Saturday, 25 May 2024

Uttrakhand : टिहरी झील पर लॉग हट्स बनाने के लिए मिला उपविजेता का पुरस्कार

Uttrakhand :  देहरादून। ‘स्वदेश दर्शन योजना’ के तहत टिहरी झील पर तैरने वाली हट्स और इको रूम बनाने के लिए…

Uttrakhand : टिहरी झील पर लॉग हट्स बनाने के लिए मिला उपविजेता का पुरस्कार

Uttrakhand :  देहरादून। ‘स्वदेश दर्शन योजना’ के तहत टिहरी झील पर तैरने वाली हट्स और इको रूम बनाने के लिए उत्तराखंड को सर्वश्रेष्ठ लॉग हट्स श्रेणी में उप विजेता का पुरस्कार मिला है। योजना के तहत राज्यों द्वारा अपनाई गई सर्वोत्तम कार्यपद्धति के लिए पर्यटन मंत्रालय द्वारा यह पुरस्कार दिया जाता है।

Uttrakhand News

राज्य के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज ने बताया कि उत्तराखंड को टिहरी झील पर 20 लॉग हटस बनाने के लिए यह सम्मान दिया गया है। उन्होंने कहा कि परियोजना के लिए 11 करोड़ रुपये से अधिक मंजूर किए गए थे।

नई दिल्ली में मंगलवार को केंद्रीय पर्यटन मंत्री जी किशन रेड्डी से पुरस्कार प्राप्त करने के बाद महाराज ने कहा कि यह सम्मान इस बात का संकेत है कि राज्य सरकार अच्छा काम कर रही है। उन्होंने कहा कि इससे हमें और भी बेहतर करने का प्रोत्साहन मिलता है।

स्वदेश दर्शन योजना 2.0 के तहत उत्तराखंड में आदि कैलाश, ओम पर्वत और पिथौरागढ़ जिले के मुनस्यारी और चंपावत जिले के चूका सहित कई पर्यटन बुनियादी ढांचा विकास परियोजनाएं शुरू की गई हैं।

मंत्री ने कहा कि कटारमल, जागेश्वर और बैजनाथ देवीधुरा को भी ‘हेरिटेज सर्किट’ के रूप में विकसित किया जा रहा है।

उन्होंने कहा कि लॉग हट्स आधुनिक पर्यटन में मील का पत्थर साबित होंगी। पर्यावरण के अनुकूल होने के अलावा, ये गर्मियों में पर्यटकों को ठंडा और सर्दियों में गर्म रखने वाले इंसुलेटर (ऊष्मा रोधक) के रूप में भी काम करती हैं।

Kedarnath Yatra 2023 : जानिए कब खुलेंगे केदारनाथ धाम के कपाट, बर्फबारी से तैयारियों में बाधा

उत्तराखंड की खबरों से अपडेट रहने लिए चेतना मंच के साथ जुड़े रहें।

देश-दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें।

Related Post