Saturday, 18 May 2024

Prayagraj News : अखिल भारतीय रेलवे सुरक्षा बल श्वान प्रतियोगिता का शुभारंभ, 16 जोनल रेलवे के 60 श्वान ले रहे हैं हिस्सा

Prayagraj News : रेलवे सुरक्षा बल जोनल ट्रेनिंग सेंटर, सूबेदारगंज, प्रयागराज में शुक्रवार (8 सितंबर) को 3 दिवसीय अखिल भारतीय…

Prayagraj News : अखिल भारतीय रेलवे सुरक्षा बल श्वान प्रतियोगिता का शुभारंभ, 16 जोनल रेलवे के 60 श्वान ले रहे हैं हिस्सा

Prayagraj News : रेलवे सुरक्षा बल जोनल ट्रेनिंग सेंटर, सूबेदारगंज, प्रयागराज में शुक्रवार (8 सितंबर) को 3 दिवसीय अखिल भारतीय रेलवे सुरक्षा बल श्वान प्रतियोगिता की शुरुआत हुई। प्रतियोगिता का उद्घाटन समारोह रेलवे सुरक्षा बल प्रशिक्षण केंद्र के परेड मैदान में आयोजित किया गया। यह प्रतियोगिता 10 सितंबर तक चलेगी।

इस आयोजन में 16 जोनल रेलवे की रेलवे सुरक्षा बल डॉग स्क्वायड टीमें भाग ले रही हैं। प्रतियोगिता 3 अलग-अलग ट्रेडों में आयोजित की जा रही है, जिनमें ट्रैकिंग, विस्फोटक का पता लगाना और नारकोटिक्स का पता लगाना शामिल हैं। विभिन्न रेलवे से कुल 60 कुत्तों ने पंजीकरण कराया है और अपने क्षेत्र में अपनी विशेषज्ञता दिखाने के लिए प्रयागराज पहुंचे हैं।

इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित अमिय नंदन सिन्हा, आईजी-सह-प्रधान मुख्य सुरक्षा आयुक्त, उत्तर मध्य रेलवे, प्रयागराज ने मीट की शुरुआत की घोषणा की। आयोजन सचिव, अनुभव जैन, सीनियर डीएससी, आगरा ने टीम प्रबंधकों और भाग लेने वाली टीमों का मुख्य अतिथि से परिचय कराया।

Prayagraj News in Hindi

इनमें 21 ट्रैकर, 14 नारकोटिक्स और 25 विस्फोटक डिटेक्टर

Prayagraj News : इस प्रतियोगिता में पूर्वोत्तर रेलवे, गोरखपुर से 05 कुत्ते, पश्चिम रेलवे, मुंबई चर्च गेट से 03 कुत्ते, पश्चिम मध्य रेलवे, जबलपुर से 05 कुत्ते, दक्षिण पश्चिम रेलवे, हुबली से 06 कुत्ते, दक्षिण मध्य रेलवे, सिकंदराबाद से 05 कुत्ते, दक्षिण पूर्व मध्य रेलवे, बिलासपुर से 04 कुत्ते, पूर्वी रेलवे, कोलकाता से 06 कुत्ते, मध्य रेलवे, मुंबई से 03 कुत्ते, ईस्ट कोस्ट रेलवे, भुवनेश्वर से 03 कुत्ते, उत्तर पश्चिम रेलवे, जयपुर से 01 कुत्ता, उत्तर रेलवे से 02 कुत्ते, नई दिल्ली, उत्तर मध्य रेलवे, प्रयागराज से 02 कुत्ते, पूर्व मध्य रेलवे, हाजीपुर से 04 कुत्ते, दक्षिणी रेलवे, चेन्नई से 05 कुत्ते, दक्षिण पूर्व रेलवे, गार्डन रीच, कोलकाता से 04 कुत्ते और पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे मालीगांव से 02 कुत्ते शामिल हैं।

कुल 60 प्रतिस्पर्धी कुत्तों में से 21 ट्रैकर, 14 नारकोटिक्स डिटेक्टर और 25 विस्फोटक डिटेक्टर हैं। ये कुत्ते लाखों रेल यात्रियों की सुरक्षित यात्रा सुनिश्चित करने के लिए देश के विभिन्न हिस्सों में ट्रेनों और स्टेशन परिसरों में नियमित रूप से अपनी सेवाएं दे रहे हैं।

अखिल भारतीय रेलवे सुरक्षा बल श्वान प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए अपना नाम दर्ज कराने से पहले वे जोनल स्तर पर ऐसी प्रतियोगिता में भाग ले चुके हैं और जीत भी चुके हैं। जोनल स्तर पर सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने वालों को जोन द्वारा चयनित किया गया है और अखिल भारतीय रेलवे सुरक्षा बल श्वान प्रतियोगिता में भाग लेने के लिए भेजा गया है।

परखी जाएगी नशीले पदार्थों और विस्फोटकों के परीक्षण की क्षमता

Prayagraj News : प्रतियोगिता में अपराधियों पर नजर रखने, अलग-अलग परिस्थितियों में अलग-अलग मात्रा में अफीम और गांजा जैसे नशीले पदार्थों का पता लगाने में इनकी क्षमता का परीक्षण किया जाएगा। विभिन्न परिस्थितियों जैसे कंटेनरों में छिपे और कपड़ों में लपेटे विस्फोटकों का पता लगाने में प्रशिक्षित कुत्तों को अलग-अलग परिस्थितियों में अलग-अलग मात्रा में टीएनटी, आरडीएक्स, पीईके, गन पाउडर इत्यादि जैसे विभिन्न विस्फोटक पदार्थों का पता लगाने की क्षमता का परीक्षण किया जाएगा।

इस क्षेत्र में सेवा प्रदान कर चुके और विशेषज्ञता रखने वाले रेलवे सुरक्षा बल और उत्तर प्रदेश पुलिस विभाग के सेवानिवृत्त कर्मियों को इस प्रतियोगिता में जज के रूप में आमंत्रित किया गया है। विभिन्न कुत्तों के प्रदर्शन के आधार पर एक टीम का गठन किया जाएगा और उसे अखिल भारतीय पुलिस ड्यूटी मीट (एआईपीडीएम) में मैदान में उतारने से पहले प्रशिक्षित किया जाएगा।

बता दें कि अखिल भारतीय पुलिस ड्यूटी मीट का आयोजन फरवरी-मार्च 2024 के दौरान लखनऊ में होगा। अखिल भारतीय रेलवे सुरक्षा बल श्वान प्रतियोगिता के उद्घाटन समारोह में एम. सुरेश, मुख्य सुरक्षा आयुक्त/रेलवे सुरक्षा बल /उत्तर मध्य रेलवे , सीनियर डीएससी/प्रयागराज, सीनियर डीएससी/आगरा और बल के अन्य अधिकारी और सदस्य भी शामिल थे।

G20 Summit 2023: दिल्ली की सड़कों पर पसरा है सन्नाटा, लॉकडाउन जैसे हालात

देश-दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या  ट्विटर पर फॉलो करें।

ग्रेटर नोएडा – नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

Related Post