Saturday, 18 May 2024

नोएडा के लाड़ले बेटे तथा बेटियों को पुलिस कमिश्नर ने दी शाबाशी

Noida News : नोएडा की पुलिस कमिश्नर लक्ष्मी सिंह ने नोएडा के लाड़ले बेटे तथा बेटियों को शाबाशी दी है।…

नोएडा के लाड़ले बेटे तथा बेटियों को पुलिस कमिश्नर ने दी शाबाशी

Noida News : नोएडा की पुलिस कमिश्नर लक्ष्मी सिंह ने नोएडा के लाड़ले बेटे तथा बेटियों को शाबाशी दी है। नोएडा क्षेत्र के जिन बेटे तथा बेटियों ने UPSC-2023 की परीक्षा में सफलता हासिल की है वे सभी बेटे तथा बेटियां पूरे नोएडा क्षेत्र के लिए लाड़ले बन गए हैं। नोएडा (गौतमबुद्धनगर) की पुलिस कमिश्नर लक्ष्मी सिंह ने यूपीएससी 2023 की परीक्षा में नोएडा का नाम रोशन करने वाले अभ्यार्थियों की हौंसला अफजाई की और उन्हें प्रशासनिक सेवा में अच्छे भविष्य की शुभकामनाएं दीं।

नोएडा की पुलिस कमिश्नर लक्ष्मी सिंह ने यूनियन पब्लिक सर्विस कमीशन (यूपीएससी-2023) की परीक्षा में नोएडा शहर का नाम रोशन करने वाली वरदाह खान, शैफाली अवाना और आयुष मणि चौधरी से नोएडा के सेक्टर-108 स्थित पुलिस उपायुक्त कार्यालय में मुलाकात की। इस दौरान नोएडा की पुलिस कमिश्नर लक्ष्मी सिंह ने यूपीएससी परीक्षा में सफल वरदाह खान, शैफाली अवाना और आयुष मणि चौधरी को उपहार भेंट कर उन्हें देश की सबसे कठिन परीक्षा पास करने पर बधाई दी और सिविल सेवा में आने पर उनका स्वागत किया। नोएडा की पुलिस कमिश्नर लक्ष्मी सिंह ने उनके उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए कहा कि प्रशासनिक सेवा में पूरी निष्ठा, ईमानदारी और सच्चाई के साथ तीनों कार्य करें तथा देश के विकास में अपना योगदान दें।

वरदाह खान ने हासिल की है 18वीं रैंक

उप्र के नोएडा के सेक्टर-82 स्थित विवेक विहार में रहने वाली वरदाह खान ने यूपीएससी-2023 की परीक्षा में 18वीं रैंक प्राप्त कर भारतीय विदेश सेवा (आईएफएस) का चयन किया है। वरदाह ने दिल्ली विश्वविद्यालय के खालसा कॉलेज से ऑनर्स में स्नातक किया है। उनके पिता अब्दुल रहमान का 9 साल पहले निधन हो चुका है।

हार के आगे नहीं पस्त हुए हौंसले

यूपीएससी परीक्षा में 172वीं रैंक प्राप्त करने वाली नोएडा के हरौला की रहने वाली शैफाली अवाना ने पूर्व में यूपीएससी परीक्षा से मिली असफलता के आगे हथियार नहीं डाले और कड़ी मेहनत करती रही। शैफाली अवाना ने 172वीं रैंक हासिल कर भारतीय राजस्व सेवा (आईआरएस) का चयन किया है। शैफाली के पिता सतीश अवाना दिल्ली के स्वास्थ्य विभाग में अधिकारी हैं। शैफाली की इस सफलता पर पूरा नोएडा व हरौला के निवासी खुश है।

सेल्फ स्टडी से जीती जंग

नोएडा के एक और बेटे ने क्षेत्र का नाम रोशन किया है। यूपीएससी 2023 में 723वीं रैंक हासिल करने वाले आयुष मणि चौधरी ने सेल्फ स्टडी कर यूपीएससी की जंग जीती है। नोएडा के सेक्टर-78 में वेलेसिया महागुन मजारिया सोसायटी के निवासी आयुष मणि ने अपने दूसरे प्रयास में सफलता हासिल की है। आयुष IIT भुवनेश्वर से बी-टेक और एम-टेक करने के बाद सिविल सेवा परीक्षा की तैयारियों में जुट गए और सेल्फ स्टडी करके इस कठिन परीक्षा को पास कर लिया।

आर्थिक तंगी कामयाबी में आड़े नहीं आई

नोएडा के सेक्टर-45 स्थित काशीराम आवासीय कालोनी में रहने वाली पिंकी मसीह ने भी यूपीएससी 2023 की परीक्षा में सफलता हासिल की है। उन्हें 948 रैंक प्राप्त हुई है। पिंकी के जीवन में उसकी आर्थिक स्थितियां कभी आड़े नहीं आईं। कड़ी मेहनत के बाद पिंकी ने इस सफलता को हासिल किया है। डीयू से फिजियो थैरेपी में टॉपर पिंकी, पढ़ाई जारी रखने के साथ यूपीएससी की कोचिंग भी लेना चाहती थी, लेकिन उसके परिवार के पास आर्थिक समस्याएं थीं। पिंकी के पिता संजय कुमार अपना काम करते हैं। जबकि मां आशा मसीह सेक्टर-12 स्थित फादर एंगल स्कूल में सहायक के तौर पर काम करती हैं।

दो कोशिशों के बाद भी हार नहीं मानी

नोएडा की एक और बेटी ने यूपीएससी की परीक्षा पास कर नाम रोशन किया है। नोएडा के सेक्टर-134 जेपी कॉसमॉस सोसायटी निवासी हर्षिता ने यूपीएससी 2023 में 214वीं रैंक प्राप्त की है। पहले दो प्रयासों में वह परीक्षा उत्तीर्ण नहीं कर पाई थी, लेकिन उन्होंने हार नहीं मानी। रिवीजन और करंट अफेयर्स पर उन्होंने नजर रखी। उन्होंने डीयू के हिन्दू कॉलेज से जंतु विज्ञान में परास्नातक किया है।

पहले चरण के मतदान में भाजपा के “मिशन-80” की बड़ी परीक्षा, कल होना है मतदान

ग्रेटर नोएडा– नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देश-दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post