Tuesday, 28 May 2024

मालदीव बनाम लक्षद्वीप : 4 पॉइंट्स में समझें, क्यों बेहतर है लक्षद्वीप

Lakshadweep Vs. Maldives :  साल 2024 की शुरूआत के साथ ही मालदीव बनाम लक्षद्वीप शुरू हो गया है। वहीं इस…

मालदीव बनाम लक्षद्वीप : 4 पॉइंट्स में समझें, क्यों बेहतर है लक्षद्वीप

Lakshadweep Vs. Maldives :  साल 2024 की शुरूआत के साथ ही मालदीव बनाम लक्षद्वीप शुरू हो गया है। वहीं इस रेस में लक्षद्वीप बाजी मारता दिख रहा है। आपको जानकर हैरानी होगी की बीते 3 से 4 दिनों में केंद्र शासित प्रदेश लक्षद्वीप गूगल पर सबसे ज्यादा सर्च होने वाला नाम बन गया है। इस नाम को दुनियाभर से लोग सर्च कर रहे हैं। दरअसल 4 जनवरी 2024 को देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी लक्षद्वीप गए थे। जहां की कुछ शानदार तस्वीरें उन्होंने अपने सोशल मीडिया पर शेयर की साथ ही उन्होंने लोगों को एक बार इस जगह पर आने को भी कहा। इसके बाद से ही दुनियाभर में लोगों ने अपने हॉलिडे लिस्ट में लक्षद्वीप का नाम जोड लिया है और लगातार इससे जुड़ी जानकारियों के बारे में जान रहे हैं। ऐसे में आइए जानते हैं कि लक्षद्वीप सस्ता है या महंगा , इस जगह में क्या खास है और यहां तक कैसे पहुंचा जा सकता है।

क्या है लक्षद्वीप बनाम मालदीव विवाद?

दरअसल पीएम मोदी के सोशल मीडिया में लक्षद्वीप की तस्वीरें शेयर करने के बाद, मालदीव की सत्ताधारी पार्टी के नेताओं के उन तस्वीरों पर सोशल मीडिया पर गलत बायन दिया गया । जिसके बाद से देश भर को लोगों की ओर से बायकॉट मालदीव हेशटेग चलाया गया। इस विवाद के बाद कई भारतीयों ने मालदीव जाने का प्लान भी कैंसल कर दिया था। भारतीयों द्वारा उठाए गए इस कदम के बाद मालदीव सरकार को काफी आर्थिक नुकसान झेलना पड़ रहा है। इसे देखते हुए मालदीव सरकार ने उन तीनों मंत्रियों को बर्खास्‍त कर दिया था।

लक्षद्वीप जाने का क्या है सही समय ?

वैसे तो लक्षद्वीप बारहों महीने अपनी सुंदरता बिखेरता रहता है। लेकिन अगर आप यहां जाने का प्लान बना रहे हैं, तो इसके लिए अक्टूबर से मई के बीच के महीनें काफी अच्छे होते हैं। दरअसल तब यहां का तापमान 20 डिग्री सेल्सियस से 30 डिग्री सेल्सियस तक रहता है। इसलिए गर्मी की जगह आप यहां सर्दियों में आएंगे तो आपको घूमने में ज्यादा मजा आएगा।

Best time to visit in Lakshadweep
Best time to visit in Lakshadweep

लक्षद्वीप में है क्या खास ?Lakshadweep Vs. Maldives 

लक्षद्वीप, 36 द्वीपों के समुद्र तटो और प्राकृतिक खूबसूरत नजारों के लिए फेमस है। मलयालम और संस्कृत में लक्षद्वीप का नाम ‘एक लाख द्वीप’ है। यह भारत दक्षिण-पश्चिमी क्षेत्र में स्थित है।अपनी सुंदरता के चलते लक्षद्वीप किसी विदेशी पर्यटल स्थल से कम नहीं है। यह आपको शांति में प्राकृतिक के मनमोहक नजारे देखने को मिलेंगे। जिन लोगों को एडवेंचर से जुड़ी चीजों का शौक है उनके लिए यहां कई तरह की एक्टिविटी भी रखी गई है। इसके अलावा आपको यहा अगत्ती द्वीप देखने को मिलेगा जहां पर काफी साफ पानी, सफेद रेत, समुद्र तट और कई रोमांचक जगहें घूमने के लिए हैं। अगत्ती द्वीप पर आप स्नाॅर्कलिंग का लुत्फ भी उठा सकते हैं।

Famous Place in Lakshadweep
Famous Place in Lakshadweep

कैसे पहुंचे लक्षद्वीप ?

लक्षद्वीप आने के लिए आप दो तरीकों को अपना सकते हैं। पहला है फ्लाइट और दूसरा है रेल। अगर आप हवाई मार्ग से लक्षद्वीप जाने का प्लान बना रहे हैं, तो इसके लिए आपको सबसे करीबी एयरपोर्ट कोच्चि के अगत्ती एयरपोर्ट जाना पड़ेगा। लक्षद्वीप आने के लिए केवल यहीं एयरपोर्ट है। इसके बाद आप वहां से नाव या हेलीकॉप्टर की मदद से जा सकते हैं। इसके अलावा आप रेल की मदद से भी लक्षद्वीप जा सकते हैं। ट्रैन से जाने के लिए आपको सबसे पहले केरल के एर्नाकुलम साउथ रेलवे स्टेशन तक जाना होगा। यहां से आप समुद्री या हवाई मार्ग की मदद से लक्षद्वीप पहुंच सकते हैं।

लक्षद्वीप घूमने का क्या है खर्चा?

लक्षद्वीप जाने के लिए अगर आप एक महीने पहले ही टिकट बुक करवाते हैं, तो यह आपको सस्ती पड़ेगी। यहां घूमने के लिए प्रति व्यक्ति का कुल खर्चा लगभग 20 से 30 हजार तक हो सकता है। इसके अलावा आप टैवल एजेंट की मदद भी ले सकते हैं। जहां आपको 2 से 3 दिनों या 3 से 4 दिनों का पैकेज मिल जाएगा। जिसमें होटल, घूमना, लोकल ट्रांसपोर्ट और खाने का खर्च शामिल है। लेकिन इसमें आपको फ्लाइट का किराया नहीं मिलेगा, इसके लिए आपको खुद से टिकट करवानी पड़ेगी।

Related Post