Friday, 23 February 2024

57वें आईएचजीएफ दिल्ली मेला-स्प्रिंग 2024 का उद्घाटन, मेले की भव्यता ने खींचा लोगों का ध्यान

Noida News : भारतीय हस्तशिल्प उत्पादों का सबसे बड़ा मेला ग्रेटर नोएडा के इंडिया एक्सपो मार्ट में मंगलवार से शुरू…

57वें आईएचजीएफ दिल्ली मेला-स्प्रिंग 2024 का उद्घाटन, मेले की भव्यता ने खींचा लोगों का ध्यान

Noida News : भारतीय हस्तशिल्प उत्पादों का सबसे बड़ा मेला ग्रेटर नोएडा के इंडिया एक्सपो मार्ट में मंगलवार से शुरू हो गया है। हस्तशिल्प निर्यात संबर्धन परिषद (ईपीसीएच) द्वारा 6 से 10 फरवरी 2024 तक आयोजित हो रहे आईएचजीएफ-दिल्ली मेला- स्प्रींग 2024 के 57वें संस्करण का दीप प्रज्ज्वलन समारोह के साथ उद्घाटन किया । इस पांच दिवसीय मेले में एक छत के नीचे देश भर के तीन हजार से अधिक हस्तशिल्प, निर्यातक और कारीगर होम, लाइफ स्टाइल, फैशन, टेक्सटाइल और फर्नीचर के साथ-साथ अपने खास उत्पादों को प्रदर्शित कर रहे हैं।

Noida News

100 से अधिक देशों से आ रहे खरीदार

आईएचजीएफ दिल्ली मेला- स्प्रींग 2024 के नाम से आयोजित मेले में इस बार 100 से अधिक देशों के खरीदार आ रहे हैं। ईपीसीएच के अध्यक्ष श्री दिलीप बैद  ने बताया कि यह अपनी तरह का एक अनूठा मेला है। देश भर के तीन हजार से अधिक प्रदर्शक हाउसवेयर, होम फर्निशिंग, फर्नीचर, उपहार एवं साज-सज्जा, बच्चों के खिलौने, हाथ से बने कागज के उत्पाद एवं स्टेशनरी आदि की प्रदर्शनी लगाया है।

मेले में आने से पहले कराए गए पंजीकरण

आईईएमएल के अध्यक्ष डॉ. राकेश कुमार ने कहा कि ईपीसीएच के चलाए गए व्यापक प्रचार अभियान के साथ ही बड़ी संख्या में विदेशी खरीदार, थोक और खुदरा विक्रेताओं ने पहले ही इस शो में आने के लिए पंजीकरण करा लिया हैI इंडिया एक्सपो सेंटर ऐंड मार्ट अपनी विश्वस्तरीय सुविधाओं के साथ ऐसे बड़े समारोहों की मेजबानी के लिए एक सर्वोत्तम वेन्यू है I साथ ही यहां भारत के प्रमुख हस्तशिल्प निर्यातकों के स्वामित्व वाले 900 मार्ट शोरूम ने खरीदारों के सोर्सिंग अनुभव को और बेहतर बनाया हैI उन्होने कहा कि मुझे खुशी है कि आईएचजीएफ दिल्ली मेले द्वारा लाए गए निर्यात अवसरों के जरिए अपने सालाना कारोबार को बढ़ाने के लिए अधिक से अधिक मार्ट मालिक सकारात्मक रूप से आगे आए हैं।”

2022-23 में हुआ था 30,019.24 करोड़ का निर्यात

ईपीसीएच के महानिदेशक राकेश कुमार ने बताया कि आईएचजीएफ- दिल्ली मेले का यह 57वां संस्करण है। उन्होने कहा कि शुरुआती घंटों से ही खरीदारों के कई समूह इंडिया एक्सपो सेंटर ऐंड मार्ट में उमड़ रहे थे। जिसकी वजह से पंजीकरण काउंटरों पर काफी चहलपहल थीI यहां माहौल काफी जीवंत बना हुआ है. उन्होंने कहा कि इस बार बेहतर कारोबार की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि साल 2022-23 के दौरान हस्तशिल्प निर्यात 30,019.24 करोड़ रुपये (3,728.47 मिलियन अमेरिकी डॉलर) रहा था।

नोएडा प्राधिकरण के बाहर किसानों की महापंचयत आज, संसद का करेंगे घेराव

ग्रेटर नोएडा – नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देशदुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post