Friday, 23 February 2024

कुंभ संक्रांति सूर्य साधना का विशेष समय जानें कैसे करें सूर्य उपासना 

Sun Transit In Aquarius : सूर्य का मकर राशि से कुंभ राशि में प्रवेश कुंभ संक्रांति के रुप में मनाया…

कुंभ संक्रांति सूर्य साधना का विशेष समय जानें कैसे करें सूर्य उपासना 

Sun Transit In Aquarius : सूर्य का मकर राशि से कुंभ राशि में प्रवेश कुंभ संक्रांति के रुप में मनाया जाता है. देश भर में इस दिन सूर्य देव का पूजन विशेष रुप से किया जाता है. इस दिन को संक्रांति रुप में अत्यंत महत्वपूर्ण माना गया है. इस समय के दोरान स्नान दान एवं तरपण इत्यादि से संबंधित कार्यों को करते हैं.

कुंभ संक्रांति पर होता है स्नान दान का विशेष महत्व  
हर माह सूर्य की स्थिति में बदलाव होता है जिसे भारतीय पद्धिति अनुसार सूर्य संक्रांति के रुप में पूजा जाता है. वैज्ञानिक दृष्टिकोण एवं ज्योतिष अनुसार इस दिन सूर्य का परिवर्तन सभी जीवों पर विशेष रुप से पड़ता है. इस समय को हिंदू धर्म परंपरा अनुसार संक्रांति के रुप में पूजते हैं. इस दिन पर प्रात:काल समय पर सूर्य उपासना स्नान एवं पवित्र धर्म स्थलों पर भ्रमण करते हुए स्नान दान से जुड़े कार्यों को किया जाता है.

सूर्य संक्रांति का राशि अनुसार महत्व 
सूर्य की कुंभ संक्रांति का पर्व मकर संक्रांति के बाद आने वाला विशेष समय होता है. प्रत्येक राशि अनुसार किए जाने वाले उपायों एवं कार्यों को कर लेने से काफी असरदायक प्रभाव मिलते हैं. आइये जान लेते हैं आपकी राशि अनुसार कुंभ संक्रांति के समय पर किए जा सकते हैं ये कार्य

मेष राशि 
मेष राशि वालों के लिए जरूरी है कि इस समय पर तिलों से निर्मित जल को सूर्य के निमित्त अर्घ्य के रुप में अवश्य उपयोग में लाना चाहिए.

वृष राशि 
वृष राशि वालों को चाहिए की कुंभ संक्रांति के दिन सफेद तिल में घी को मिलाकर इसके द्वारा सूर्य के निमित्त दान करना अत्यंत विशेष माना जाता है.

मिथुन राशि 
मिथुन राशि के जातकों को चाहिए की कुंभ संक्रांति के दिन प्रात:काल समय में दूब एवं जल को सूर्य को अर्घ्य देने के लिए अर्पित करना चाहिए.

कर्क राशि 
कर्क राशि वालों को चाहिए की कुंभ संक्रांति के शुभ समय पर प्रात:काल के समय तिल एवं दूध को सूर्य के अर्घ्य के रुप में अर्पित करना चाहिए.

सिंह राशि 
सिंह राशि वालों के लिए कुंभ संक्रांति के दिन शहद को जल में मिलाकर अर्घ्य देना चाहिए.

कन्या राशि 
कन्या राशि वालों को कुंभ संक्रांति के दिन चाहिए की वह गेहूं को जल एवं दूध में मिलाकर इसको अर्घ्य रुप में सूर्य के निमित्त अर्पित करना चाहिए.

तुला राशि 
तुला राशि वालों को कुंभ संक्रांति के दिन तिल एवं दूध के मिश्रण से भगवान आदित्य को अर्घ्य प्रदान करना चाहिए.

वृश्चिक राशि 
वृश्चिक राशि वालों को कुंभ संक्रांति के दिन सूर्य उपासना में सूर्य को जल में कुमकुम मिलाकर अर्घ्य प्रदान करना शुभ फल देने वाला होता है.

धनु राशि 
धनु राशि वालों को कुंभ संक्रांति के दिन प्रात:काल समय सूर्य साधना करने के साथ केसर को जल में मिलाकर अर्घ्य देना बेहद शुभ फल प्रदान करता है.

मकर राशि
मकर राशि वालों को को कुंभ संक्रांति के दिन काले तिलों को जल में मिलाकर सूर्य को अर्घ्य प्रदान करना चाहिए.

कुंभ राशि 
कुंभ राशि वालों के लिए यह समय इस कारण भी विशेष है क्योंकि सूर्य का गोचर इन्हीं की राशि पर होगा इस कारण से इस दिन गेहूं और काले तिलों का दान करना चाहिए.

मीन राशि 
मीन राशि वालों को कुंभ संक्रांति के दिन चाहिए की प्रात:काल के समय पर हल्दी, गुड़ एवं जल मिलाकर सूर्य को अर्घ्य देना विशेषफल प्रदान करता है.

एस्ट्रोलॉजर राजरानी  

ग्रेटर नोएडा – नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देशदुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post