Saturday, 15 June 2024

हल्द्वानी हिंसा के मास्टरमाइंड पर कसा शिकंजा, कुर्की में घर के चौखट और दरवाजे भी उखाड़े

Haldwani Violence : उत्तराखंड के नैनीताल जिले के वनभुलपुरा क्षेत्र में 8 फरवरी को हुई हिंसा में पुलिस लगातार हिंसा…

हल्द्वानी हिंसा के मास्टरमाइंड पर कसा शिकंजा, कुर्की में घर के चौखट और दरवाजे भी उखाड़े

Haldwani Violence : उत्तराखंड के नैनीताल जिले के वनभुलपुरा क्षेत्र में 8 फरवरी को हुई हिंसा में पुलिस लगातार हिंसा में शामिल आरोपियों की गिरफ्तारी कर रही है। कोर्ट से संपत्ति कुर्की का आदेश मिलने के बाद पुलिस ने हल्द्वानी हिंसा के मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक घर पर कुर्की की कार्रवाई की है। जबकि फरार चल रहे मलिक और उसके बेटे समेत नौ आरोपियों के खिलाफ शुक्रवार को पोस्टर जारी किए गए। वहीं पुलिस ने मुख्य आरोपी अब्दुल मलिक और उसके बेटे के साथ ही 7 आरोपियों के पोस्टर भी जारी किये हैं।

Haldwani Violence

आपको बता दें कि जिला प्रशासन ने भी हल्द्वानी हिंसा के आरोपियों की कमाई पर ‘चोट’ करते हुए उनके खनन वाहन पंजीकरण निरस्त कर दिए है। पुलिस ने हल्द्वानी हिंसा के मास्टरमाइंड अब्दुल मलिक और उसके बेटे अब्दुल मोईद की संपत्ति कुर्क करने की कार्रवाई शुरू कर दी है। कुर्की के दौरान उसके घर के सभी सामान को जब्त करने की कार्रवाई की जा रही है। इसके अलावा उसके मकान के दरवाजे और चौखट भी उखाड़े जा रहे हैं।

अब्दुल मलिक के घर की हुई कुर्की

पुलिस ने हलद्वानी वनभुलपुरा हिंसा के मुख्य आरोपी अब्दुल मलिक के आलीशान घर बनभूलपुरा लाइन नंबर 8 घर की कुर्की की कार्रवाई शुरू कर दी है। कार्रवाई के दौरान हरबंस सिंह एसपी सिटी हल्द्वानी, तहसीलदार सचिन तहसीलदार के साथ जिला प्रशासन और पुलिस की टीम कुर्की की कार्रवाई कर रही है। कुर्की के दौरान भारी फोर्स तैनात की गई।

बेटे सहित 7 आरोपी फरार

एसएसपी नैनीताल प्रहलाद नारायण मीणा ने बताया बनभूलपुरा हिंसा का मुख्य आरोपी अब्दुल मलिक और उसका बेटा के साथ-साथ 7 अन्य आरोपी फरार चल रहे हैं। इनके खिलाफ पुलिस संपत्ति कुर्की की आदेश न्यायालय से प्राप्त किया है।

आरोपियों की तलाश में पुलिस दे रही दबिश

न्यायालय के आदेश के बाद हिंसा के आरोपी अब्दुल मलिक और उसके बेटे की संपत्ति कुर्क करने की कार्रवाई की जा रही है। पुलिस ने फरार सभी लोगों को वांटेड घोषित किया है। पुलिस की टीम आरोपियों की धर पकड़ के लिए लगातार जगह-जगह दबिश रही है।

इंटरनेट सेवा नहीं हुई बहाल

आपको बता दें कि कर्फ्यूग्रस्त इलाके में बाहर से किसी व्यक्ति को अंदर जाने और अंदर के व्यक्ति को बाहर जाने की अनुमति नहीं दी गई। हालात को सामान्य होता देख कर्फ्यू के समय सीमा में और बढ़ोतरी की जा सकती है। हालांकि कुछ इलाकों में अभी भी इंटरनेट सेवा पूरी तरह बहाल नहीं की गई है। एडीजी प्रशासन अमित सिन्हा ने नई चौकी का निरीक्षण करने के साथ ही व्यवस्था को लेकर पुलिस अधिकारियों के साथ चर्चा भी की।

बीजेपी ने की मंडल प्रभारियों की घोषणा, इन्हें दी गई जिम्मेदारी

ग्रेटर नोएडा – नोएडा की खबरों से अपडेट रहने के लिए चेतना मंच से जुड़े रहें।

देश-दुनिया की लेटेस्ट खबरों से अपडेट रहने के लिए हमें  फेसबुक  पर लाइक करें या  ट्विटर  पर फॉलो करें।

Related Post