Saturday, 25 May 2024

हड्डियों की मजबूती में ले कैल्सियम युक्त डाइट

शरीर की हड्डियों को मजबूत बनाने में कैल्सियम की पूर्ति होना आवश्यक है। एक्सपर्ट के मुताबिक शरीर की नसें, ब्लड,…

शरीर की हड्डियों को मजबूत बनाने में कैल्सियम की पूर्ति होना आवश्यक है। एक्सपर्ट के मुताबिक शरीर की नसें, ब्लड, मांसपेशियों और दिल की कमजोरी कैल्सियम की कमी के कारण होती है। इसके लिए कैल्सियम युक्त भोजन खाना चाहिए, साथ ही चिकित्सकों की सलाह भी लेना चाहिए। दरहसल हमारे शरीर की हड्डियों में 99 फीसदी कैल्सियम होता है, जबकि 1 फीसदी कैल्सियम खून और मांसपेशियों में पाया जाता है। शरीर को स्वस्थ्य रखने के लिए कैल्सियम युक्त आहार लेना जरूरी होता है। चिकित्सक ने बताया कि शरीर में कैल्सियम की कमी से हड्डियों में कमजोरी और दर्द की समस्या हो जाती है। इसके अलावा मांसपेशियों में ऐंठन, यादाश्त की कमी, हाथ-पैरों में झनझनाहट, पीरियड्स में समस्या, दांत में कमजोरी और ब्लड क्लॉटिंग की समस्या होने लगती है। विशेषज्ञ ने बताया कि 10 वर्ष तक के बच्चों को 500-700 मिलीग्राम कैल्सियम की पूर्ति करना चाहिए। 25 साल तक के युवाओं को 700-1000 मिलीग्राम कैल्सियम की पूर्ति करना आवश्यक है। वहीं प्रेग्रेंट महिलाओं को 1000-1200 मिलीग्राम और दूध पिलाने वाली महिलाओं को 2000 मिलीग्राम कैल्सियम लेना चाहिए। बता दें कि कैल्सियम की पूर्ति के लिए दूध और पनीर काफी फायदेमंद है। इसके अलावा सोयाबीन, तिल का सूप, बादाम, मौसमी हरी सब्जियां, फल, जीरा, नॉनबेज, आंवला का साथ सामान्य भोजन में मसाले की मात्रा की कमी करने से आपको भरपूर कैल्सियम की मात्रा मिलेगी। हस्तमैथुन से भी कैल्सियम की कमी आने लगती है। इससे आंखो की रोशनी में कमी आना और बालों का झड़ना जैसी आम समस्या बन जाती है। कैल्सियम हमारे शरीर में काफी महत्वपूर्ण है। इसके लिए सुबह टहलना, योगा व्यायाम करना नियमित दिनचर्या में विशेषज्ञों की सलाह से बदलाव करें। रात में 10 बजे तक सो जाए और सुबह 4-5 बजे तक बिस्तर छोड़ दें। शरीर का विशेष पार्ट हड्डीं है जो कैल्सियम से जुड़ी है।

Related Post