Friday, 14 June 2024

5G Service: इन शहरों में सबसे पहले 5G सर्विस की होगी शुरुआत, अश्विणी वैष्णव ने बाकी देशों से कीमत कम होने का किया दावा

नई दिल्ली: 5G स्पेक्ट्रम नीलामी (5G Service Price) की तैयारी काफी समय से शुरु हो गई है। सरकार ने स्पष्ट…

5G Service: इन शहरों में सबसे पहले 5G सर्विस की होगी शुरुआत, अश्विणी वैष्णव ने बाकी देशों से कीमत कम होने का किया दावा

नई दिल्ली: 5G स्पेक्ट्रम नीलामी (5G Service Price) की तैयारी काफी समय से शुरु हो गई है। सरकार ने स्पष्ट तौर पर कहा है कि इस साल जुलाई के अंत तक नीलामी की प्रक्रिया होने जा रही है। स्पेक्ट्रम नीलामी में देखा जाए तो टेलीकॉम कंपनियों को अलगे 20 साल को लेकर 5G स्पेक्ट्रम मिलने जा रहा है। इसकी वजह से टेलीकॉम कंपनियां 5G सर्विस को रोलआउट कर फायदा लिया जा सकता है।

आईटी मिनिस्टर अश्विनी वैष्णव ने साफ तौर पर कहा है कि 5G नेटवर्क की शुरुआत अगस्त-सितंबर में होने जा रही है।  केंद्रीय मंत्री ने साफ कर दिया है कि इस साल यानी 2022 के अंत तक देखा जाए तो देश के 20 से 25 शहरों में 5G की सर्विस की सुविधा मिल जाएगी।

जानकारी के मुताबिक 18 जून को होने वाले समिट (5G Service Price) में अश्विनी वैष्णव ने जानकारी दिया है कि भारत में 5G डेटा प्राइस दुनिया के दूसरे देशों के मुकाबले कम होने जा रहा है। काफी समय से ऑक्शन की प्रक्रिया अलगे महीने शुरू होने वाली है, लेकिन इसका बैकग्राउंड प्रॉसेस पहले से चलना शुरु हो गया था।

इन शहरों में सबसे पहले दी जाएगी सर्विस

यूनियन मिनिस्टर ने कन्फर्म कर दिया है कि इस साल के आखिर तक देश के 20 से 25 शहरों में 5G सर्विस लाइव होने जा रही है। हालांकि, सरकार के हालिया रिलीज में 5G रोलआउट के पहले फेज के लिए 13 शहरों का नाम जारी किया जा चुका है।

देश में सबसे पहले बात करें तो बैंगलोर, दिल्ली, हैदराबाद, लखनऊ, पुणे, चेन्नई, गांधीनगर, जामनगर, मुंबई, अहमदाबाद और चंडीगढ़ में 5G सर्विस मिलने वाली है।

कितनी होने जा रही है कीमत

जानकारी के मुताबिक, केंद्रीय मंत्री ने जानकारी दिया है कि भारत में औसत इंटरनेट रेट 2 डॉलर (लगभग 155 रुपये) पहुंच गया है, जबकि ग्लोबल एवरेज रेट 25 डॉलर (लगभग 1,900 रुपये) हो गया है। उन्होंने कहा कि 5G की कीमत भी इसी लाइन में होेने जा रही है।

इससे पहले बात करें तो एयरटेल के CTO रणदीप सेखोन ने ऐसा ही कुछ दावा कर दिया था। उन्होंने बताया है कि भारत में 5G सर्विस की कीमत 4G के मुकाबले बहुत ज्यादा नहीं होने जा रही है। सेखोन ने बताया है कि हम 5G स्पेक्ट्रम की नीलामी के बाद ही सर्विस की फाइनल कॉस्ट बताएंगे।

 

Related Post