Thursday, 18 April 2024

अमर सिंह चमकीला : पंजाबी संगीत का वह बुलंद सितारा,जिसकी भरी जवानी में हुई निर्मम हत्या

Amar Singh Chamkila :  हाल ही में फिल्म निर्देशक इम्तियाज अली ने  पंजाब के फेमस गायक अमर सिंह चमकीला पर…

अमर सिंह चमकीला : पंजाबी संगीत का वह बुलंद सितारा,जिसकी भरी जवानी में हुई निर्मम हत्या

Amar Singh Chamkila :  हाल ही में फिल्म निर्देशक इम्तियाज अली ने  पंजाब के फेमस गायक अमर सिंह चमकीला पर एक फिल्म बनाई है जिसमें 80 के दशक के मशहूर  गायक अमर सिंह चमकीला की पंजाबी संगीत में बंपर लोकप्रियता और दर्दनाक मौत की कहानी को पेश किया गया है । पंजाबी संगीत का नशा यूं तो दुनिया भर में लोगों पर छाया रहता है लेकिन गुरदास मान, शिंदा, या फिर आज के हनी सिंह ,बादशाह और सिद्धू मूसेवाला जैसे कलाकारों से पहले पंजाबी म्यूजिक का सिरमौर था अमर सिंह चमकीला।  जिसने पंजाबके  घर-घर में अपनी लोकप्रियता बना ली थी।  अमर सिंह चमकीला पर इम्तियाज अली की बनाई फिल्म 12 अप्रैल को नेटफ्लिक्स पर रिलीज होने वाली है ।

80 के दशक में पंजाबी म्यूजिक के हिट कलाकार थे चमकीला

इस फिल्म के बनने की खबर के बाद लोगों के दिलचस्पी अमर सिंह चमकीला की जिंदगी को जानने में बढ़ गई है । नई पीढ़ी के कई लोग नहीं जानते हैं की जिस प्रसिद्ध गायक अमर सिंह चमकीला पर यह फिल्म बनी है दरअसल वह कौन था। ।  बात भी सही है क्योंकि अमर सिंह चमकीला 80 के दशक में लोकप्रियता का वो मकाम हासिल कर चुका था जो आज सोशल मीडिया के दौर में भी कई कलाकारों को नसीब नहीं होती है। चमकीला का सिंगिंग करियर यूं तो कुल 10 साल का ही था लेकिन इस 10 साल में उन्होंने इतनी शोहरत कमाई जो शायद कोई 20, 30 से 40 साल के करियर में नहीं कमा पाता है और शायद यही वजह थी कि उनकी इस लोकप्रियता के कारण महज 27 साल की उम्र में चमकीला के सीने में गोलियां उतार कर उनकी हत्या कर दी गई।  जिसमें उनके साथ उनकी सहयोगी गायिका और पत्नी अमरजोत को भी मौत के घाट उतार दिया गया था ।

कौन था अमर सिंह चमकीला

आइये आपको बताते हैं कौन था अमर सिंह चमकीला जिसकी जिंदगी पर फिल्म के बनने के बाद इतनी चर्चा हो रही है । अमर सिंह चमकीला का जन्म 21 जुलाई 1960 में हुआ था उनका बचपन लुधियाना के पिंड डोगरी में बीता था।  उनका सपना वैसे तो इलेक्ट्रीशियन बनने का था लेकिन पैसों की तंगी की वजह से वह एक कपड़े के मिल में काम करने लगे थे। अमर सिंह को बचपन से गाने का भी शौक था और इस शौक के चलते उन्होंने हारमोनियम और ढोलक बजाना भी सीख लिया था और यही वजह है कि फैक्ट्री में जुराब बनाते-बनाते उनके होठों पर गीतों के बोल होते थे और बड़ी बात यह कि वह अपने गीत भी खुद लिखते थे। गायक बनने का जुनून उन पर कुछ ऐसा चढ़ा कि जब सुरेंद्र शिंदा और कुलदीप मान जैसे पंजाबी सिंगर लोगों की जबान पर चढ़े थे और गुरदास मान का भी नाम हो रहा था ऐसे में चमकीला भी सिंगिंग की दुनिया में अपनी किस्मत आजमाने निकला और उसने सबसे पहले सुरेंद्र शिंदा से संपर्क किया।  तब चमकीला की उम्र सिर्फ 18 साल की थी पहली बार गाने का तो मौका नहीं मिला लेकिन शिंदा ने उन्हें अपने लिए गाने लिखने के लिए कहा जब चमकीला ने उनके लिए गाने लिखे तो उन गानों को बहुत अच्छा रिस्पांस मिला।  चमकीला के घर का खर्च भी निकलने लगा कुछ समय बाद चमकीला ने सोचा कि मैं खुद ही क्यों ना गाना गाऊँ, और धीरे-धीरे उनका हौसला बड़ा और वह खुद गाने लगे और एक दिन ऐसा आया कि जब उन्होंने पंजाबी गायकी में सबको पछाड़ के रख दिया।

गीतों का अखाड़ा लगाते थे Amar Singh Chamkila

तो ऐसा क्या खास था इस पंजाबी गायक में ? 

Amar Singh Chamkila गांव – पिंड की उन बातों को अपनी गानों में खोलकर रखते थे जिसे पंजाब के लोग अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में देखना सुनना चाहते थे । वह संगीत का अखाड़ा लगाते थे।  जहां खुले मैदाने में उनकी महफिल होती थी और उनके साथ एक गायिका उनकी ताल में ताल मिलाकर गाती थी और इतना ही नहीं गाने के बीच-बीच में वह लोगों से संवाद भी कायम करते थे और उनका यह लाइव परफॉर्मेंस का स्टाइल लोगों को दीवाना बना देता था। उनके गीतों में उस दौर के पंजाब की पूरी सच्चाई होती थी। चाहे पंजाब में बढ़ता हुआ नशा, ड्रग एडिक्शन या घर में औरतों के साथ बुरा व्यवहार, मार पीट, गरीबी या फिर भेदभाव । ये सारी बातें गाने चमकीला के गानों में होती थी । इतना ही नहीं कभी-कभी तो वह बेवफाई,एक्स्ट्रा मैरिटल अफेयर या फिर गाली गलौज को भी अपने गीतों के बीच ले आते थे। यह वह वक्त था जब गानों में गालियों का चलन नहीं था लेकिन चमकीला के गीतों में गालियां भी होती थी और कुछ अश्लीलता भी।  कुछ लोगों ने उन पर अश्लील गाने लिखने का आरोप भी लगाया लेकिन चमकीला का कहना था जब हमारे समाज और घरों में इस तरह की भाषा इस तरह की बातें  होती हैं तो मैं तो वही गाने में लिख रहा हूं।

अश्लीलता का लगा था आरोप 

चमकीला के गाने उनके लाइव स्टेज पर आग लगा देते थे । लोग उनके गीतों पर कभी नाचते , कभी रोते ,कभी हंसते, कभी लोट पपोट हो जाते तो कभी हल्ला मचाते । उनका यह अखाड़ा 100, 200 ,300, 500, या 1000 लोगों की महफिल को रंग से भर देता था। चमकीला का साथ देती थी अमरजोत कौर । अमरजीत कौर एक ऐसी गायिका थी जिसने गायकी के पैशन के लिए अपना पति और घर छोड़ दिया था । वह शादीशुदा थी लेकिन पति को तलाक देकर गाने गा रही थी । उनकी जोड़ी चमकीला के साथ बनी और दोनों ने मिलकर स्टेज पर आग लगा दी और फिर एक साथ जिंदगी बिताने का फैसला भी किया। चमकीला ने भी अपनी पत्नी को तलाक देकर अमरजोत के साथ शादी कर ली और दोनों ही अपने धमाकेदार गानो और परफॉर्मेंस से लोकप्रियता के शिखर को छूने लगे । कहा जाता है कि कोई भी दिन ऐसा नहीं होता था जब चमकीला का शो न हो  ।  यहां तक की विदेश में, कनाडा, अमेरिका और दुबई जैसे देशों में भी चमकीला की लोकप्रियता परवान छू रही थी ।

लोकप्रियता बनी कातिल 

80 का दशक था और चमकीला लोगों की जबान पर छाया हुआ था।  80 के दशक में चमकीला काफी फेमस हो चुका था यह वह दौर था जब पंजाब में आतंकवाद का माहौल था ऑपरेशन ब्लू स्टार के बाद लोग परेशान हाल थे।  आतंकवादी और पुलिस के बीच एनकाउंटर चलते थे । अखबार में भी रोज किसी ने किसी की मौत की खबर होती थी।  लेकिन ऐसे समय में भी चमकीला के अखाड़े में लोग जुट जाते थे । चमकीला के गीतों में लोगों को अपनी जिंदगी की धड़कनें सुनाई देती थी। चमकीला लोगों के दिलों पर राज करने पर लगे थे।  शायद  इतनी ज्यादा लोकप्रियता ही थी जो उनकी दुश्मन बन गई।  कहा जाता है कि चमकीला अपने साथ के जाट सिंगर से काफी आगे निकल चुके थे । चमकीला दलित थे शायद उन जाट गायकों को हज़म नहीं हो रहा था कि चमकीला को इतनी ज्यादा लोकप्रियता कैसे हासिल हो गई है। यही वजह है की मार्च 1988 को एक लाइव परफॉर्मेंस के दिन चमकीला अपनी पत्नी के साथ परफॉर्मेंस करने जा रहे थे और कुछ युवक मोटरसाइकिल से आए और उन पर अंधाधुंध गोलियां चला दी जिसमें चमकीला और उनकी पत्नी अमरजोत दोनों की मौत हो गई।  चमकीला के कातिल कभी पकडे नहीं गए और ना ही उनकी मौत का सही राज कभी पता चल पाया लेकिन उसे समय के जानकारों का यही कहना है कि उनकी बढ़ती लोकप्रियता कुछ लोगों से बर्दाश्त नहीं हुई और शायद रंजिशन उनकी हत्या करवा दी गई । कुछ लोगों का यह भी कहना था कि Amar Singh Chamkila के अश्लील गाने से भी लोग कुछ लोग खफा थे और शायद इस वजह से भी उनकी जान चली गई।

केवल 22 साल की उम्र में प्राइवेट जेट खरीद डाला, हो रही है वायरल

ग्रेटर नोएडा – नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देशदुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें

Related Post