Thursday, 13 June 2024

उत्तर प्रदेश के एक खास बेटे के मुरीद हुए PM मोदी, भेजा पत्र

Up News : उत्तर प्रदेश के मध्य अवध क्षेत्र के एक खास युवक ने अनोखा काम किया है। उत्तर प्रदेश…

उत्तर प्रदेश के एक खास बेटे के मुरीद हुए PM मोदी, भेजा पत्र

Up News : उत्तर प्रदेश के मध्य अवध क्षेत्र के एक खास युवक ने अनोखा काम किया है। उत्तर प्रदेश के इस खास बेटे के काम से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी उसके मुरीद हो गए हैं। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने उत्तर प्रदेश के इस खास बेटे को पत्र लिखकर उसकी खूब तारीफ की है। उत्तर प्रदेश के इस बेटे को हम यूं ही उत्तर प्रदेश का खास बेटा नहीं बता रहे हैं। दरअसल उत्तर प्रदेश का यह बेटा है ही बेहद खास।

पीएम मोदी ने की उत्तर प्रदेश के बेटी की तारीफ

उत्तर प्रदेश के अयोध्या मंडल का बाराबंकी जिला अचानक चर्चा में आ गया है। दरअसल उत्तर प्रदेश के बाराबंकी के मोहल्ला पीरबटावन मे रहने वाले अभय चांदवासिया को PM मोदी ने पत्र लिखा है। इस पत्र में PM मोदी ने उत्तर प्रदेश के इस बेटे अभय की खूब तारीफ की है। साथ ही अभय का आभार भी व्यक्त किया है। आप सोच रहे होंगे कि आखिर उत्तर प्रदेश के इस बेटे ने ऐसा क्या काम किया है जिस कारण पीएम…. मोदी इसके मुरीद हो गए हैं? हम आपको पूरा किस्सा विस्तार से बता देते हैं।

Up News

खास है उत्तर प्रदेश का यह बेटा

यह किस्सा है उत्तर प्रदेश के बाराबंकी के रहने वाले अभय चांदवासिया का। जिन्होंने अपनी स्वरचित कविता के एक-एक शब्द पीएम मोदी को समर्पित किए हैं. शरीर एकदम निर्बल पड़ा है बिस्तर पर लेकिन, मन दुर्बल नहीं हुआ. कविता की पंक्तियों के जरिए आवाज ऐसी उभरती है कि कोई उस आवाज की ललकार सुन ले तो कभी नहीं माने कि यह व्यक्ति इतना बेबस है कि कई सालों से इसने कमरे के बाहर जाकर सूर्य के प्रकाश को भी अपनी खुली आंखों से नहीं निहारा है। दस साल से देश में क्या हुआ उसने कमरे के भीतर बिस्तर पर पड़े-पड़े ही इसे महसूस किया है। लेकिन, पीएम नरेंद्र मोदी के लिए उसकी दीवानगी ऐसी है कि शब्दों को कलमबद्ध करके उसे कविता का रूप दे दिया। कविता की उनकी पंक्तियों में पीएम नरेंद्र मोदी के व्यक्तित्व, उनके राष्ट्रहित के प्रयासों और उनके नेतृत्व क्षमता का वर्णन उनकी आवाज में सुनाई पड़ता है। पीएम मोदी के लिए उनके विचार मानो शब्दों पर धारा प्रवाह बहे हों।

भयानक रोग से पीड़ित है अभी

अभय चांदवासिया पिछले 20 सालों से खुद मोटर न्यूरोन डिसऑर्डर नाम की लाइलाज बीमारी से पीड़ित हैं और वर्तमान में 95 प्रतिशत तक शारीरिक अक्षमता के साथ जीवन व्यतीत कर रहे हैं। फिर भी बिस्तर पर पड़े इस आदमी की सोच निर्बल नहीं हुई है, उनके हौसले इतने बुलंद है कि इतनी विषम परिस्थिति के बावजूद वह पीएम नरेंद्र मोदी के व्यक्तित्व को जितना कलमबद्ध करने में मेहनत करते नजर आते हैं, उनकी आवाज की बुलंदी ने पीएम मोदी के व्यक्तित्व को उससे भी बड़ा बना दिया है। बीमारी ने भी अभय चांदवासिया के हौसले को नहीं तोड़ा है। वह पिछले 4 वर्षों से ना बैठ सकते हैं, ना ही खुद खाना खा सकते हैं और ना ही वो अपने हाथ-पैर तक हिला सकते हैं। बस हाथ की कुछ उंगलियों को कंप्यूटर के माउस पर चलाकर प्रधानमंत्री मोदी के लिए उन्होंने ऐसे शब्द गढ़ डाले हैं। जिन्हें सुनकर हर कोई उत्तर प्रदेश के इस बेटे का मुरीद बन सकता है।  Up News

गाजियाबाद में महिला पत्रकार पर जानलेवा हमला, कपड़े फाडे, कैमरा तोड़ा

ग्रेटर नोएडा – नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देशदुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post