Thursday, 13 June 2024

विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका खिताब जीतने के इरादे से उतरेगा, क्या इस बार होगी तमन्ना पूरी?

विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका : 13वें वनडे विश्व कप की शुरुआत हो चुकी है, 19 नवंबर तक चलने वाले…

विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका खिताब जीतने के इरादे से उतरेगा, क्या इस बार होगी तमन्ना पूरी?

विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका : 13वें वनडे विश्व कप की शुरुआत हो चुकी है, 19 नवंबर तक चलने वाले इस विश्व कप में सभी टीमें खिताब जीतने की कोशिश करेंगी। जिनमें अब तक खिताब जीतने में असफल रही दक्षिण अफ्रीका की टीम भी शामिल है।

उसका भी ये प्रयास होगा कि इस बार वो चैम्पियन बनने का सपना पूरा कर सकें। दक्षिण अफ्रीका की टीम हर बार की तरह इस बार भी मजबूत नजर आ रही है। बावुमा के नेतृत्व में उसमें इतना दमखम है कि वो खिताब जीत सके।

विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका

इस बार दक्षिण अफ्रीका का दावा कितना है मजबूत

विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका का दावा हर बार मजबूत रहा है, कई बार ऐसा लगा है कि टीम विश्व विजेता बन सकती है, लेकिन हर बार किस्मत उसे दगा दे जाती है और वो महत्वपूर्ण मौके पर हारकर खिताब जीतने से चूक जाती है।

1992 में क्रिकेट जगत में उसकी वापसी के बाद से यही कहानी जारी है, इसी कारण उसे चोकर का तमगा दिया गया है। इस बार भी उसे विश्व कप शुरू होने से पहले कुछ अहम खिलाड़ियों के अनफ़िट हो जाने के कारण झटके लग चुके हैं।

विश्व कप में दक्षिण अफ्रीका टीम का मजबूत पहलू

प्रोटियाज टीम के पास इस विश्व कप में टेम्बा बावुमा (कप्तान), क्विंटन डी कॉक, हेनरिक क्लासेन, केशव महाराज, एडेन मार्करम, डेविड मिलर, लुंगी एंगिडी, कगिसो रबाडा, तबरेज़ शम्सी, रासी वैन डेर डुसेन जैसे अनुभवी खिलाड़ी मौजूद हैं, जो अपने दम पर टीम को जीतने का माद्दा रखते हैं।

इन खिलाड़ियों के बलबूते दक्षिण अफ्रीका की टीम इस बार अपने ऊपर लगे चोकर के तमगे को हटाने का प्रयास करेगी। हाल के प्रदर्शन को देखते हुए टीम से अच्छे प्रदर्शन की अपेक्षा की जा सकती है।

ये कमियाँ टीम के आड़े आ सकती हैं

दक्षिण अफ्रीका टीम में शामिल गेराल्ड कोएत्ज़ी, रीज़ा हेंड्रिक्स, मार्को जानसन, एंडिले फेहलुकवायो, लिजाड विलियम्स के पास ज्यादा अनुभव नहीं है, ये टीम के लिए दिक्कत का कारण बन सकता है।

इसके अलावा भारतीय कंडीशन में स्पिनरों को खेलने में दक्षिण अफ्रीका के केवल कुछ ही खिलाड़ियों क्विंटन डी कॉक, डेविड मिलर, हेनरिक क्लासेन, एडेन मार्करम को महारत हासिल है, ये भी समस्या पैदा कर सकता है। टीम को नोर्किया की कमी भी खलेगी, जो इंजरी के कारण बाहर हो चुके हैं।

दक्षिण अफ्रीका की टीम: 

टेम्बा बावुमा (कप्तान), गेराल्ड कोएत्ज़ी, क्विंटन डी कॉक, रीज़ा हेंड्रिक्स, मार्को जानसन, हेनरिक क्लासेन, केशव महाराज, एडेन मार्करम, डेविड मिलर, लुंगी एंगिडी, एंडिले फेहलुकवायो, कगिसो रबाडा, तबरेज़ शम्सी, रासी वैन डेर डुसेन, लिजाड विलियम्स।

अगली खबर

भारत को हॉकी में गोल्ड : शानदार खेल दिखाते हुए जीता गोल्ड मेडल, पेरिस ओलंपिक के लिए भी किया क्वालिफ़ाई

ग्रेटर नोएडा नोएडा का नंबर न्यूज़ पोर्टल

देश – दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें नीचे दिये गए सोशल मीडिया लिंक्स पर फॉलो करें और एक से एक बेहतरीन वीडियो देखने के लिए यूट्यूब चैनल सबस्क्राइब करें और चेतना मंच से जुड़े रहें।

Connect with us on:

Facebook | Twitter | LinkedIn | Instagram | Koo | YouTube

Related Post