Tuesday, 25 June 2024

बंटवारे के बाद क्यों गिरने लगे गोदरेज की कंपनियों के शेयर !

Godrej Group Split : Ambani  ग्रुप के बाद अब देश का एक और व्यवसायिक  घराना बंटवारे को लेकर चर्चाओं में…

बंटवारे के बाद क्यों गिरने लगे गोदरेज की कंपनियों के शेयर !

Godrej Group Split : Ambani  ग्रुप के बाद अब देश का एक और व्यवसायिक  घराना बंटवारे को लेकर चर्चाओं में है। दरअसल 127 साल पुराने गोदरेज ग्रुप में बंटवारा हो गया है। बंटवारे की खबर सार्वजनिक होते ही गोदरेज कंपनी के शेयरों में तेज गिरावट देखी जा रही है।  सबके मन में यह आशंका है कि बंटवारे के बाद गोदरेज की कंपनियों का क्या हाल होगा । अक्सर बड़े व्यावसायिकघरानो में बंटवारे का दौर कुछ उथल-पुथल ही लेकर आता है। 2005 में देश के सबसे बड़े कारोबारी घराने रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) में मुकेश अंबानी और अनिल अंबानी के बाद यह ऐसा पहला मौका है जब देश का एक बड़ा कारोबारी घराना अपने बिजनेस का बंटवारा कर रहा है ।

127 साल पुराने गोदरेज ग्रुप में बंटवारा

हम बात कर रहे हैं ताले बनने से लेकर रियल एस्टेट डेवलपमेंट तक के कारोबार में फैले गोदरेज ग्रुप के बारे में।  इसके तमाम कारोबारों का अपने भाइयों और दूसरी पीढ़ी में कैसे बंटवारा होना है इसे लेकर चर्चा लंबे वक्त से बनी हुई है।  पूरे देश के कारोबारी जगत की इस बंटवारे पर नज़रें टिकी हुई थी।  आखिरकार गोदरेज ग्रुप में इस बंटवारेको अमली जामा पहना ही दिया।  इस बंटवारे का गोदरेज फैमिली ने ऐलान कर दिया है । इस बंटवारे की सबसे बड़ी बात यह है कि करीब 2.4 लाख करोड रुपए के मार्केट कैप वाले ग्रुप में बिना किसी झगड़े और बार वाद विवाद के इतना बड़ा बंटवारा कर लिया गया है। यहां ऐसे कोई हालात नहीं दिखाई दिए जो रिलायंस ग्रुप के बंटवारे के वक्त दिखाई दिए थे।  हालांकि गोदरेज ग्रुप का यह बटवारा कोई छोटा-मोटा काम नहीं था ।

59000 करोड रुपए का है Godrej Group

यह ग्रुप 59000 करोड रुपए का है । कई कारोबारों में मौजूदगी और लंबी चोड़े Land Bank  के चलते यह काम आसान कतई नहीं था।

Godrej Group Split  बंटवारे में किसके हाथ क्या आया

आदि गोदरेज और उनके भाई नादिर गोदरेज को गोदरेज ग्रुप की पांच लिस्टेड कंपनियों का पूरा मलिकाना हक मिल गया है।  यह कंपनियां है गोदरेज कंज्यूमर प्रोडक्ट्स (Godrej Consumer Products), गोदरेज प्रॉपर्टीज (Godrej Properties),गोदरेज इंडस्ट्रीज, गोदरेज एग्रोवेट और एस्टेक लाइफ साइंसेज (Astec Life Sciences) । दूसरी ओर जमशेद और उनकी बहन स्मिता के पास गोदरेज एंड बॉयस (Godrej & Boyce  का पूरा नियंत्रण रहेगा।  आदि गोदरेज और उनके भाई नादिर और उनके बच्चे पहले से इस पांच कंपनियों को मैनेज कर रहे थे। जमशेद और उनकी बहन स्मिता और उनके परिवार गोदरेज एंड बॉयज को चला रहे थे । यह कंपनी अप्लायंसेज, एयरोस्पेस, लॉकिंग सॉल्यूशन और कंस्ट्रक्शन में मौजूदगी रखती है।  उनके दूसरे कजिन रिषद के पास भी गोदरेज कंपनियों में स्टेक है।  जबकि रिषद की इस पूरी ग्रुप में कोई औपचारिक भूमिका नहीं है।  इनके दादा और उनके भाई ने 127 साल पहले गोदरेज ग्रुप की नींव रखी थी ।

बंटवारा बना नजीर – बिना झगड़े हुआ बंटवारा Godrej Group Split 

गोदरेज परिवार की दोनों शाखाओं के पास ग्रुप की सभी कंपनियों के शेयर हैं और एक दूसरे की कंपनियों के बोर्ड में मौजूदगी है । लेकिन बंटवारे के बाद यह अपने शेयरों का ट्रांसफर करेंगे और कंपनियों के बोर्ड से इस्तीफा दे देंगे ताकि बंटवारे के प्रक्रिया को आसानी से पूरा कर लिया जाए।  आदि और नादिर,  Godrej & Boyce  में अपने शेयर जमशेद और स्मिता को ट्रांसफर कर देंगे। इस तरह से जमशेद और स्मिता, गोदरेज कंज्यूमर प्रोडक्ट्स और गोदरेज प्रॉपर्टीज में अपने स्टेक को आदि और नादिर को सौंप देंगे।  दोनों ही पक्ष गोदरेज ब्रांड का इस्तेमाल जारी रखेंगे।

फैमिली के किसी मेंबर का कितना स्टेक

अब बताते हैं गोदरेज ग्रुप में फैमिली के किसी मेंबर का कितना स्टेक  है। आदि, नादि,र जमशे,द स्मिता और और रिषद के पास Godrej & Boyce में 10 फीसदी का स्टेक है जबकि 24 फिसदी हिस्सेदारी पीरोज शाह गोदरेज फाउंडेशन (Piroj Shah Godrej Foundation)  के पास है  । इसके अलावा 27 फीसदी स्टेक गोदरेज इन्वेस्टमेंट के पास है।  इन पांचों लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप 2.4 लाख करोड रुपए का है।  इनका रिवेन्यू 41,750 करोड रुपए और प्रॉफिट 4,175 करोड रुपए है।  दूसरी तरफ Godrej & Boyce  का रेवेन्यू करीब 17000 करोड रुपए है।  आदि गोदरेज के बेटे पीरोज शाह गोदरेज इंडस्ट्रीज के Executive Vice Chairman है । वह 2026 में नादिर गोदरेज की जगह कंपनी के Chairman बनेंगे इस पूरे बंटवारे में बाकी सब तो ठीक है पर असल मुश्किल गोदरेज ग्रुप के भारी भरकम गोदरेज रीयल्टी ग्रुप की है।  ग्रुप की रियलिटी स्टेट 3000 करोड रुपए से ज्यादा की है।  इस प्रॉपर्टी का दोनों पक्षों के बीच बटवारा होना है।  गोदरेज प्रॉपर्टीज Godrej & Boyce  की कुछ प्रॉपर्टीज को डेवलप कर रही है । कुल मिलाकर अंबानी परिवार के बाद भारत के कारपोरेट जगत का सबसे बड़ा बंटवारा हो गया है।  देखना यह है कि गोदरेज ग्रुप इस रिस्ट्रक्चरिंग के बाद किस रफ्तार से आगे बढ़ता है। साथ ही  देखना होगा इस  बंटवारे के बाद देश के कुछ दूसरे बड़े ग्रुप भी बंटवारे की राह पर चल पड़ेंगे या नहीं।

शेयर बाजार में दिखा असर

Godrej Group में बंटवारे को लेकर कुछ आशंका का असर शेयर बाजार में देखा जा रहा है। जहां गोदरेज इंडस्ट्री का शेयर आज 7.50 फीसदी गिर चुका है। वहीं गोदरेज प्रॉपर्टीज का शेयर भी गिरकर कारोबार कर रहा है।  हालांकि मार्केट के जानकारों का मानना है कि यह मौका Godrej Group के शेयरों में निवेश करने का अच्छा मौका हो सकता है।

यह खबर केवल आपकी जानकारी के लिए है । निवेश करने से पहले एक्सपर्ट की सलाह जरूर लें।

गजब का खेल : इस शेयर ने एक ही दिन में 1000 रुपये के बना दिए 20 लाख

Related Post