Tuesday, 25 June 2024

आखिर क्यों हॉर्लिक्स अब नहीं रही ‘हेल्दी ड्रिंक’, जानें वजह?

Horlicks Health Label:  भारत में हॉर्लिक्स को ‘हेल्दी ड्रिंक’ में गिना जाता था। बच्चों को इसका स्वाद पीने में बड़ा…

आखिर क्यों हॉर्लिक्स अब नहीं रही ‘हेल्दी ड्रिंक’, जानें वजह?

Horlicks Health Label:  भारत में हॉर्लिक्स को ‘हेल्दी ड्रिंक’ में गिना जाता था। बच्चों को इसका स्वाद पीने में बड़ा पंसद आता है, लेकिन अब हॉर्लिक्स पीने वालों के सामने एक बूरी खबर सामने आई है। दरअसल हॉर्लिक्स अब ‘हेल्दी ड्रिंक’ नहीं रहा है। इंडियान गवर्नमेंट के आदेश के बाद इसकी पैरेंट कंपनी हिंदुस्तान यूनिलीवर (Hindustan Unilever) ने हॉर्लिक्स की कैटेगरी को बदल दिया है। साथ ही कपंनी ने हॉर्लिक्स का लेबल भी हटा दिया है।

Horlicks Health Label

नाम में हुआ ये बदलाव

आपको बता दें कि कंपनी ने इसका नाम बदलकर ‘फंक्शनल न्यूट्रिशनल ड्रिंक्स’ (FND) कर दिया हैं। वाणिज्य एवं उद्योग मंत्रालय ने कई पेय पदार्थों की कंपनियों को अपने ई-कॉमर्स प्लेटफॉर्म से ‘हेल्थ ड्रिंक’ कैटेगरी को हटाने का निर्देश दिया था। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि हॉर्लिक्स और बूस्ट जैसी ड्रिंक्स हिंदुस्तान यूनिलीवर लिमिटेड (HUL) की कंपनी के प्रोडक्ट हैं।

Horlicks Health Label

इससे पहले वाणिज्य और उद्योग मंत्रालय ने कंपनियों को अपने प्रोडक्ट्स से हेल्दी ड्रिंक कैटेगरी का नाम हटाने का निर्देश जारी किया था, जिसके बाद ही इस कदम को उठाया गया। वहीं 24 अप्रैल को एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान HUL के मुख्य वित्तीय अधिकारी रितेश तिवारी ने घोषणा करते हुए कहा कि यह बदलाव हमारे प्रोडक्ट की कैटेगरी को ज्यादा सटीक और पारदर्शिता प्रदान करेगा।

क्यों बदली गई कैटेगरी

अब आपको जानकर यह हैरानी जरूर हुई होगी की आखिर कंपनी को हॉर्लिक्स से ‘हेल्दी ड्रिंक’ का लेबल क्यों हटाना पड़ गया। दरअसल, फूड फार्मर नामक एक सोशल मीडिया इंफ्लुएंसर ने लोगों का बॉर्नविटा में हाई शुगर होने के बारें में जानकारी दी थी। इसके बाद राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग (एनसीपीसीआर) ने भारतीय खाद्य सुरक्षा और मानक प्राधिकरण (एफएसएसएआई) को जांच का आदेश दिया गया था, इसकी के बाद कंपनियों को अपने प्रोडक्ट की कैटेगरी बदलनी पड़ गई। एचयूएल की मानें तो, ‘फंक्शनल न्यूट्रिशनल ड्रिंक्स’ श्रेणी का मतलब प्रोटीन और कई पोषक तत्वों की कमी की जरूरतों को पूरा करना होता है। एफएनडी को किसी भी नॉन-अल्कोहॉलिक ड्रिंक के रूप में परिभाषित किया जा सकता है। Horlicks Health Label

पुलिस कमिश्नर ने चुनाव में गड़बड़ी फैलाने वालों को दी चेतावनी, बाधा डालने की हिम्मत न करें

ग्रेटर नोएडा– नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देश-दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post