Thursday, 18 April 2024

शहर में गंदगी देखकर भड़के नोएडा के CEO, थमाया नोटिस

Noida News : नोएडा शहर एक अत्याधुनिक शहर है। नोएडा शहर का संचालन नोएडा प्राधिकरण के हाथों में नोएडा प्राधिकरण का…

शहर में गंदगी देखकर भड़के नोएडा के CEO, थमाया नोटिस

Noida News : नोएडा शहर एक अत्याधुनिक शहर है। नोएडा शहर का संचालन नोएडा प्राधिकरण के हाथों में नोएडा प्राधिकरण का प्रयास रहता है कि नोएडा शहर की तमाम व्यवस्थाएं बेहतरीन रहें। इन्हीं व्यवस्थाओं को मापने के मकसद से नोएडा प्राधिकरण के सीईओ डॉ0 लोकेश कुमार एम सोमवार को नोएडा शहर की सडक़ों पर उतरे थे। शहर में गंदगी देखकर CEO भडक़ गए और उन्होंने तुरंत नोएडा की साफ-सफाई का काम देखने वाले अधिकारी को कारण बताओ नोटिस थमा दिया।

Noida News

नहीं मिली साफ-सफाई

आपको बता दें कि नोएडा प्राधिकरण के  CEO डा. लोकेश कुमार एम सोमवार को शहर का निरीक्षण कर रहे थे। नोएडा शहर की साफ-सफाई की हालत देखकर नोएडा प्राधिकरण के सीईओ डॉ. लोकेश एम ने जन स्वास्थ्य विभाग पर कड़ी आपत्ति जताते हुए उपमहाप्रबंधक एसपी सिंह को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। स्पष्ट कहा कि क्यों न आपके खिलाफ शासन को संदर्भित किया जाए। चेतावनी देते हुए उन्होंने कहा कि बार-बार समीक्षा बैठक और निरीक्षण के बाद भी शहर में साफ- सफाई की स्थिति में सुधार नहीं आ रहा है।

सफाई व्यवस्था पर ध्यान नहीं अधिकारियों और कर्मचारियों के कार्य कर समुचित ढंग से सुपरविजन नहीं किए जाने एवं शासकीय पदीय दायित्वों को गंभीरता से नहीं लिया जा रहा। इसका तत्काल जवाब दिया जाए। इससे नाराज सीईओ ने मौके कहनपर ही एक सुपरवाइजर की छह माह तक की सेवाएं भी निरस्तु कर दी।

शहर का किया सघन निरीक्षण

बता दें कि सोमवार को नोएडा प्राधिकरण सीईओ डा. लोकेश एम अधीनस्थ अधिकारियों के साथ शहर की साफ सफाई व्यवस्था का जायजा लेने को सडक़ पर उतरे। सेक्टर-18 का जायजा लेते सीईओ डा. लोकेश निरीक्षण के दौरान वह सेक्टर-6 होते हुए सेक्टर-3, हरौला लेबर चौक, टी सीरीज चौराहा, सेक्टर- 19 से डीएससी रोड सेक्टर-29, 37 ग्राम अगाहपुर, सेक्टर-49 चौराहे से सेक्टर-41,49 सेक्टर-50, 51 मेट्रो सेक्टर-62, खोड़ा रोड, सेक्टर- 57, 22, 55 सेक्टर-8,11 का निरीक्षण किया।

इस दौरान कहीं भी कोई सफाई कर्मचारी सडक़ पर या अन्य किसी स्थान पर झाडू लगाते नहीं मिला। डिवाइडर और फुटपाथ पर डस्ट पड़ी थी। डस्ट को न तो हर मैकेनिकल स्वीपिंग के संविदाकर्मियों द्वारा न उस क्षेत्र के सफाई कर्मियों द्वारा साफ किया जा से रहा है।

इस पर उप महाप्रबंधक को कार्रवाई करने के निर्देश दिए। सेक्टर-18 बाजार में साफ-सफाई नहीं मिलने पर सुपरवाइजर की छह माह की सेवाएं निरस्त कर डीजीएम जन स्वास्थ्य को कारण बताओ नोटिस जारी किया है। कहा कि आगे भी कार्रवाई जारी रहेगी।

नोएडा सीट पर मतदान के काम में लगेंगे 10 हजार कर्मचारी, नहीं मिलेगी छुट्टी

ग्रेटर नोएडा – नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देशदुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें

Related Post