Saturday, 18 May 2024

साथी की मदद के लिए उठे हजारों हाथ, 60 घंटे में जुटा दिए 60 लाख रूपये

60 Lakh Donation in 60 Hours: ​एक बहुत पुरानी फिल्म का गीत है, ”साथी हाथ बढ़ाना, एक अकेला थक जाएगा…

साथी की मदद के लिए उठे हजारों हाथ, 60 घंटे में जुटा दिए 60 लाख रूपये

60 Lakh Donation in 60 Hours: ​एक बहुत पुरानी फिल्म का गीत है, ”साथी हाथ बढ़ाना, एक अकेला थक जाएगा मिलकर बोझ उठाना”। इस गीत के माध्यम से संदेश दिया जाता है कि कोई काम करने के लिए सामुहिक प्रयास बेहद ही कारगर साबित होते हैं। ऐसा ही एक मामला सामने आया है। मुसीबत में फंसे एक साथी की मदद के लिए आगे आए साथियों ने मात्र 60 घंटे में 60 लाख रुपये जुटा दिए। खास बात यह है कि मदद के लिए अनजान लोगों ने भी दिल खोलकर सहयोग किया।

60 Lakh Donation in 60 Hours

60 घंटे में 60 लाख रुपये एकत्रित होने का यह मामला सोशल मीडिया पर चर्चा का विषय बना हुआ है। सोशल मीडिया पर मुसीबत में फंसे साथी की मदद करने वाले लोगों की दिल खोलकर तारीफ कर रहे हैं। आपको बता दें कि अमित अनम नामक एक इंवेस्टर ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट शेयर की थी। इस पोस्ट में उन्होंने इलाज के लिए आर्थिक मदद मांगी थी। यह पोस्ट वायरल होने के बाद इन्वेस्टर समुदाय से जुड़े हजारों लोगों ने मदद के लिए अपने हाथ आगे बढ़ा दिए। देखते ही देखते अमित की मदद के लिए पैसा जुटना शुरू हो गए। न केवल इन्वेस्टर बल्कि शेयर बाजार से जुड़े लोगों ने भी अमित की सहायता के लिए दिल खोलकर दान किया। मात्र 60 घंटे के भीतर अमित के खाते में 60 लाख रुपये जमा हो गए।

क्या है पूरा मामला ?

दरअसल, मामला महाराष्ट्र के पुणे का है। यहां के अमित अनम एक इन्वेस्टर हैं और इन दिनों लंग्स की गंभीर बीमारी से जुझ रहे हैं। चिकित्सकों ने उन्हें लंग्स ट्रांसप्लाट कराने की सलाह दी, जिसके लिए भारी भरकम रुपयों की जरुरत थी। इसके लिए अमित ने सोशल मीडिया पर एक पोस्ट लिखकर आर्थिक मदद मांगी। पुणे के डॉ. डीवाई पाटिल मेडिकल कॉलेज, हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर द्वारा शेयर किए गए नोट के अनुसार, अमित अनम, इंटरस्टिशियल लंग डिजीज (ILD) से पीड़ित हैं और ऑक्सीजन सपोर्ट पर हैं। मेडिकल कॉलेज की टीम द्वारा जांच किए जाने के बाद उन्हें लंग्स ट्रांसप्लांट कराने का सुझाव दिया गया।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, डॉ. डीवाई पाटिल मेडिकल कॉलेज, हॉस्पिटल एंड रिसर्च सेंटर की ओर से बताया गया था कि अमित अनम के इलाज में 60 लाख रुपये का खर्च आएगा, जिसमें ऑपरेशन के बाद अस्पताल में रहने और देखभाल के लिए 25 लाख रुपये भी शामिल होंगे। इस ऑपरेशन को जल्द कराने को कहा गया था। इसके लिए जब सोशल मीडिया पर मदद मांगी तो महज 60 घंटे में फंड राइजिंग प्लेटफार्म और उनके अकाउंट में 60 लाख रुपये आ गए।

ट्वीट कर जताया लोगों का आभार

60 घंटे में 60 लाख रुपये जुटने पर अमित ने ट्विट करके लोगों का आभार जताया है और लिखा है कि “मेरे अभियान को अविश्वसनीय समर्थन के लिए धन्यवाद। इस मदद पर टैक्स बेनेफिट हासिल करने के लिए एक लिंक भी शेयर कर रहा हूं।” अमित के साथ इन्वेस्टर सफीर आनंद ने भी लोगों का शुक्रिया अदा किया है।

आज का समाचार 4 जनवरी 2024 : स्क्रैप माफिया की 100 करोड़ की संपत्ति सीज, नोएडा में बढ़ेगी ठंड

देश विदेश  की खबरों से अपडेट रहने लिए चेतना मंच  के साथ जुड़े रहें।

देश-दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post