Monday, 24 June 2024

एजुकेशन पूरी अब है कैरियर बनाने की बारी, इंटर्नशिप के लिए स्टार्टअप्स को चुनें

Internship from Startup : आपकी एजुकेशन प्राप्त करने की एक लिमिट होती है। आपने एजुकेशन में ग्रेजुएट या पोस्ट ग्रेजुएट…

एजुकेशन पूरी अब है कैरियर बनाने की बारी, इंटर्नशिप के लिए स्टार्टअप्स को चुनें

Internship from Startup : आपकी एजुकेशन प्राप्त करने की एक लिमिट होती है। आपने एजुकेशन में ग्रेजुएट या पोस्ट ग्रेजुएट तक की पढ़ाई पूरी कर ली है तो अब आपको कैरियर बनाने की दिशा में आगे बढऩा है। विशेषज्ञों का मत है कि आप प्राइवेट सेक्टर में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं तो आपको इंटर्नशिप के लिए स्टार्टअप्स की तरफ रूख करना चाहिए। स्टार्टअप से इंटर्नशिप करके आपको सामने कैरियर बनाने के अनगिनत अवसर मौजूद हो सकते हैं।

इंटर्नशिप के लिए स्टार्टअप है बेस्ट ऑप्शन

अपने कैरियर को गति देने के लिए इंटर्नशिप का सबसे अच्छा स्थान स्टार्टअप है। जाने-माने कैरियर विशेषज्ञ आलोक पांडे का मत है कि जून और जुलाई के महीनों के दौरान इंटर्नशिप की तलाश कर रहे छात्रों के लिए स्टार्टअप्स की ओर रुख करना एक रणनीतिक कदम हो सकता है। भारत में स्टार्टअप्स का परिदृश्य तेजी से फल-फूल रहा है, जो कॅरिअर के लिहाज से युवा पीढ़ी को भी प्रोत्साहित करती हैं। खासकर डीप टेक्नोलॉजी स्टार्टअप्स, जो अत्याधुनिक तकनीक का इस्तेमाल कर जटिल समस्याओं का हल निकाल रहे हैं। लेकिन अपने विकास के दौरान इन स्टार्टअप्स को वित्तीय सहायता और कुशल प्रतिभा का अभाव जैसी कठिन चुनौतियों का सामना करना पड़ता है। इसलिए ये स्टार्टअप्स अक्सर कॉलेजों से कुशल इंटर्न्स की भर्ती को प्राथमिकता देते हैं। यह तरीका दोनों के लिए ही लाभकारी होता है।

यह है उचित मौका

उच्च कंपनियों में जहां इंटर्न्स को केवल प्रशासनिक कार्य तक सीमित रखा जाता है, वहीं स्टार्टअप्स में इन्हें महत्वपूर्ण प्रोजेक्टस पर अपनी रचनात्मकता दिखाने का पूरा मौका मिलता है। स्टार्टअप्स से जुडक़र इंटनर्स पढाई के साथ-साथ व्यावहारिक और गतिशील वातावरण का अनुभव प्राप्त करते हैं और स्टार्टअप्स की रणनीति बनाने, निर्णय लेने और नवाचार करने की प्रक्रिया को सीखते हैं।

प्रोफेशनल से सीख सकते हैं कैरियर की बारीकी

अनुभव, कंपनी के मिशन और संस्कृति की जानकारी इंटर्न्स को पूर्णकालिक पदों के लिए आदर्श उम्मीदवार बनाती है। स्टार्टअप्स में आमतौर पर कंपनी की संस्कृति काफी लचीली होती है, जिसमें संस्थापकों और अनुभवी कर्मचारियों से मार्गदर्शन पाकर इंटर्न्स आसानी से अपना नेटवर्क बना सकते हैं। यहां इंटर्नशिप को स्थायी भूमिका में बदलने का मौका भी मिलता है। स्टार्टअप्स में इंटर्नशिप के दौरान अनुभवी पेशेवरों से सीखने का अवसर मिलता है, जो बड़ी कंपनियों में आसानी से नहीं मिल पाता।

स्टार्टअप से इंटर्नशिप करने के फायदे Internship from Startup

स्टार्टअप्स को बिना अधिक निवेश किए कुशल युवा प्राप्त होते हैं, जो नए विचार लाते हैं और टीम में नई ऊर्जा का संचार करते हैं। कम बजट में स्टार्टअप्स को इंटर्न्स के कौशल और श्रम का पर्याप्त लाभ मिलता है। साथ ही कंपनी के विकास के साथ एक मजबूत टीम का निर्माण होता है, जिससे उत्पादकता में वृद्धि होती है।

विशेष लाभ मिलने के अवसर

Internship from Startup

जहां स्टार्टअप्स को युवा प्रतिभा और नवाचार के विचार प्राप्त होते हैं, वहीं इंटर्न्स को अमूल्य हैंड्स-ऑन अनुभव मिलता है और वे उद्यमशीलता के परिदृश्य के बारे में सीखते हैं।
www.startupindia.gov पर जाकर स्टार्टअप्स में इंटर्नशिप के लिए आवेदन कर सकते हैं।
* अटल इनोवेशन मिशन (एआईएम) की वेबसाइट https://aim.gov.in/selected-atal.php पर एआईएम द्वारा स्थापित इनक्यूबेटर देखें।
* इनक्यूबेटर की वेबसाइट पर अपने क्षेत्र से जुड़े स्टार्टअप का चयन करके इंटर्नशिप के लिए आवेदन करें।

बीटेक करने वाले छात्रों के लिए बड़ी खुशखबरी, सुनहरा है बीटेक का भविष्य

Related Post