Sunday, 16 June 2024

पत्नी और दो बच्चों की हत्या कर लाशें घर में दफन की

नोएडा (चेतना मंच)। थाना बिसरख क्षेत्र के ग्रेटर नोएडा वेस्ट में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। यह खौफनाक वारदात…

पत्नी और दो बच्चों की हत्या कर लाशें घर में दफन की

नोएडा (चेतना मंच)। थाना बिसरख क्षेत्र के ग्रेटर नोएडा वेस्ट में एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। यह खौफनाक वारदात चिपयाना बुजुर्ग की पंच विहार कॉलोनी में हुई। मौके पर पहुंची ग्रेटर नोएडा और आगरा पुलिस ने जमीन में दफन किए गए तीन कंकाल खुदाई के बाद बरामद किए हैं। इनमें एक महिला व दो बच्चे शामिल हैं।

एसीपी योगेंद्र सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि तीनों कंकालों को जाच के लिए भेजा गया है। उन्होंने बताया कि ग्रेटर नोएडा वेस्ट के चिपयाना बुजुर्ग गांव के पास पंच विहार कॉलोनी में रहने वाले राकेश का उसकी पत्नी रत्नेश के साथ काफी समय से अनबन चल रही थी। कई बार उसके बच्चे अश्वनी और अर्पित माता-पिता को लड़ाई शांत कराने के लिए कहते रहते थे। आसपास के लोगों ने भी बताया कि कई बार लोगों ने दोनों को शांत कराया। लेकिन किसी को क्या पता था कि एक दिन अपनी पत्नी और बच्चे के साथ ऐसा करेगा। जिसके चलते घटना को अंजाम दिया गया।

वहीं वर्तमान में जनपद आगरा में तैनात ताजमहल की सुरक्षा में महिला कांस्टेबल से प्यार के मामले में यह वारदात घटित हुई। इतना ही नहीं हत्या करने के बाद आरोपी ने शवों को ग्रेटर नोएडा अपने घर के अंदर बेस्ट में दफना दिया तथा किसी को पता ना चले इसके लिए बेसमेंट के ऊपर सीमेंट की दीवार भी बनवा दी गई। अब 3 वर्ष बाद जनपद कासगंज की पुलिस की सक्रियता के बाद हत्या का राज खुला।

एसीपी योगेंद्र सिंह ने बताया कि आरोपी राकेश ने वर्ष (2018) में पत्नी और बच्चों की हत्या की थी। उसने खुद भी मौत का नाटक रचा था। मामले की जांच कर रही जनपद कासगंज और नोएडा पुलिस  ने मामले का खुलासा किया।

एसीपी ने बताया कि राकेश की शादी वर्ष (2012) में एटा की रहने वाली रत्नेश के साथ हुई थी। राकेश उससे शादी नहीं करना चाहता था लेकिन परिवार में दबाव के चलते शादी करनी पड़ी । राकेश का पहले से ही गांव की रहने वाली रूबी से प्रेम प्रसंग चल रहा था। वह यूपी पुलिस की कांस्टेबल के पद पर आगरा में ताजमहल की सुरक्षा में तैनात है। रूबी पुलिस में 2015 में भर्ती हुई थी। रूबी राकेश के शादी करने का दबाव बना रही थी राकेश ने 3 वर्ष पहले इसी के चलते वैलेंटाइन डे को परिवार को मौत के घाट उतार दिया।

इस मामले में चिपयाना बुजुर्ग में स्थित अपने घर में पत्नी और दोनों बच्चों को मार डाला उस समय उसकी बेटी 2 वर्ष और बेटा अर्पित 3 वर्ष का था। वहीं राकेश ने 25 अप्रैल 2021 को अपने दोस्त की हत्या कर दी। उसके शव के पास अपना आधार कार्ड और अन्य कागज रख दिए। ताकि पुलिस को यह पता चले कि उसकी हत्या हुई है। वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी पहचान छिपाकर किसी दूसरे स्थान पर रहने लगा ।जांच के बाद एटा पुलिस ने उसकी गिरफ्तारी की तो उसने अपनी पत्नी और दो बच्चों की हत्या का भी राज कबूल कर लिया ।पुलिस ने राकेश  को गिरफ्तार कर लिया है।

Related Post