Tuesday, 28 May 2024

अयोध्या में उतरेंगे 100 चार्टर्ड विमान, हवाई अड्डे की क्षमता की भी होगी जांच

Ramlala Prana Pratishta : लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को कहा कि 22 जनवरी को ‘प्राण…

अयोध्या में उतरेंगे 100 चार्टर्ड विमान, हवाई अड्डे की क्षमता की भी होगी जांच

Ramlala Prana Pratishta : लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को कहा कि 22 जनवरी को ‘प्राण प्रतिष्ठा दिवस’ पर 100 चार्टर्ड विमान अयोध्या में उतरेंगे। उन्‍होंने कहा, “राम मंदिर के ‘प्राण प्रतिष्ठा’ समारोह में शामिल होने के लिए लगभग 100 चार्टर्ड विमान 22 जनवरी को अयोध्या हवाई अड्डे पर उतरेंगे। यह हमें अयोध्या हवाई अड्डे की क्षमता की जांच करने का रास्ता भी दिखाएगा।”

Ramlala Prana Pratishta

सीएम योगी ने कहा, “मैं उत्तर प्रदेश को चौथा अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा देने के लिए पीएम नरेंद्र मोदी का आभारी हूं। अयोध्या हवाई अड्डे का उद्घाटन 30 दिसंबर को किया गया था।” 30 दिसंबर 2023 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नवनिर्मित अयोध्या हवाई अड्डे का उद्घाटन किया था। बाद में एक सार्वजनिक कार्यक्रम में बोलते हुए उन्होंने कहा कि महर्षि वाल्मिकी की रामायण ज्ञान का मार्ग है जो हमें श्री राम से जोड़ता है।

अहमदाबाद और अयोध्या के बीच उड़ान शुरू

आपको बता दें, केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया, केंद्रीय मंत्री वीके सिंह और अन्य वरिष्ठ अधिकारियों ने गुरुवार को अहमदाबाद और अयोध्या के बीच पहली त्रि-साप्ताहिक उड़ान शुरू की। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अहमदाबाद और अयोध्या के बीच पहली त्रि-साप्ताहिक उड़ान के लिए बोर्डिंग पास मिला।

केंद्रीय नागरिक उड्डयन मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा, ”पीएम मोदी और यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने 30 दिसंबर को अयोध्या एयरपोर्ट और रेलवे स्टेशन का उद्घाटन किया।” उन्‍होंने कहा, ”हमने 30 दिसंबर को अयोध्या और दिल्ली के बीच पहली उड़ान शुरू की, जो इंडिगो और एयर इंडिया एक्सप्रेस द्वारा संचालित थी। आज हम अयोध्या को अहमदाबाद से जोड़ने जा रहे हैं।”

इस बीच अहमदाबाद एयरपोर्ट पर जैसे ही अयोध्या के लिए पहली उड़ान अहमदाबाद से रवाना हुई, यात्री भगवान राम, लक्ष्मण, सीता और हनुमान की पोशाक पहनकर एयरपोर्ट पर पहुंचे।

पहले चरण में, एयरपोर्ट सालाना 10 लाख यात्रियों को संभाल सकता है और दूसरे चरण के बाद, महर्षि वाल्मिकी अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा सालाना 60 लाख यात्रियों को सेवा प्रदान करेगा। अत्याधुनिक हवाई अड्डे के पहले चरण को 1,450 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से विकसित किया गया है। एयरपोर्ट के टर्मिनल भवन का क्षेत्रफल 6500 वर्ग मीटर होगा, जो सालाना लगभग 10 लाख यात्रियों की सेवा के लिए सुसज्जित होगा। टर्मिनल बिल्डिंग का अग्रभाग अयोध्या के आगामी श्री राम मंदिर की मंदिर वास्तुकला को दर्शाता है।

प्राण प्रतिष्ठा से पहले ही रामलला ने कर दिया मालामाल, अयोध्या वालों पर जमकर बरस रहा पैसा

देश विदेश  की खबरों से अपडेट रहने लिए चेतना मंच  के साथ जुड़े रहें।

देश-दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post