Tuesday, 25 June 2024

हाई बीपी और कई बीमारियों में फायदेमंद है बेल का शर्बत,बनाना भी है आसान

Benefits of Bael Sherbet : गर्मियों मे मिलने वाला एक रामबाण फल है जिसका सेवन गर्मियों मे बहुत ही लाभदायक…

हाई बीपी और कई बीमारियों में फायदेमंद है बेल का शर्बत,बनाना भी है आसान

Benefits of Bael Sherbet : गर्मियों मे मिलने वाला एक रामबाण फल है जिसका सेवन गर्मियों मे बहुत ही लाभदायक होता हैं । ये फल बहुत ही कम दिनों के लिये मिलता हैं । इसका शर्बत को सुबह खाली पेट पीने से अनगिनत फायदे होते हैं । ये हमे धूप से होने वाली बीमारी और लू से भी बचाता हैं । हम बात करने जा रहे हैं महादेव के प्रिय फल बेल की। ये सेहत के लिये तो लाभदायक होता हैं साथ ही स्वाद मे भी बहुत अच्छा होता हैं । इसके सेवन से पाचन तंत्र ठीक रहता है ।

बेल के शर्बत के फायदे :

गर्मियों मे मिलने वाला बेल का फल तासीर मे ठंडा होता हैं जिसकी वजह से यह शरीर के तापमान को मेंटेन रखता हैं । इसे गर्मियों का खास शर्बत कहा जाता है । इसमें पाये जाने वाले टैनिन, फ्लेवोनोइड्स और कैमारिन जैसे पोषक तत्व हमारे शरीर के सूजन को कम करते हैं। आयुर्वेद में बेल के गुण (Bael ke fayde in hindi) का प्रमुखता से उल्लेख किया गया है और बताया गया है कि यह तरबूज के अलावा, डायरिया, पेचिश, कान दर्द, स्कर्वी आदि मसालों में भी है। बेल के गूदे के साथ बेल के बीज भी बहुत गुणकारी होते हैं। धार्मिक रुप से भी इस फल का काफी महत्व है। शिवपुराण सहित अन्य धर्मग्रंथों में फल, वृक्ष और पत्तियों की विशेषताएं वर्णित की गई हैं।

पाचन तंत्र के लिये हैं लाभदायक:

आजकल बदलते परिवेश मे और खराब खानपान के चलतें कब्ज,गैस ,ऐसिडिटी और पेट से जुड़ी कई तरह की समस्याओं का सामना करना पड़ता है । इसके लियें आप बेल का शर्बत बनाकर उसका सेवन कर सकतें हैं । बेल पेट की गर्मी को शांत करता है और इन समस्याओं से मुक्ति दिलाता है। बेल का शरबत पीने से गैस्ट्रिक अल्सर के लक्षणों को भी कम करने में मदद मिल सकती है।

हाई बीपी मे है फायदेमंद:

बेल हाई बीपी के मरीजों मे बहुत फायदेमंद होता है । इसलिए इन मरीजों को बेल के शरबत का जरूर सेवन करना चाहिए। इसके साथ ही ये शरबत कोलेस्ट्रॉल लेवल को भी घटाता है। इसमें लिपिड प्रोफाइल और ट्राइग्लिसेराइड्स को कंट्रोल करने की क्षमता होती है।

सनस्ट्रोक से बचाने में है फायदेमंद:

गर्मियों का मौसम आते ही लू लगने की समस्या आम हो जाती है । लू लगने से शरीर का तापमान बढ़ जाता है और उल्टी दस्त की समस्या हो जाती हैं । इससे निजात पाने के लिये बेल का शर्बत बहुत कारगार होता हैं । बेल में टैनिन और शिगेलोसिस होता है, जो संक्रमण से लड़ने में मदद करते हैं। यह संक्रमण डायरिया का कारण बनता है। इसलिए अगर आपको दस्त या डायरिया हुआ है, तो सुबह खाली पेट बेल का शर्बत पीना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। बेल का शर्बत पीने से गर्म हवा से होने वाले प्रभाव को कम करने मे मदद मिलती है । ये शरीर को लू लगने से बचाता है । इससे शरीर में पानी की कमी पूरी होती है और लू से बचाव होता है।

Benefits of Bael Sherbet : इम्युनिटी बूस्टर

बेल का शर्बत शरीर को ठंड़ा रखने के साथ हमारे शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को भी बढ़ाता है । ये हमारे शरीर को डीटॉक्स करता हैं । ब्लड मे मिली अशुद्धि को बाहर निकालता है और ब्लड साफ करता हैं । बेल में कई तरह के प्रोटीन ,बीटाकैरोटिन ,थायमीन,राइबोफ्लेविन और विटामिन सी जैसे कई पोषक तत्व पाये जाते हैं । जो हमारे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने का काम करता हैं ।

बेल का शर्बत बनाने की विधि:

Benefits of Bael Sherbet

बेल का शरबत बनाने के लिए सबसे पहले बेल को तोड़कर पूरा गूदा एक बर्तन में निकाल लें। फिर इसके गूदे को बर्तन में ठंडा पानी मिलाकर उसे लगभग 1 घंटे के लिए अलग रख दें। इसके बाद गूदे को पानी के साथ अच्छी तरह से मैश कर दें। बेल को मैश करने से उसके रेशे और बीज अलग हो जायेंगे। इसके बाद जूस को एक बर्तन में छान लें। अब छाने हुए शरबत में स्वादानुसार चीनी डालकर अच्छी तरह से मिक्स कर दें। इसमे आप स्वाद के अनुसार नीबू का रस भी मिला सकतें हैं । इसके बाद उसमें आइस क्यूब्स डालकर 1-2 मिनट के लिए छोड़ दें। आपका स्वादिष्ट बेल का शरबत बनकर तैयार हो चुका है।

गर्मियों में घर पर दस्तक देते ही नहाना पड़ सकता है मंहगा

Related Post