Tuesday, 25 June 2024

उत्तर प्रदेश की तूफानी बेटी ने अमेरिका में गाडा भारत का झंडा

UP News : उत्तर प्रदेश की एक बेटी ने अमेरिका में भारत का झंडा गाड दिया है। उत्तर प्रदेश की…

उत्तर प्रदेश की तूफानी बेटी ने अमेरिका में गाडा भारत का झंडा

UP News : उत्तर प्रदेश की एक बेटी ने अमेरिका में भारत का झंडा गाड दिया है। उत्तर प्रदेश की इस बेटी का प्रचलित नाम तो पूजा तोमर है। उत्तर प्रदेश की इस बेटी के काम को देखकर हर कोई इस बेटी को तूफानी बेटी, तूफान तथा साइक्लोन के नाम से बुलाता है। उत्तर प्रदेश की इस तूफानी बेटी की दुनिया भर में तारीफ हो रही है। तारीफ हो भी क्यों नहीं उत्तर प्रदेश की इस लाड़ली बेटी ने काम ही इतना शानदार किया है।

उत्तर प्रदेश की बेटी ने अमेरिका में रचा इतिहास

उत्तर प्रदेश के बागपत जिले के बिजरौल गांव की रहने वाली पूजा तोमर ने अमेरिका के केन्टकी शहर में एक नया इतिहास रच दिया है। उत्तर प्रदेश की इस बेटी ने अमेरिका में आयोजित यूएफसी (अल्टीमेट फाइटिंग चैंपियनशिप) में वह कर दिखाया है जो हर भारतवासी का सपना होता है। पूजा ने ब्राजीलियन खिलाड़ी को हराकर चैंपियनशिप जीत कर इतिहास रच दिया। उत्तर प्रदेश की बेटी पूजा तोमर ऐसा करने वाली पहली भारतीय महिला खिलाड़ी बन गई हैं।

उत्तर प्रदेश की बेटी पूजा तोमर ने यूएफसी 2024 में ब्राजील की रेयान डॉस सैंटोस को हराया। पूजा ने पिछले साल ही यूएफसी कांट्रैक्ट हासिल करने वाली पहली भारतीय महिला बनकर नया कीर्तिमान स्थापित किया था। महिलाओं के स्ट्रॉवेट डिवीजन में अपनी पहली फाइट में उन्होंने 30-27, 27-30 और 29-28 के स्कोर के जीत हासिल की। दोनों के बीच काफी करीबी मुकाबला था। पूजा तोमर पहले राउंड में शक्तिशाली बॉडी किक्स के साथ डॉस सैंटोस पर हावी रही।

UP News

भारतीय फाइटर ने पहले राउंड में डॉस सैंटोस को फाइट में आगे बढऩे के बारे में सोचने पर मजबूर कर दिया। दूसरे राउंड में डॉस सैंटोस ने बढ़त हासिल की। इस राउंड में ब्राजीलियाई खिलाड़ी ने भारतीय स्टार के जैसा तरीका अपनाने और अधिक किक्स लगाने का फैसला किया जिसमे वह सफल रही। अंतिम राउंड बहुत ही कठिन और बराबरी का था, लेकिन पूजा के निर्णायक पुश किक नॉकडाउन ने उसे जीत दिला दी।

बागपत जिले की है यह बेटी

उत्तर प्रदेश की यह बेटी बागपत जिले के बिजरौल गांव की रहने वाली है। इन दिनों पूजा तोमर का परिवार मुजफ्फरनगर के बुढ़ाना कस्बे में रहता है। उनका पूरा परिवार 1975 में ही बिजरौल छोडक़र बुढ़ाना में जाकर रहने लगा था। पूजा तोमर के पिता रामकुमार तोमर का 16 साल पहले सडक़ हादसे में देहांत हो गया था। पूजा तोमर तीन बहनें है जिनमे सबसे बड़ी अजंलि तोमर है। वह नर्स हैं, दूसरे नंबर पर अनू तोमर है और एमबीबीएस डॉक्टर हैं। बिजरौल गांव में उनके परिवार के थाम्बा चौधरी यशपाल सिंह, ताऊ ओमप्रकाश सिंह, महिपाल सिंह रहते हैं। उनके चाचा सत्यवीर सिंह तोमर हरियाणा में रहते हैं।

पूजा की माता बबीता तोमर गृहणी हैं। उत्तर प्रदेश की बेटी पूजा तोमर ने अपने डेब्यू में ही यह कारनामा कर इतिहास रचा है। पूजा तोमर वुशु खिलाड़ी हैं और वह वुशु की वर्ल्ड चैंपियन भी रह चुकी हैं। इसके बाद पूजा ने यूएफसी की तर्ज पर होने वाली एमएसएन चैंपियनशिप में भी हिस्सा लिया। इसके बाद वह सीधे डेब्यू करते हुए यूएफसी में शामिल हुई और यह कारनामा कर दिखाया। पूजा तोमर पश्चिमी उत्तर प्रदेश के जाट समाज से आती हैं। UP News

आखिर सोशल मीडिया पर क्यों वायरल हो रहा है ‘All Eyes on Reasi’?

ग्रेटर नोएडा – नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देशदुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें

Related Post