Friday, 14 June 2024

दुबई समाचार : दुबई एयर शो में हुए व्यापार से गदगद हैं विमानन उद्योग, 65 अरब डॉलर के हुए करार

दुबई समाचार : दुबई में हुए एयर शो के कारण दुनिया की प्रमुख एयरलाईंस कंपनियां (विमानन इंडस्ट्री) बेहद उत्साहित हैं।…

दुबई समाचार : दुबई एयर शो में हुए व्यापार से गदगद हैं विमानन उद्योग, 65 अरब डॉलर के हुए करार

दुबई समाचार : दुबई में हुए एयर शो के कारण दुनिया की प्रमुख एयरलाईंस कंपनियां (विमानन इंडस्ट्री) बेहद उत्साहित हैं। “स्काई व्यू एट द दुबई एयर शो” में दुनिया भर की विमानन कंपनियों को खूब व्यापार मिला है। एक जानकारी के मुताबिक दुबई के इस अनोखे एयर शो में 65 अरब डॉलर के व्यापारिक समझौते (सौदे) पर हस्ताक्षर हुए हैं। यदि भारतीय करेंसी की बात करें तो कुल 320 लाख करोड़ रूपए के व्यापारिक समझौते दुबई के एयर शो में किए गए हैं।

दुबई समाचार

कब हुआ एयर शो

आपको बता दें कि दुबई में होने वाला एयर शो “स्काईव्यू एंड दा दुबई एयर शो” दुबई का सबसे प्रतिष्ठित आयोजन होता है। एयरो स्पेस के भविष्य पर आधरित दुबई का एयर शो 17 नवंबर-2023 को सम्पन्न हुआ है। “स्काईव्यू एंड दा दुबई एयर शो” के नाम से होने वाले इस शो को मिडिल ईस्ट का सबसे बड़ा शो माना जाता है। इस वर्ष दुबई में एयर शो का 18वां आयोजन हुआ है। इस एयर शो में 320 लाख करोड़ रूप्ए के व्यापारिक समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए है।

चेतना मंच के संवाददाता व प्रतिष्ठित पत्रकार राकेश सूद ने भी इस एयर शो को देखा है। नीचे हम चेतना मंच न्यूज पोर्टल के संवाददाता राकेश सूद की पूरी रिपोर्ट आपको पढ़वाते हैं।

दुबई से राकेश सूद की रिपोर्ट

एयरोस्पेस के भविष्य पर आधारित दुबई एयरशो एवं विमानन प्रदर्शनी का समापन 17 नवंबर 2023 को हो गया। पांच दिवसीय प्रर्दशनी में अमेरिकन विमान निर्माता कंपनी बोईंग, मिडिल ईस्ट, संयुक्त अरब अमीरात और टर्की के एयर लाइंस पहली पसंद बनकर उभरी है। अग्रणी विमान निर्माता फ्रांस की एयर बस को इस शो में कड़ी टक्कर दी गई। बोइंग को 737 मैक्स को 200 हवाई जहाजों के आर्डर मिले हैं जिनकी कीमत 11 अरब डालर आंकी गई है। अमीरात एयर लाईन ने 52 अरब डालर का सौदा कंपनी के साथ किया है।

फ्रांस की एयर बस कंपनी ने अमीरात एयर लाइंस के साथ 1.5 अरब डालर का मेनटेनेस एंड रिपेयर के सौदे पर हस्ताक्षर किए।और एक वर्कशाप संयुक्त राज्य अमीरात में शुरू करने का सौदा किया।
13 नवंबर से शुरू हुए एयरशो में 95 देशों के 1400 प्रतिनिधियों ने भाग लिया। इस प्रदर्शनी में भाग लेने के लिए 400 कंपनियां पहली बार शामिल हुई।

80 स्टार्टअप (स्टार्टअप्स) की व्यवसायिक उडयन, उन्नत, अंतरिक्ष संचार से लेकर अंतरिभ रक्षा और सैन्य अंतरिक्ष यातायात प्रबन्धन आदि के क्षेत्र में लगे कंपनियोंं के लोग भी इस एयरशो में शामिल हुए। प्रर्दशनी में 20 देशों की पवेलियन लगाई गई और 9 कांफ्रेस हॉल में 300 वक्ताओं और विशेषज्ञों ने उपने विचार रखे।
आम जनता को एयर शो दिखाने के लिए एक ग्रेंड स्टैंड एयर शो स्थल के बाहर बनाया गया था। जिसे “स्काई व्यू एट दा दुबई एयर शो” कहा जाता है। इस जगह से लोग विमान चालकों और अंतरिक्ष यात्रियों से मिल सकते हैं और देख सकते है। यह सुविधा पूरी तरह से निशुल्क थी।

एयर शो में कई विमानन कंपनियों के जहाज और पायलट अपनी खूबिायों (विशेषताओं) का प्रदर्शन अन्तराष्ट्रीय एयर स्पेस के उद्योग से जुड़े प्रतिनिधियों के सामने कर सकते थे। इस समारोह में विमानन उद्योग के प्रतिनिधियों को कारोबार के विस्तार और नेट वर्किंग के अवसर प्राप्त होते हैं। प्रदर्शनी संयुक्त अरब अमीरात में होने वाले आयोजन का 18वां संस्करण था। दुबई एयर शो, दो वर्ष के अंतराल में होता है जो कि मिडिल ईस्ट में होने वाली सबसे बड़ी प्रदर्शनी मानी जाती है।

नोएडा में बदले गए भाजपा के प्रभारी, विधायक पंकज सिंह को कानपुर की जिम्मेदारी

देश विदेश की खबरों से अपडेट रहने लिए चेतना मंच के साथ जुड़े रहें।

देश-दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post