Sunday, 16 June 2024

Multibagger Stock: 37 पैसे वाले मल्टीबैगर स्टाॅक ने चलाया जादू, एक साल में निवेशकों को कर दिया मालामाल

नई दिल्ली: ग्लोबल मार्केट से मिलने वाले खराब संकेतों के बीच भारतीय शेयर बाजार में गिरावट से निवेशकों (Multibagger Stock)…

Multibagger Stock: 37 पैसे वाले मल्टीबैगर स्टाॅक ने चलाया जादू, एक साल में निवेशकों को कर दिया मालामाल

नई दिल्ली: ग्लोबल मार्केट से मिलने वाले खराब संकेतों के बीच भारतीय शेयर बाजार में गिरावट से निवेशकों (Multibagger Stock) को काफी नुकसान हो गया है। पिछले कारोबारी सत्र में भी बात करें तो शेयर मार्केट में बंपर गिरावट हो चुकी है। सेंसेक्स 1000 से ज्यादा अंक नीचे पहुंच गया था। लेकिन इस दौरान कुछ ऐसे स्टाॅक भी देखने को मिले हैं जिसकी वजह से भारी मुनाफा हुआ है।

बंपर रिटर्न दे रहा पेनी स्टॉक

आज हम ऐसे शेयर (Multibagger Stock) के बारे में जानकारी साझा करने जा रहे हैं, जिसकी मदद से निवेशकों को एक करोड़ का फायदा हो चुका है। यह शेयर है- कैसर कॉर्पोरेशन लिमिटेड (Kaiser Corporation)। जानकारी के मुताबिक ये शेयर मल्टीबैगर की सूची में शामिल हो गया है। कैसर कॉर्पोरेशन लिमिटेड के शेयर की बात करें तो महज एक साल में ही 19,183 फीसदी से अधिक का रिटर्न मिल गया है।

शेयर मार्केट का कैसा रहा है सफर

जानकारी के मुताबिक इस शेयर के इतिहास के बारे में। कैसर कॉर्पोरेशन लिमिटेड के शेयर 30 जून 2021 को बीएसई (BSE) पर 37 पैसे प्रति शेयर के स्तर पर पहुंच गया था। जो अभी 71.35 रुपये पर कारोबार करते नजर आ रहे हैं। इस पेनी स्टॉक ने अपने निवेशकों को 19,183.78% का जबरदस्त रिटर्न देना शुरु कर दिया है। इस पूरे साल में बात की जाए तो इस शेयर ने 2,343.49% का जादुई रिटर्न मिल गया है। लेकिन आपको बता दें कि पिछले एक महीने में यह शेयर 17.70% नुकसान में पहुंच चुका है।

निवेशकों को करोड़ों का हुआ फायदा

कैसर कॉर्पोरेशन लिमिटेड के शेयर (Kaiser Corporation share price) में बात की जाए तो अगर किसी निवेशक ने सालभर पहले 1 लाख रुपये का निवेश कर दिया है होता तो 37 पैसे के हिसाब से अब तक उसकी रकम 1.92 करोड़ रुपये तक पहुंच जाती। अगर किसी ने 6 महीने पहले भी इसमें 1 लाख रुपये का निवेश किया होता तो उसकी रकम इस समय 46.94 लाख रुपये हो पहुंच जाती है।

अब इस कंपनी के बारे में जानकारी देने जा रहे हैं। सितंबर, 1993 में मुंबई में इस कंपनी की शुरुआत हो गई थी और 15 मार्च, 1995 को इसे कैसर प्रेस लिमिटेड नाम से पब्लिक लिमिटेड कंपनी में बदल दिया गया है। इसके बाद 5 नवंबर 2013 को कंपनी का नाम बदलकर ‘कैसर कॉर्पोरेशन लिमिटेड’ रख दिया गया है।

Related Post