Tuesday, 23 July 2024

छत से आती थी अजीबो-गरीब आवाज, सीलिंग तोड़ी तो निकला खतरनाक मंजर

Viral Video : आपने सोशल मीडिया पर हर तरह की वीडियो देखी होगी। जिसे देखने के बाद आप कई बार…

छत से आती थी अजीबो-गरीब आवाज, सीलिंग तोड़ी तो निकला खतरनाक मंजर

Viral Video : आपने सोशल मीडिया पर हर तरह की वीडियो देखी होगी। जिसे देखने के बाद आप कई बार हंसते-हंसते, लोट-पोट हुए होंगे तो कई बार इमोशनल भी हुए होंगे। आज-कल सोशल मीडिया पर हर तरह का वीडियो आसानी से देखने को मिल जाता है। अगर वीडियो अच्छी हो तो उसमें करोड़ों लाइक्स और कमेंट्स मिलते हैं वहीं अगर वीडियो ऊटपटांग हो तो लोगों द्वारा रीलप्रेमी को ट्रोलर्स का सामना भी करना पड़ता है। लेकिन इन दिनों जो वीडियो इंटरनेट पर वायरल हुआ है उसे देखकर लोगों की कंपकंपी छूट गई है। वीडियो में इतना खतरनाक मंजर दिखाई दे रहा है कि लोगों के पसीने छूट पड़े हैं।

छत से आती थी डरावनी आवाजें

यूं तो शहद हमारे शरीर से लेकर चेहरे तक के लिए बेहद फायदेमंद होता है और कई लोग शहद खाने के बेहद शौकीन भी होते हैं। लेकिन शहद खाने में जितना मीठा और स्वादिष्ट होता है उससे कई ज्यादा तीखा दर्द मधुमक्खी के काटने से होता है। मधुमक्खी एक हो या फिर मधुमक्खियों का झुंड आदमी डर ही जाता है। ऐसे में क्या हो जब एक घर के अंदर लाखों मधुमक्खियों ने डेरा डाल लिया हो। क्योंकि मधुमक्खियां जब अटैक करती हैं तो अच्छे अच्छों की नानी याद आ जाती है। हाल ही में जो वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है उसमें कमरे की छत के अंदर बहुत बड़ा मधुमक्खियों का छत्ता दिख रहा है। रिपोर्ट के मुताबिक मधुमक्खियां इस घर में कई सालों से एक बेडरूम की प्लास्टरबोर्ड छत में अपना लम्बा चौड़ा छत्ता बनाकर रह रही थीं। घर के मालिक की पोते- पोतियों ने बताया कि रोज रात को कमरे से भिनभिनाने की आवाजें आती थी। देखें वीडियो…

बेडरूम में मधुमक्खियों ने डाला डेरा Viral Video

सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे वीडियो को इंस्टाग्राम पर @lochnesshoney नाम के यूजर ने शेयर की है। खबरों की मानें तो घर के बेडरूम में मधुमक्खियों ने तीन कॉलोनियां बनाई थी जिसे देखकर ही रूह कांप उठती है। बताया जा रहा है कि हर कालोनी में 60 हजार मधुमक्खियां थीं और तीनों में मिलाकर कुल 1 लाख 80 हजार मधुमक्खियां पाई गई इस झुंड को एक जगह से हटाकर दूसरी जगह पर भेजने के लिए लोच नेस हनी कंपनी के ‘बीकीपर’ (मधुमक्खी पालने वाले) एंड्रयू कार्ड को बुलाया गया था। बताया जा रहा है कि छत्ते में उम्मीद से ज्यादा मधुमक्खियां पाई गई। एंड्रयू ने बताया कि अपने बड़े झुंड की वजह से Bees ने यह जगह चुनी होगी। आगे उन्होंने कहा कि मधुमक्खियों के सपाट छत चुनने की पीछे का कारण वहां इंसुलेशन की कमी थी, जो 40 लीटर के स्टोरेज की क्षमता देती थी।

गांव की छोरी बनी बिजनेस वुमन, बड़े शहर की सरजमीं पर गाड़ा झंडा

ग्रेटर नोएडा – नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देशदुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post