Friday, 14 June 2024

सीटू ने चलाया जनसम्पर्क अभियान

नोएडा(चेतना मंच)। सरकार की गलत आर्थिक उदारीकरण की नीतियों के कारण मजदूर किसान व आम जनता की बढ़ती परेशानियों/ तकलीफों…

सीटू ने चलाया जनसम्पर्क अभियान

नोएडा(चेतना मंच)। सरकार की गलत आर्थिक उदारीकरण की नीतियों के कारण मजदूर किसान व आम जनता की बढ़ती परेशानियों/ तकलीफों के खिलाफ एवं मजदूरों, किसानों व आम जनता के विभिन्न मुद्दों को लेकर सीटू जनसंपर्क अभियान चला रही है। उक्त अभियान के तहत वाइब़ो कास्टिंग फेस-2 नोएडा के कर्मचारियों की आम सभा को संबोधित करते हुए मजदूर नेता सीटू जिलाध्यक्ष गंगेश्वर दत्त शर्मा ने कहा कि केंद्र की भाजपा की मोदी सरकार लगातार संविधान व लोकतंत्र पर हमले कर रही है। बल्कि श्रम कानूनों को खत्म कर चार श्रम संहिताओं में जबरन बदलने और किसान विरोधी एवं जन विरोधी 3 काले कृषि कानूनों को जबरन पारित कर कृषि क्षेत्र को पूंजी पतियों को सौंपने का काम किया है। साथ ही दलितों, अल्पसंख्यकों और महिलाओं पर हमले तेज कर दिए हैं। इसके खिलाफ उठने वाली आवाजों और असहमति के स्वरों को दबाने के लिए मोदी सरकार लोकतंत्र विरोधी गैर कानूनी गतिविधि निवारण कानून यूएपीए और देशद्रोह कानून सहित विभिन्न दमनकारी काले कानूनों का दुरुपयोग करते हुए राजनीति कर्ताओं व टे्ड यूनियन/किसान संगठनों के कार्यकर्ताओं को झूठे मुकदमे में फंसाकर जेल में डालने और उनको यातना देकर मौत के मुंह में धकेल ने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि उपरोक्त हालातों के खिलाफ मजदूर संगठन सीटू के कार्यकर्ता संघर्ष के मैदान में हैं। उन्होंने संयुक्त किसान मोर्चा के 27 नवंबर 2021 भारत बंद का का मजदूर संगठन सीटू की ओर से समर्थन व्यक्त किया।

Related Post