Tuesday, 21 May 2024

यूपी के जेल में बंद कैदी की मौत, जेल प्रशासन पर उठे सवाल

UP News :  उत्तर प्रदेश से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। दरअसल उत्तर प्रदेश के जेल…

यूपी के जेल में बंद कैदी की मौत, जेल प्रशासन पर उठे सवाल

UP News :  उत्तर प्रदेश से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है। दरअसल उत्तर प्रदेश के जेल प्रशासन की बड़ी लापरवाही देखने को मिली। बता दें कि उत्तर प्रदेश के उन्नाव जेल में एक कैदी की मौत हो गई। जिसके बाद पूरे जेल प्रशासन में हड़कंप मच गया। वहीं मृतक के परिजनों ने जेल प्रशासन पर हत्या का आरोप लगाया है। परिजनों का इस मामले में कहना है कि उत्तर प्रदेश की पुलिस ने फर्जी मुकदमा लिखकर उन्हें जेल में भेजा था, जबकि मृतक की बेटी के साथ गैंगरेप की घटना हुई थी।

क्या है पूरा मामला?

आपको बता दें कि उत्तर प्रदेश के उन्नाव की सफीपुर थाना पुलिस ने बीते 20 मार्च को शंकर और शिवा रावत को छेड़छाड़ के आरोप में पुलिस ने जेल भेजा था और जांच के बाद पुलिस ने आईपीसी की धारा 376 बढ़ा दी थी। बीते 7 मई को शिवा रावत को जमानत मिल गई थी, जिसके बाद दूसरा आरोपी शंकर परेशान रहने लगा था। बुधवार की सुबह कैदी शंकर की मौत हो गई,  जिसके बाद इसकी खबर मिलते ही परिजनों ने हत्या का आरोप लगाया है।

मरने वाले शख्स की बेटी के साथ हुआ था रेप

दरअसल इस मामले में जेल से जमानत पर बाहर आए शिवा रावत की पत्नी शिव काली का कहना है कि मृतक शंकर उनके रिश्ते में कोई नहीं लगता। उनके बेटी के साथ गैंगरेप हुआ था, उनकी थाने में कोई सुनवाई नहीं की जा रही थी। तभी वो मेरे पति शिवा रावत के पास मदद के लिए आए थे। मेरे पति ने जब उनकी मदद करनी चाही तो सीओ साहब ने फोन कर उन्हें थाने बुलाया और समझौता करने को कहा था। वह महिला भी थाने में मौजूद थी, लेकिन समझाने पर शंकर नहीं माने वो न्याय की मांग रहे थे, तभी पुलिस ने आरोपियों से मिलकर मेरे पति और शंकर को 376 D के आरोप में जेल में बंद कर दिया।

UP News

शंकर जेल में था बंद

बता दें कि शिव काली ने कहा कि मैंने अपने पति को 7 तारीख को जमानत पर बाहर निकाल लिया, लेकिन शंकर जेल में ही बंद रह गए। कल यानी 14 मई को शंकर से जेल में मुलाकात करके आई थी तब वह सही थे। आज सुबह जेल से फोन आया कि अस्पताल आ जाओ उनकी तबीयत बिगाड़ गई है। उसने कहा कि मुझे डर है कि वो मेरे पति शिवा रावत को झूठे मामले में फंसा सकते हैं। जबकि मृतक शंकर और उनके भाई जगतपाल का जमीनी विवाद जारी है।

UP News

शंकर की बेटी का बयान

इस मामले में पीड़िता ने बताया कि मृतक शंकर मेरे पिता हैं। सुबह 7 बजे फोन मेरे पास आया कि अस्पताल आ जाओ तुम्हारे पिता की मौत हो गई है, जबकि मेरे साथ ही गैंगरेप किया गया था। मेरी मदद कर रहे रावत को भी पुलिस ने फर्जी मुकदमा लिखकर मेरे पिता जी के साथ 376 D में जेल में बंद कर दिया था। मेरे साथ जगतपाल ने अपने साथियों के रेप जैसी गंदी हरकत को अंजाम दिया था। जब हम जेल में पिता से मिलने आए थे तब वह बिलकुल ठीक थे। सुबह फोन आया अस्पताल आ जाओ जब आकर देखा तो उनकी मौत हो चुकी थी। जगतपाल ने ही मेरे पिता को मरवाया है। वहीं इस मामले में कोई भी अधिकारी कुछ नहीं जवाब नहीं दे रहा है। UP News

Fujiyama ने लॉन्च की कम बजट वाली इलेक्ट्रिक स्कूटर, फीचर्स हैरान करने वाले

ग्रेटर नोएडा – नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देशदुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post