Thursday, 13 June 2024

यूपी बोर्ड पेपर लीक: पुलिस का बड़ा एक्शन, कॉलेज के 2 अधिकारी अरेस्ट

UP News : उत्तर प्रदेश के आगरा में यूपी बोर्ड इंटरमीडिएट पेपर लीक मामले में उत्तर प्रदेश पुलिस को बड़ी…

यूपी बोर्ड पेपर लीक: पुलिस का बड़ा एक्शन, कॉलेज के 2 अधिकारी अरेस्ट

UP News : उत्तर प्रदेश के आगरा में यूपी बोर्ड इंटरमीडिएट पेपर लीक मामले में उत्तर प्रदेश पुलिस को बड़ी सफलता मिली है। उत्तर प्रदेश पुलिस ने यूपी बोर्ड 12वीं के पेपर लीक होने के मामले में दो लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने केंद्र व्यवस्थापक राजेंद्र सिंह उर्फ हुड्डा और अतिरिक्त केंद्र व्यवस्थापक गंभीर सिंह को गिरफ्त में लिया है। जबकि, पेपर लीक घटना का मुख्य आरोपी विनय चौधरी फरार है, जो कॉलेज में कंप्यूटर ऑपरेटर का काम देखता है। पुलिस उसकी गिरफ्तारी के लिए लगातार दबिश दे रही है।

UP News

आपको बता दें कि  कक्षा 12वीं के बायोलॉजी और मैथ का पेपर गुरुवार को परीक्षा शुरू होने के 1 घंटे बाद आगरा में वाट्सऐप पर वायरल होने लगा था। इस मामले में आगरा पुलिस ने 2 लोगों को गिरफ्तार भी किया है। गुरुवार को दूसरी पाली में इंटरमीडियट के जीव विज्ञान और मैथ की परीक्षा चल रही थी, परीक्षा 2 बजे शुरू हुई थी कि इसके 1 घंटे बाद ऑल प्रिंसिपल आगरा ग्रुप पर जीव विज्ञान के साथ गणित का पेपर ग्रुप पर डाल दिया गया।

विनय ने किया था पेपर लीक

पुलिस जांच में सामने आया कि कि अतर सिंह इंटर कॉलेज के कंप्यूटर ऑपरेटर विनय चौधरी के मोबाइल नंबर से ही पेपर (प्रश्न पत्र) व्हाट्सएप ग्रुप में डाला गया था। पेपर ग्रुप पर डालने के पांच मिनट बाद ही डिलीट कर दिया था। लेकिन तब तक यह इंटरनेट पर प्रसारित होने लगा। इसकी भनक लगते ही विनय ने तुरंत ग्रुप छोड़ दिया और अपना फोन नंबर भी बंद कर लिया।

गंभीर धाराओं में मामला दर्ज

बता दें कि थाना फतेहपुरसीकरी पुलिस ने दोनों आरोपियों (केंद्र व्यवस्थापक और अतिरिक्त केंद्र व्यवस्थापक) को अरेस्ट किया है। ये दोनों एग्जाम सेंटर में तैनात थे। वहीं पेपर लीक मामले में ताज सुरक्षा अरीब अहमद को जांच अधिकारी नियुक्ति किया गया है। अरीब अहमद ने कहा कि डीआईओएस ने थाना फतेहपुरसीकरी में तहरीर दी थी। उन्होंने आरोप लगाया था कि अतर सिंह इंटर कॉलेज के कंप्यूटर ऑपरेटर ने गणित और जीव विज्ञान के पेपर ग्रुप पर वायरल कर दिए थे। तहरीर मिलने के बाद सुसंगत धाराओं में मुकदमा दर्ज कर दो लोगों की गिरफ्तारी की गई।

 एसीपी ने दी जानकारी

एसीपी अरीब अहमद ने बताया कि पुलिस ने इंटरमीडिएट के इस पेपर्स को वायरल करने के मामले में दो लोगों को गिरफ्तार भी किया है। पुलिस ने अतर सिंह इंटर कॉलेज के केंद्र व्यवस्थापक और अतिरिक्त केंद्र व्यवस्थापक को गिरफ्तार किया है। पुलिस के मुताबिक, केंद्र व्यवस्थापक राजेंद्र सिंह के बेटे विनय चौधरी ने ये पेपर वायरल किए थे। केंद्र व्यवस्थापक राजेंद्र सिंह को पुलिस ने गिरफ्तार किया था। वहीं देर रात को अतिरिक्त केंद्र व्यवस्थापक गंभीर सिंह को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। दोनों आरोपियों से पूछताछ में पुलिस जुटी हुई है। साथ ही फरार कंप्यूटर ऑपरेटर विनय चौधरी की तलाश की जा रही है।

UP बोर्ड का पेपर लीक? क्या दोबारा करवाई जाएगी परीक्षा

देश-विदेश की खबरों से अपडेट रहने लिए चेतना मंच के साथ जुड़े रहें।

देश-दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post