Friday, 23 February 2024

गाजियाबाद पुलिस कमिश्नरेट ने बढ़ाया लड़कियों का आत्मविश्वास,छात्राएं बनी महिला थाना प्रभारी

गाजियाबाद पुलिस कमिश्नरेट में बेटी बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के तहत एक अनूठे जागृति अभियान की पहल की गई,

गाजियाबाद पुलिस कमिश्नरेट ने बढ़ाया लड़कियों का आत्मविश्वास,छात्राएं बनी महिला थाना प्रभारी

Ghaziabad News : गाजियाबाद। उत्तर प्रदेश सरकार ने अब पूरी तरह महिला सुरक्षा देने की ठानी है । बेटी अब पूरी तरह से सशक्त और आत्मनिर्भर हो… इस लक्ष्य को लेकर गाजियाबाद पुलिस कमिश्नरेट में बेटी बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ के तहत एक अनूठे जागृति अभियान की पहल की गई, इस पहल के तहत स्कूली छात्रा को महिला थाना प्रभारी की कमान सौंपी गई । जहां बेटीयों ने अपने अंदाज में महिलाओं की जनसुनवाई की और उनके निदान के निर्देश भी दिए…

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने महिला थाना पुलिसकर्मियों द्वारा सरकारी योजना और कानून व्यवस्था के तहत बेटियों को सशक्त और जागरूक बनाने के लिए निर्देश दिए थे। और इस निर्देश के तहत महिला थानों में गाजियाबाद के लोहिया नगर में महिला थाना की परिसर में ये सुंदर पहल की गई।

बेटियों में जागेगा आत्मविश्वास

गाजियाबाद महिला थाना परिसर में गुरु नानक गर्ल्स इंटर कॉलेज की कक्षा 9 और 10 की छात्राओं को महिला सुरक्षा कानून के प्रति आत्मविश्वासी बनाने और जागरूक करने के लिए आमंत्रित किया और सबसे दिलचस्प बात यह थी कि छात्राओं को सिर्फ जानकारी ही नहीं दी गई बल्कि उनमें से एक छात्रा को ही महिला थाने की प्रभारी का दायित्व कुछ समय के लिए दिया गया और कहा गया वह अपने अंदाज में महिलाओं  की समस्याएं सुनेंगी और उनका निदान करेंगी। छात्राओं ने पूरे आत्मविश्वास के साथ दिये गए दायित्व को संभाला और महिलाओं की समस्याएं सुनी और आवश्यक निर्देश भी दिये।

Ghaziabad News In Hindi 

बेटी ने थाना प्रभारी बनकर किया कुछ ऐसा…

बेटियों ने भी कहा की तमाम छोटे-छोटे अपराधों ऐसे होते हैं जिन्हें हम समझ सकते हैं और हमारी भागीदारी पुलिस में होनी ही चाहिए।  स्कूल जाने से लेकर, घर के आस पड़ोस तक, रिश्तेदार से लेकर अपराधी तत्वों तक बेटियां महत्वपूर्ण सुझाव दे सकती हैं और निदान के लिए कुछ ऐसा कर सकती हैं जो कानून व्यवस्था में प्रभावी बनाया जा सके । और बेटियों ने सचमुच बहुत ही संवेदनशीलता के साथ महिलाओं की समस्याएं सुनकर यह साबित किया कि हमें बेटियों की बुनियाद आर्थिक रूप से सशक्त बनाने की जरूरत है।

परामर्श केंद्र में भी हुई भागीदारी…

Ghaziabad News In Hindi 

गाजियाबाद महिला थाना परिसर में छात्राओं को परामर्श केंद्र के बारे में भी बताया गया । बताया गया कि समस्या के समय है कैसे विभाग, महिलाओं को परामर्श देकर उन्हे न्याय दिलाने और उनकी सुनवाई पर कार्य करता है. इस कार्यक्रम के दौरान महिलाओं की सुरक्षा संबंधी मदद के लिए यह नंबर भी दिए गए… 181, 112, 102 व 108, मुख्यमंत्री हेल्प लाइन नंबर-1076 तथा महिला हेल्प लाइन नंबर-1090 नंबर की जानकारी दी गई। पुलिस अधिकारी ने कहा कि आवश्यकता होने पर कोई भी पीड़िता संबंधित नंबरों पर संपर्क कर पुलिस की मदद प्राप्त कर सकती है।

प्रस्तुति मीना कौशिक

स्कूटी सीख रही युवती से हैवानियत करने वाले आधी रात को हुए लंगड़े

ग्रेटर नोएडा नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देश-दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post