद महत्वपूर्ण है।

नोएडा NCR में बसाए जाएंगे चार नए आधुनिक शहर, जानें क्या होगा रेट

ग्रेटर नोएडा– नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देश-दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post